सियासी घमासान के बीच देवेंद्र फडणवीस ने संभाला CM पद का कार्यभार, महाराष्ट्र में हलचल तेज

Devendra Fadnavis
सियासी घमासान के बीच देवेंद्र फडणवीस ने संभाला CM पद का कार्यभार, महाराष्ट्र में हलचल तेज

मुंबई। महाराष्ट्र में जारी सियासी संघर्ष के बीच मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सीएम पद का कार्यभार संभाल लिया है।  महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय के अनुसार मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मंत्रालय पहुंचने के बाद इस कार्यकाल का पहला हस्ताक्षर मुख्यमंत्री राहत कोष की चेक पर किया। इसे मुख्यमंत्री द्वारा कुसुम वेंगुरलेकर को सौंप दिया गया था।इससे पहले महाराष्ट्र में देवेंद्र फडणवीस को सरकार बनाने के लिए राज्यपाल द्वारा दिए गए आमंत्रण के आदेश को रद करने को लेकर सु्प्रीम कोर्ट मंगलवार को शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की ओर से दायर याचिका पर फैसला सुनाएगा।

Devendra Fadnavis Takes Charge As Chief Minister Stir In Maharashtra :

महाराष्ट्र मसले पर सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई के बीच मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस विधान भवन पहुंचे और कार्यभार संभाल लिया। शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के सभी विधायक इस वक्त मुंबई के अलग-अलग होटलों में रुके हैं। रविवार रात भर शिवसेना और एनसीपी के दिग्गज नेता अपने-अपने विधायकों से मुलाकात करते रहे। शिवसेना के विधायक होटल ललित में रुके हैं तो एनसीपी के एमएलए होटल हयात में ठहरे हैं। रविवार देर रात डिप्टी सीएम अजित पवार, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मिलने उनके घर भी गए और दोनों के बीच 50 मिनट तक बातचीत हुई।

वहीं दूसरे ओर विपक्षी खेमे में रातभर मुलाकातों का सिलसिला चलता रहा और सबने एक सुर में कहा कि रात में बनी सरकार रात में ही जाएगी। आज सोमवार सुबह गवर्नर दफ्तर के अधिकारियों को समर्थन पत्र सौंपने के बाद कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने कहा कि हम मांग करते हैं कि शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए तुरंत बुलाया जाए, क्योंकि बीजेपी बहुमत साबित करने में विफल रहेगी। महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी-शिवसेना नेताओं ने सभी विधायकों के समर्थन का शपथ पत्र सौंप दिया है। यह शपथ पत्र राजभवन के अधिकारियों को सौंपा गया है।

मुंबई। महाराष्ट्र में जारी सियासी संघर्ष के बीच मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने सीएम पद का कार्यभार संभाल लिया है।  महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय के अनुसार मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मंत्रालय पहुंचने के बाद इस कार्यकाल का पहला हस्ताक्षर मुख्यमंत्री राहत कोष की चेक पर किया। इसे मुख्यमंत्री द्वारा कुसुम वेंगुरलेकर को सौंप दिया गया था।इससे पहले महाराष्ट्र में देवेंद्र फडणवीस को सरकार बनाने के लिए राज्यपाल द्वारा दिए गए आमंत्रण के आदेश को रद करने को लेकर सु्प्रीम कोर्ट मंगलवार को शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी की ओर से दायर याचिका पर फैसला सुनाएगा। महाराष्ट्र मसले पर सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई के बीच मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस विधान भवन पहुंचे और कार्यभार संभाल लिया। शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के सभी विधायक इस वक्त मुंबई के अलग-अलग होटलों में रुके हैं। रविवार रात भर शिवसेना और एनसीपी के दिग्गज नेता अपने-अपने विधायकों से मुलाकात करते रहे। शिवसेना के विधायक होटल ललित में रुके हैं तो एनसीपी के एमएलए होटल हयात में ठहरे हैं। रविवार देर रात डिप्टी सीएम अजित पवार, मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस से मिलने उनके घर भी गए और दोनों के बीच 50 मिनट तक बातचीत हुई। वहीं दूसरे ओर विपक्षी खेमे में रातभर मुलाकातों का सिलसिला चलता रहा और सबने एक सुर में कहा कि रात में बनी सरकार रात में ही जाएगी। आज सोमवार सुबह गवर्नर दफ्तर के अधिकारियों को समर्थन पत्र सौंपने के बाद कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण ने कहा कि हम मांग करते हैं कि शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए तुरंत बुलाया जाए, क्योंकि बीजेपी बहुमत साबित करने में विफल रहेगी। महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी-शिवसेना नेताओं ने सभी विधायकों के समर्थन का शपथ पत्र सौंप दिया है। यह शपथ पत्र राजभवन के अधिकारियों को सौंपा गया है।