धर्म बदलो नहीं तो बिस्तर यही रहेगा आदमी बदलता रहेगा

रांची। नेशनल शूटर तारा शाहदेव ने अपने पति और सास पर गंभीर आरोप लगाए हैं और उसके बाद अब सीबीआई ने चार्जशीट दायर कर दी है। तारा का आरोप है कि हिंदू बनकर धोखे से शादी करने वाले उसके पति रकीबुल उर्फ रंजीत कुमार कोहली और उसकी सास उसे इस्लाम धर्म कबूल कराने पर अड़े थे। सास और पति मिलकर उसे धमकी देते थे कि तुम्हारे सामने दो ही रास्ते हैं या तो इस्लाम धर्म स्वीकार करो नहीं तो बिस्तर यही रहेगा, लेकिन आदमी बदलता रहेगा।



सिंदूर लगाने पर भी लगते थे रोक

पीड़िता तारा ने अपनी शिकायत में बताया कि उसको सुहाग की निशानी सिंदूर लगाने पर भी रोक थी। सिंदूर लगाने पर मिलती थी हाथ तोड़ने की धमकी। शादी से पहले बड़े अफसरों के साथ पीली बत्ती वाली गाड़ी में आने वाला रकीबुल शादी के लिए प्रभावित करने के कई हथकंडे अपनाता था पर शादी होते ही पहली रात में ही उसके सामने आ गया।

दहेज के लिए भी करते थे प्रताड़ित

तारा ने पति रंजीत सिंह कोहली पर दहेज के लिए प्रताड़ित करने का भी आरोप लगाया है। सास कौशर और झारखंड हाईकोर्ट के तत्कालीन रजिस्ट्रार (विजिलेंस) मुश्ताक अहमद पर आपराधिक साजिश रचने का आरोप है। कोर्ट ने चार्जशीट और केस डायरी देखने के बाद आरोपियों के खिलाफ संज्ञान आदेश पारित कर दिया। मामले की अगली सुनवाई एक जून को होनी है। सीबीआई ने चार्जशीट में कहा है कि कोहली, कौशर और अहमद ने शादी के तुरंत बाद तारा को धर्म परिवर्तन के लिए बाध्य किया। दहेज के लिए उसे प्रताड़ित किया।



यह है पूरा मामला

आपको बता दें कि राष्ट्रीय स्तर की निशानेबाज तारा शाहदेव की कोहली से 7 जुलाई 2014 को शादी हुई थी। 23 वर्षीय शूटर का आरोप था कि रंजीत सिंह कोहली ने शादी से पहले अपना धर्म छिपाया था। तारा को जब इस बात की जानकारी हुई कि उसके पति का नाम रंजीत सिंह न होकर रकीबुल हसन है तभी उस पर अत्याचार होने लगा। तारा पर जबरन धर्म परिवर्तन करने का दबाव बनाया जाने लगा। इस मामले की जांच सीबीआई ने 2015 में शुरू की थी।