1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. अखिलेश यादव के बयान से आहत हैं केशव मौर्य, कहा-मेरे दिवंगत पिता पर टिप्पणी कर पिछड़ा वर्ग का किया अपमान

अखिलेश यादव के बयान से आहत हैं केशव मौर्य, कहा-मेरे दिवंगत पिता पर टिप्पणी कर पिछड़ा वर्ग का किया अपमान

यूपी विधानसभा बजट सत्र के दूसरे दिन डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य  (Deputy CM Keshav Prasad Maurya) और नेता विपक्ष अखिलेश यादव  (Akhilesh Yadav) के बीच तीखी नोकझोक हुई। अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने डिप्टी सीएम के लिए तू तड़ाक भाषा का भी प्रयोग किया।

By शिव मौर्या 
Updated Date

लखनऊ। यूपी विधानसभा बजट सत्र के दूसरे दिन डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य  (Deputy CM Keshav Prasad Maurya) और नेता विपक्ष अखिलेश यादव  (Akhilesh Yadav) के बीच तीखी नोकझोक हुई। अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने डिप्टी सीएम के लिए तू तड़ाक भाषा का भी प्रयोग किया। वहीं, गुरुवार को डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य (Keshav Prasad Maurya) इसको लेकर भावुक हो गए। उन्होंने कहा कि मेरे पिता नहीं हैं और अखिलेश यादव के इस बयान से मैं काफी आहत हूं।​

पढ़ें :- Maharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में सियासी उठापटक पर बोले अखिलेश यादव-ये सत्ता की भूख का विषकाल

डिप्टी सीएम ने कहा कि उन्होंने मेरे दिवंगत पिता पर टिप्पणी करके पिछड़ा वर्ग का अपमान किया है। उन्होंने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) नेको सदन में इस तरह का व्यवहार शोभा नहीं देता है। साथ ही ही कहा कि, उपनेता होने के नाते मैंने सदन में अपनी बात को रखा लेकिन नेता प्रतिपक्ष का इस तरह का व्यवहार कहीं से भी संसदीय और शिष्टाचार के अनुरूप नहीं था।

बता दें कि, बुधवार को विधानसभा सत्र के दूसरे दिन डिप्टी सीएम केशव मौर्य (Keshav Prasad Maurya) नेता प्रतिपक्षा के सवालों के जवाब दे रहे थे। इस बीच नेता प्रतिपक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने बार बार बीच में उन्हें टोक रहे थे।

अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने के एक सवाल का जवाब देते हुए डिप्‍टी सीएम ने कहा कि जो लोग सड़क, एक्‍सप्रेस-वे जैसी बातें करते हैं, ऐसा लगता है कि जैसे उन्‍होंने सैफई की जमीन बेचकर ये सब करवाया हो। इस पर नेता प्रतिपक्ष भड़क गए और कहा कि ‘तुम अपने पिजा जी से लाते हो ये सब बनवाने के लिए…’ इस पर सदन में माहौल काफी गर्म हो गया। इसके साथ ही दोनों पक्षों की तरफ से हंगामा होतो देख सीएम योगी आदित्यनाथ ने मोर्चा संभाला।

पढ़ें :- By-elections 2022: आजमगढ़ और रामपुर में 23 जून को डाले जाएंगे वोट, थम गया चुनाव प्रचार
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...