1. हिन्दी समाचार
  2. एस्ट्रोलोजी
  3. धनतेरस 2021: समृद्धि देने की मान्यता वाला है ये पर्व, प्रकाश पर्व इस दिन से शुरू हो जाएगा

धनतेरस 2021: समृद्धि देने की मान्यता वाला है ये पर्व, प्रकाश पर्व इस दिन से शुरू हो जाएगा

सनातन धर्म में प्राचीन काल से ही देवी देवताओं के प्रति असीम श्रद्धा का भाव रहा है। जीवन के विभिन्न आयामों में सफलता प्राप्त करने के लिए विशेष देवी या देवता की पूजा का विधान है।

By अनूप कुमार 
Updated Date

धनतेरस 2021: सनातन धर्म में प्राचीन काल से ही देवी देवताओं के प्रति असीम श्रद्धा का भाव रहा है। जीवन के विभिन्न आयामों में सफलता प्राप्त करने के लिए विशेष देवी या देवता की पूजा का विधान है। कुबेर देव को धन का देवता माना जाता है। भगवान कुबेर देवताओं के कोषाध्यक्ष हैं। कुबेर भगवान शिव के परमप्रिय सेवक भी कहे गए हैं। इन्हें मंत्र साधना द्वारा प्रसन्न करने का विधान है। जिस तरह धनतेरस पर माता लक्ष्मी का पूजन होता है। उसी तरह कुबेर देव की भी पूजा की जाना चाहिए। सुख, समृद्धि देने की मान्यता वाला ये पर्व इस साल 2 नवंबर 2021 को मनाया जाएगा। दीपोत्सव की शुरूआत भी धनतेरस से ही होती है।

पढ़ें :- Dhanteras 2021 : आज जरूर करें ये आरती, मां लक्ष्मी की बरसेगा कृपा होंगे मालामाल

कुबेर को प्रसन्न करने का सुप्रसिद्ध मंत्र इस प्रकार है

कुबेर मंत्र

ॐ यक्षाय कुबेराय वैश्रवणाय धनधान्याधिपतये
धनधान्यसमृद्धिं मे देहि दापय स्वाहा॥

2. कुबेर धन प्राप्ति मंत्र

पढ़ें :- Dhanteras 2021: धनतेरस के दिन करें ये अचूक उपाय, मिलेगी आर्थिक संकटों से मुक्ति

ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं श्रीं क्लीं वित्तेश्वराय नमः॥
कुबेर का षोडशाक्षर मंत्र
ॐ श्री ॐ ह्रीं श्रीं ह्रीं क्लीं श्रीं क्लीं वित्तेश्वराय नम:।

धन प्राप्ति की कामना करने वाले साधकों को कुबेर जी का यह मंत्र जपना चाहिये। इसके नियमित जप से साधक को अचानक धन की प्राप्ति होती है।

3. कुबेर अष्टलक्ष्मी मंत्र
ॐ ह्रीं श्रीं क्रीं श्रीं कुबेराय अष्ट-लक्ष्मी मम गृहे धनं पुरय पुरय नमः॥

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...