ढाका कैफे हमला: बांग्लादेश की कोर्ट ने 7 आतंकियों को सुनाई मौत की सजा

dhaka
ढाका कैफे हमला: बांग्लादेश की कोर्ट ने 7 आतंकियों को सुनाई मौत की सजा

नई दिल्ली। बांग्लादेश की अदालत ने 2016 के ढाका कैफे हमले में 7 आतंकियों को मौत की सजा सुनाई है। 1 जुलाई, 2016 को एक कैफे पर हुए हमले में 22 लोगों की मौत हो गई थी, जिनमें ज्यादातर विदेशी नागरिक शामिल थे। कोर्ट के फैसले की जानकारी देते हुए सरकारी वकील गोलम सरवर खान ने रिपोर्ट्स को बताया कि आतंकियों के खिलाफ तमाम सबूत थे और अदालत ने उन्हें सबसे बड़ी सजा दी है।  

Dhaka Cafe Attack Bangladesh Court Sentenced 7 Terrorists To Death :

इस मामले में कोर्ट ने एक आरोपी को बरी कर दिया है। हालांकि आरोपियों पर इस सजा का कोई फर्क नहीं दिखा। कोर्ट में मौजूद एक शख्स ने बताया कि अदालत ने जैसे ही फैसला सुनाया तो खचाखच भरे कोर्ट रूम में एक आतंकी अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगाने लगा। इस आतंकी हमले ने 16 करोड़ की आबादी वाले देश को हिला दिया था। खासतौर पर दूतावासों वाले इलाके में हुए इस धमाके ने बांग्लादेश की छवि को दुनिया भर में कमजोर करने का काम किया था।

12 घंटे तक बंधक बनाने के बाद की थी हत्या

यह आतंकी हमला कितना भीषण था, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि आतंकियों ने कैफे पर हमला कर डिनर कर रहे लोगों को बंधक बना लिया था। 12 घंटे तक आतंकियों ने इन लोगों को बंधन बनाए रखा और फिर एक-एक कर कत्ल कर दिया। मारे गए लोगों में नौ इटली के नागरिक, 7 जापानी, एक अमेरिकी और एक भारतीय भी शामिल था।  

नई दिल्ली। बांग्लादेश की अदालत ने 2016 के ढाका कैफे हमले में 7 आतंकियों को मौत की सजा सुनाई है। 1 जुलाई, 2016 को एक कैफे पर हुए हमले में 22 लोगों की मौत हो गई थी, जिनमें ज्यादातर विदेशी नागरिक शामिल थे। कोर्ट के फैसले की जानकारी देते हुए सरकारी वकील गोलम सरवर खान ने रिपोर्ट्स को बताया कि आतंकियों के खिलाफ तमाम सबूत थे और अदालत ने उन्हें सबसे बड़ी सजा दी है।   इस मामले में कोर्ट ने एक आरोपी को बरी कर दिया है। हालांकि आरोपियों पर इस सजा का कोई फर्क नहीं दिखा। कोर्ट में मौजूद एक शख्स ने बताया कि अदालत ने जैसे ही फैसला सुनाया तो खचाखच भरे कोर्ट रूम में एक आतंकी अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगाने लगा। इस आतंकी हमले ने 16 करोड़ की आबादी वाले देश को हिला दिया था। खासतौर पर दूतावासों वाले इलाके में हुए इस धमाके ने बांग्लादेश की छवि को दुनिया भर में कमजोर करने का काम किया था। 12 घंटे तक बंधक बनाने के बाद की थी हत्या यह आतंकी हमला कितना भीषण था, इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि आतंकियों ने कैफे पर हमला कर डिनर कर रहे लोगों को बंधक बना लिया था। 12 घंटे तक आतंकियों ने इन लोगों को बंधन बनाए रखा और फिर एक-एक कर कत्ल कर दिया। मारे गए लोगों में नौ इटली के नागरिक, 7 जापानी, एक अमेरिकी और एक भारतीय भी शामिल था।