1. हिन्दी समाचार
  2. बॉलीवुड
  3. Dharmendra-Amitabh ने लोगों को कुछ इस तरह से सूर्य ग्रहण से बचाया, जाने ये पुराना किस्सा

Dharmendra-Amitabh ने लोगों को कुछ इस तरह से सूर्य ग्रहण से बचाया, जाने ये पुराना किस्सा

आज यानी 30 अप्रैल को साल का पहला सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) लगा है। आप सभी को बता दें कि आज के समय में सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) देखने के लिए लोग बहुत उत्साहित रहते हैं। जी हाँ और वह ग्लासेस और अन्य तकनीक से इस नजारे का लुत्फ उठाते हैं।

By आराधना शर्मा 
Updated Date

Bollywood news: आज यानी 30 अप्रैल को साल का पहला सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) लगा है। आप सभी को बता दें कि आज के समय में सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) देखने के लिए लोग बहुत उत्साहित रहते हैं। वह ग्लासेस और अन्य तकनीक से इस नजारे का लुत्फ उठाते हैं।

पढ़ें :- लोकल बस में छेड़छाड़ का शिकार हुई Raveena Tandon, ट्वीट कर किया बड़ा खुलासा

हालांकि हमेशा से ऐसा नहीं था। दरअसल जब तकनीक विकसित नहीं हुई थी, तब जानकार सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) को नग्न आंखों से देखने के लिए मना करते थे। ऐसा इसलिए क्योंकि इसकी किरणे बेहद हानिकारक होती हैं।

यह जानने के बावजूद लोग सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) के दौरान घर से बाहर निकलते थे और इसी वजह से आज से 44 साल पहले भारत सरकार ने लोगों को सूर्यग्रहण देखने से रोकने के लिए एक अनोखा तरीका अपनाया था।

दरअसल यह किस्सा है 16 फरवरी, 1980 का। जब सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse)  का वक्त था और सरकार को डर था कि जनता बिना किसी सुरक्षा उपाय के घरों से बाहर निकल जाएगी और सूर्य की हानिकारक किरणों की वजह से उन्हें इसका दुष्प्रभाव झेलना पड़ेगा। इस वजह से सरकार ने लोगों को घरों में कैद रखने के लिए फिल्म इंडस्ट्री का सहारा लिया।

पढ़ें :- अपनी पहली फिल्म की शूटिंग के दौरान गर्भनिरोधक गोलियां लेती थी Radhika Madan, कहा- दवाएं देख पापा हुए थे ...

जी हाँ और सरकार ने दूरदर्शन पर अमिताभ और धर्मेंद्र की फिल्म ‘चुपके चुपके’ दिखाने का फैसला किया। कहा जाता है उस जमाने में टीवी पर केवल रविवार को ही फिल्म टेलीकास्ट की जाती थी, लेकिन सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse)  के कारण शनिवार को अमिताभ बच्चन और धर्मेंद्र की फिल्म का प्रसारण किया गया था। आप सभी जानते ही होंगे अमिताभ बच्चन और धर्मेंद्र अभिनीत फिल्म ‘चुपके-चुपके’ एक कॉमेडी फिल्म थी और इसे देखने के लिए लोग घरों में बैठे थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...