1. हिन्दी समाचार
  2. IPL
  3. हार से निराश हुए धोनी, कहा-ब्रावो का चोटिल होकर बाहर जाना पड़ा महंगा

हार से निराश हुए धोनी, कहा-ब्रावो का चोटिल होकर बाहर जाना पड़ा महंगा

Dhoni Disappointed With Defeat Said Bravo Had To Go Out Injured And Expensive

By आराधना शर्मा 
Updated Date

शारजाह: दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ मिली 5 विकेट की हार से निराश चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने कहा कि अंतिम क्षणों में हरफनमौला खिलाड़ी ड्वेन ब्रावो का चोटिल होकर जाना टीम को महंगा पड़ गया।

पढ़ें :- हमने अपनी रणनीति को सही तरह से अंजाम दिया धोनी

मैच के बाद धोनी ने कहा,”ड्वेन ब्रावो का चोटिल होना टीम को महंगा पड़ा। उनके चोटिल होने के कारण मैदान से बाहर चले गए थे जिसकी वजह से आखिरी ओवर में रवींद्र जडेजा से गेंदबाजी करवनी पड़ी।” धोनी ने कहा, “ब्रावो फिट नहीं थे, वह मैदान से बाहर गए और फिर वापस नहीं आए। मेरे पास जडेजा या फिर कर्ण शर्मा से गेंदबाजी कराने का विकल्प था। मैंने जडेजा को चुना।”

धोनी ने यह भी कहा कि नाबाद शतकीय पारी खेलने वाले धवन का कैच कई बार टपकाना भी उनकी टीम को महंगा पड़ा। धवन की 58 गेंद में नाबाद 101 रन की पारी के दम पर दिल्ली कैपिटल्स ने सीएसके की ओर से रखे गए 180 रन के लक्ष्य को एक गेंद बाकी रहते 5 विकेट पर 185 रन बनाकर मैच जीत लिया।

धोनी ने कहा, “शिखर का विकेट काफी अहम था लेकिन हमने कई बार उनका कैच टपका दिया। उन्होंने बल्लेबाजी करना जारी रखा और इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट भी अच्छा था। दूसरी पारी में विकेट भी थोड़ा आसान था। हम लेकिन धवन से श्रेय वापस नहीं ले सकते है।” इस मुकाबले में सीएसके की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए फाफ डुप्लेसी (58) और अंबाती रायुडू (45) की पारियों के दम 20 ओवर में 4 विकेट खोकर 179 रन बनाए।

पढ़ें :- आईपीएल 2020: धोनी और विराट की टीम में होगी भिड़ंत, मैच से पहले कोहली ने शेयर की यह फोटो

आखिरी के ओवरों में टीम के लिए रविंद्र जडेजा ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए महज 13 गेंदों में 33 रनों की आतिशी पारी खेली, जिसके चलते सीएसके एक बड़े टोटल तक पहुंच सकी। लक्ष्य का पीछा करने उतरी दिल्ली की टीम की शुरुआत खराब रही और टीम के ओपनर पृथ्वी शॉ (0) बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए, जबकि रहाणे (8) भी बल्ले से कुछ खास नहीं कर सके। कप्तान श्रेयस अय्यर (23) के साथ मिलकर धवन ने तीसरे विकेट के लिए 68 रनों की साझेदारी की, अय्यर ब्रावो का शिकार बने।

टीम को इस मैच में जीत दर्ज करने के लिए आखिरी ओवर में 17 रनों की दरकार थी, लेकिन क्रीज पर मौजूद अक्षर पटेल ने ओवर में तीन छक्के जड़कर टीम को आसानी के साथ जीत दिला दी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...