Dhanteras 2018: धनतेरस के दिन करें 5 रुपये वाले ये उपाय, होगा धन लाभ

Dhanteras 2018: धनतेरस के दिन करें 5 रुपये वाले ये उपाय, होगा धन लाभ
Dhanteras 2018: इस धनतेरस पर मां लक्ष्मी को चढ़ाएं ये चीज, घर में होगी बरकत

लखनऊ। धनत्रयोदशी के दिन भगवान धनवंतरी का जन्म हुआ था और इसीलिए इस दिन की पूजा धनतेरस के रूप में की जाती है। दीपावली के दो दिन पहले आने वाले इस त्योहार को लोग काफी धूमधाम से मनाते हैं। इस बार धनतेरस 5 नवंबर को पड़ रहा है। इस दिन मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए लोग अपने घर में इस्तेमाल की जाने वाली चीजें खरीदते हैं। वैसे तो हर कोई चाहता है कि मां लक्ष्मी की कृपा उस पर बनी रहे लेकिन आज हम आपको कुछ उपाय बताएंगे जो केवल पांच रुपये में मां लक्ष्मी को खुश कर देगा।

Dhanteras 2018 5 Rupees Totke Puja Tips :

मां को लगाएं कुमकुम

पांच रुपये का कुमकुम लें और उसे मां के चरणों में रखें और उसे मां को लगा कर खुद भी लगाएं। मां के कुमकुम में बहुत दम होता। इसे लगाने के बाद आपमें आत्मविश्वास आएगा और ये धन की वर्षा भी कराएगा। जब भी किसी काम के लिए निकलें मां को चढ़ाए कुमकुम को जरूर लगा लें।

मां लक्ष्मी के पदचिन्ह लगाएं

घर के मुख्य द्वार पर मां लक्ष्मी के पदचिन्ह लगाएं। पांच रुपये में ही ये पदचिन्ह खरीदें। धनतेरस पर इसे खरीदें और दीवाली वाले दिन इसे लगाएं। मां के घर में आने का ये संकेत होता है। सबसे पहले मां के चरणचिन्ह पर आरती करें और कुमकुम लगाकर उन्हें अपने घर में आमंत्रित करें। ये आपके घर में सौभाग्य का दरवाजा खोलने वाला कदम होगा।
साबुत धनिया

पांच रुपये का साबुत धनिया खरीद कर धनतेरस को लाएं और उसी दिन मां लक्ष्मी और भगवान धनवंतरी के चरणों में रखें। साथ ही भगवान से अपनी मेहनत के बल पर मिलने वाले धन की मांग करें और ये जरूर मिलेगा। बाद में इस धनिया को प्रसाद के रूप में वितरित भी करें।

बताशा

पांच रुपये का बताशा खरीदें। बताशा मां का सबसे प्रिय भोग है। सफेद बताशा धनतेरस पर ही खरीदें और उसे उसी दिन मां के चढ़ाएं।सफेद रंग मां को प्रिय है और जब उनके भोग भी सफेद होता है तो उनकी प्रसन्नता ज्यादा बढ़ती है। मां को सच्चे मन से प्रसाद चढ़ाएं और प्रार्थना करें कि जो धन आपके लिए है वह उन्हें जरूर दें।

इस दिशा में जलाएं दीपक

धनतेरस से दीप जलाने की प्रक्रिया शुरू हो जाती है लेकिन इस दिन खास कर एक दीपक रात में दक्षिण की ओर मुख करके जलाएं । एक बात याद रखें इस दीपक को खाने पीने के बाद जलाएं और जलाने के बाद इसे मुड़ कर न देखें। ये अकाल मृत्यु से बचा कर घर के लोगों को निरोग रखता है। एक बात ध्यान रखें कि ये दीपक पांच रुपये का हो।

लखनऊ। धनत्रयोदशी के दिन भगवान धनवंतरी का जन्म हुआ था और इसीलिए इस दिन की पूजा धनतेरस के रूप में की जाती है। दीपावली के दो दिन पहले आने वाले इस त्योहार को लोग काफी धूमधाम से मनाते हैं। इस बार धनतेरस 5 नवंबर को पड़ रहा है। इस दिन मां लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए लोग अपने घर में इस्तेमाल की जाने वाली चीजें खरीदते हैं। वैसे तो हर कोई चाहता है कि मां लक्ष्मी की कृपा उस पर बनी रहे लेकिन आज हम आपको कुछ उपाय बताएंगे जो केवल पांच रुपये में मां लक्ष्मी को खुश कर देगा। मां को लगाएं कुमकुम पांच रुपये का कुमकुम लें और उसे मां के चरणों में रखें और उसे मां को लगा कर खुद भी लगाएं। मां के कुमकुम में बहुत दम होता। इसे लगाने के बाद आपमें आत्मविश्वास आएगा और ये धन की वर्षा भी कराएगा। जब भी किसी काम के लिए निकलें मां को चढ़ाए कुमकुम को जरूर लगा लें। मां लक्ष्मी के पदचिन्ह लगाएं घर के मुख्य द्वार पर मां लक्ष्मी के पदचिन्ह लगाएं। पांच रुपये में ही ये पदचिन्ह खरीदें। धनतेरस पर इसे खरीदें और दीवाली वाले दिन इसे लगाएं। मां के घर में आने का ये संकेत होता है। सबसे पहले मां के चरणचिन्ह पर आरती करें और कुमकुम लगाकर उन्हें अपने घर में आमंत्रित करें। ये आपके घर में सौभाग्य का दरवाजा खोलने वाला कदम होगा। साबुत धनिया पांच रुपये का साबुत धनिया खरीद कर धनतेरस को लाएं और उसी दिन मां लक्ष्मी और भगवान धनवंतरी के चरणों में रखें। साथ ही भगवान से अपनी मेहनत के बल पर मिलने वाले धन की मांग करें और ये जरूर मिलेगा। बाद में इस धनिया को प्रसाद के रूप में वितरित भी करें। बताशा पांच रुपये का बताशा खरीदें। बताशा मां का सबसे प्रिय भोग है। सफेद बताशा धनतेरस पर ही खरीदें और उसे उसी दिन मां के चढ़ाएं।सफेद रंग मां को प्रिय है और जब उनके भोग भी सफेद होता है तो उनकी प्रसन्नता ज्यादा बढ़ती है। मां को सच्चे मन से प्रसाद चढ़ाएं और प्रार्थना करें कि जो धन आपके लिए है वह उन्हें जरूर दें। इस दिशा में जलाएं दीपक धनतेरस से दीप जलाने की प्रक्रिया शुरू हो जाती है लेकिन इस दिन खास कर एक दीपक रात में दक्षिण की ओर मुख करके जलाएं । एक बात याद रखें इस दीपक को खाने पीने के बाद जलाएं और जलाने के बाद इसे मुड़ कर न देखें। ये अकाल मृत्यु से बचा कर घर के लोगों को निरोग रखता है। एक बात ध्यान रखें कि ये दीपक पांच रुपये का हो।