देवरिया जेल कांड: जेल अधीक्षक को किया गया निलंबित, माफिया अतीक पर लगे थे आरोप

atiq-ahmad
देवरिया जेल कांड: जेल अधीक्षक को किया गया निलंबित, माफिया अतीक पर लगे थे आरोप

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की देवरिया जेल में कारोबारी मोहित गुप्ता को माफिया अतीक अहमद द्वारा प्रताडि़त किये जाने के मामले में शासन ने जेल अधीक्षक दिलीप पांडेय को निलंबित कर दिया है। इस मामले की जांच में जेल अधीक्षक को दोषी पाया गया, जिसके बाद उनके खिलाफ कार्रवाई की गयी है। बताते चलें कि इससे पहले देवरिया कारागार के जेलर व डिप्टी जेलर समेत पांच जेलकर्मियों को भी निलंबित किया जा चुका है। वहीं केपी त्रिपाठी को देवरिया जेल का नया अधीक्षक नियुक्त किया गया है।

Devaria Jail Superintendent Suspended :

रियल इस्टेट कारोबारी को किया गया था अगवा

दिसंबर 2018 में लखनऊ के आलमबाग इलाके के रहने वाले कारोबारी मोहित जायसवाल को माफिया अतीक अहमद के गुर्गों ने अगवा कर लिया था। जिसके बाद मोहित को देवरिया जेल ले जाया गया। उस दौरान अतीक अहमद देवरिया जेल में ही बंद था। कारोबारी मोहित से जेल की बैरक में मारपीट की गयी थी और संपत्ति से जुड़े कई दस्तावेजों पर उसके हस्ताक्षर करा लिये गये थे। मामला प्रकाश में आने पर आलमबाग कोतवाली में अतीक अहमद समेत अन्य आरोपितों के खिलाफ एफआइआर दर्ज हुई थी।

इस बड़ी वारदात के घटने के बाद शासन ने जांच के आदेश दिये थे। इस पूरे मामले में जेल अधीक्षक व जेलर समेत छह जेलकर्मियों को निलंबित किया गया है। इस प्रकरण के बाद अतीक अहमद को देवरिया जेल से बरेली जेल ट्रांसफर कर दिया गया था। बीते 19 अप्रैल को अतीक को बरेली जिला जेल से नैनी सेंट्रल जेल स्थानान्तरित किया गया था। हालांकि अब उसे गुजरात की जेल में भेजे जाने की तैयारी है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की देवरिया जेल में कारोबारी मोहित गुप्ता को माफिया अतीक अहमद द्वारा प्रताडि़त किये जाने के मामले में शासन ने जेल अधीक्षक दिलीप पांडेय को निलंबित कर दिया है। इस मामले की जांच में जेल अधीक्षक को दोषी पाया गया, जिसके बाद उनके खिलाफ कार्रवाई की गयी है। बताते चलें कि इससे पहले देवरिया कारागार के जेलर व डिप्टी जेलर समेत पांच जेलकर्मियों को भी निलंबित किया जा चुका है। वहीं केपी त्रिपाठी को देवरिया जेल का नया अधीक्षक नियुक्त किया गया है।

रियल इस्टेट कारोबारी को किया गया था अगवा

दिसंबर 2018 में लखनऊ के आलमबाग इलाके के रहने वाले कारोबारी मोहित जायसवाल को माफिया अतीक अहमद के गुर्गों ने अगवा कर लिया था। जिसके बाद मोहित को देवरिया जेल ले जाया गया। उस दौरान अतीक अहमद देवरिया जेल में ही बंद था। कारोबारी मोहित से जेल की बैरक में मारपीट की गयी थी और संपत्ति से जुड़े कई दस्तावेजों पर उसके हस्ताक्षर करा लिये गये थे। मामला प्रकाश में आने पर आलमबाग कोतवाली में अतीक अहमद समेत अन्य आरोपितों के खिलाफ एफआइआर दर्ज हुई थी। इस बड़ी वारदात के घटने के बाद शासन ने जांच के आदेश दिये थे। इस पूरे मामले में जेल अधीक्षक व जेलर समेत छह जेलकर्मियों को निलंबित किया गया है। इस प्रकरण के बाद अतीक अहमद को देवरिया जेल से बरेली जेल ट्रांसफर कर दिया गया था। बीते 19 अप्रैल को अतीक को बरेली जिला जेल से नैनी सेंट्रल जेल स्थानान्तरित किया गया था। हालांकि अब उसे गुजरात की जेल में भेजे जाने की तैयारी है।