1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. CM Arvind Kejriwal का ऐलान- दिल्ली के स्कूलों में 27 सितंबर से चलेगी ‘Deshbhakti’ की पाठशाला

CM Arvind Kejriwal का ऐलान- दिल्ली के स्कूलों में 27 सितंबर से चलेगी ‘Deshbhakti’ की पाठशाला

स्वतंत्रता दिवस की 75 वीं वर्षगांठ ( 75th Independence Day ) के मौके पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्वतंत्रता दिवस पर सचिवालय भवन में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि हमारा पाठ्यक्रम भौतिकी, रसायन शास्त्र पढ़ाया जाता है लेकिन देशभक्ति की पढ़ाई नहीं होती है। सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने कहा कि यह 'देशभक्ति पाठ्यक्रम' (Deshbhakti Curriculum) हमारे बच्चों में देशभक्ति का भाव जगाएगा।

By संतोष सिंह 
Updated Date

नई दिल्ली। स्वतंत्रता दिवस की 75 वीं वर्षगांठ ( 75th Independence Day ) के मौके पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने स्वतंत्रता दिवस पर सचिवालय भवन में राष्ट्रीय ध्वज फहराया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि हमारा पाठ्यक्रम भौतिकी, रसायन शास्त्र पढ़ाया जाता है लेकिन देशभक्ति की पढ़ाई नहीं होती है। सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने कहा कि यह ‘देशभक्ति पाठ्यक्रम’ (Deshbhakti Curriculum) हमारे बच्चों में देशभक्ति का भाव (Patriotic Values) जगाएगा।

पढ़ें :- छठ पूजा पर लगी रोक के विरोध में सीएम केजरीवाल के घर के बाहर प्रदर्शन, बीजेपी सांसद मनोज तिवारी हुए चोटिल

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शहीद भगत सिंह (Shaheed Bhagat Singh) को श्रद्धांजलि (Tribute) के रूप में 27 सितंबर से दिल्ली सरकार के स्कूलों में ‘देशभक्ति पाठ्यचर्या’ की घोषणा की है।

पढ़ें :- Goa Assembly Election 2022: नौकरी, बेरोजगारी भत्ता समेत केजरीवाल के ये सात बड़े ऐलान

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने स्वतंत्रता दिवस (Independence Day ) पर टोक्यो ओलंपिक में पदक(Medals at the Tokyo Olympics) जीतने वाले सभी खिलाड़ियों को बधाई दी। उन्होंने कहा कि अब 70 पदकों के लिए तैयारी करने की जरूरत है। केजरीवाल ने कहा कि हम 2047 के बाद ओलंपिक की मेजबानी के लिए अपना पक्ष रखने की तैयारी करेंगे, हमें दिल्ली को उस स्तर तक ले जाना होगा। उन्होंने कहा कि हमने दिल्ली खेल विश्वविद्यालय स्थापित किया है, जो न सिर्फ दिल्ली वालों के लिए बल्कि पूरे देश के लिए है। हम हर किसी से यहां आने और सुविधाओं का लाभ लेने का आह्वान करते हैं।

उन्होंने कहा कि अब दिल्ली में भी सैनिक स्कूल होगा और विद्यार्थियों को सशस्त्र बलों में जाने की तैयारी के लिए दिल्ली सशस्त्र बल प्रशिक्षण अकादमी (Delhi Armed Forces Training Academy) खोलने की तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। साथ ही केजरीवाल ने यह भी ऐलान किया कि योग को जन आंदोलन बनाने के लिए, हम दिल्ली के पार्कों और कॉलोनियों में 2 अक्टूबर से योग की कक्षाएं शुरू करेंगे।

उन्होंने ऐलान किया कि भगत सिंह (Bhagat Singh)को उनकी जयंती पर श्रद्धांजलि देने के लिए दिल्ली के सभी सरकारी स्कूलों में 27 सितंबर से ‘देशभक्ति पाठ्यक्रम शुरू किया जाएगा। स्वतंत्रता के 75वें वर्ष पर एक साथ आएं और पूरे देश को देशभक्ति की भावना से भर दें। केजरीवाल ने यह भी कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्नातक की उपाधि (International Bachelor’s Degree) के संबंध में समझौता होने के बाद दिल्ली के सरकारी स्कूल अंतरराष्ट्रीय स्तर की शिक्षा दी जाएगी। इसके अलावा दिल्ली ने नवाचारों और विचारों के अनोखे तरीकों को सामने रखकर देश को शासन का मॉडल दिया है।

केजरीवाल ने कहा कि वर्क, कम्युनिटी सेंटर कॉलोनी (Community Center Colony) में जहां भी लोग चाहेंगे वहीं बनेगा। उन्होंने दिल्ली शिक्षा बोर्ड (Delhi Education Board) के गठन से लेकर अंतर्राष्ट्रीय बोर्ड (International Board)  के साथ करार की भी जानकारी दी।

केजरीवाल ने कहा कि कोविड महामारी के दौरान लोगों की जान बचाने के लिए अपने जीवन का बलिदान देने वाले डॉक्टरों और पैरा मेडिकल स्टाफ को सलाम, उनका बहुत-बहुत धन्यवाद। दिल्ली सरकार ने वैश्विक महामारी के दौरान जान गंवाने वाले फ्रंट लाइन वर्कर्स के परिवारों को एक करोड़ रुपये दिए, हम उन्हें बताना चाहते हैं कि हम उनके साथ हैं।

पढ़ें :- कहीं ब्रिज बने नियाग्रा फॉल तो कही सड़कों पर चला सकते हैं नाव, Kejriwal सरकार की खुली पोल

मुख्यमंत्री ने मोहल्ला क्लीनिक( Mohalla Clinic), मुफ्त बिजली-पानी (Free Electricity and Water)  पर भी बोलते हुए कहा कि मुझे खुशी हो रही है देश के दूसरे राज्य भी इसे फॉलो कर रहे हैं। लोगों को न्यूनतम बुनियादी जरूरत उपलब्ध कराना सरकार की जिम्मेदारी होती है। बिजली, पानी, शिक्षा और स्वास्थ्य सुविधा सरकार की जिम्मेदारी हैं और ये सभी गरीब को मिलनी चाहिए। उन्होंने कहा कि दिल्ली  मॉडल (Delhi Model) की तरह गोवा ने हर परिवार को 16 हजार लीटर पानी मुफ्त कर दिया है, अन्य सरकारें मुफ्त बिजली प्रदान करने की सोच रही हैं।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...