IPL 10: धोनी का यह रूप दंग रह गए स्मिथ, हुई बोलती बंद

पुणे। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और दुनिया के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर माने जाने वाले महेंद्र सिंह धोनी ने आज एक बार फिर दिया दिया कि जब वे अपने रंग में होते है तो उन्हे रोक पाना कितना मुश्किल हो जाता है। इसीलिए उन्हे यह तमगा दिया गया है। आज आईपीएल के मैच में धोनी ने मुश्किल समय में 34 गेंदों में तीन छक्के और पांच चौकों की मदद से 61 रनों की पारी खेलते हुए राइजिंग पुणे सुपरजाएंट को…

पुणे। भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान और दुनिया के सर्वश्रेष्ठ फिनिशर माने जाने वाले महेंद्र सिंह धोनी ने आज एक बार फिर दिया दिया कि जब वे अपने रंग में होते है तो उन्हे रोक पाना कितना मुश्किल हो जाता है। इसीलिए उन्हे यह तमगा दिया गया है। आज आईपीएल के मैच में धोनी ने मुश्किल समय में 34 गेंदों में तीन छक्के और पांच चौकों की मदद से 61 रनों की पारी खेलते हुए राइजिंग पुणे सुपरजाएंट को सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ छह विकेट से जीत दिलाई। बता दें कि अभी के समय में धोनी की बल्लेबाजी की जमकर आलोचना हो रही थी। अब ऐसे समय में धोनी की यह पारी आलोचकों के मुंह पर करारा तमाचा है।



इस मैच में सनराइजर्स ने पहले बल्लेबाजी करते पुणे के सामने 177 रनों का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य रखा था। पुणे की टीम ने पूरे ओवर खेलने के बाद चार विकेट खोकर यह लक्ष्य हासिल कर लिया। धोनी का अंत में बखूबी साथ दिया मनोज तिवारी ने जिन्होंने आठ गेंदों में तीन चौकों की मदद से महत्वपूर्ण 17 रनों की पारी खेली।



लक्ष्य का पीछा करने उतरी पुणे ने अपने चार विकेट 16.1 ओवर में 121 रनों पर ही खो दिए थे। लेकिन अंत में धोनी और तिवारी ने पांचवें विकेट के लिए 3.5 ओवरों में 15.13 की औसत से 58 रनों की साझेदारी करते हुए पुणे को जीत दिलाई। अंतिम ओवर में पुणे को जीत के लिए 11 रनों की दरकार थी, जिसे धोनी ने अंतिम गेंद पर चौका जड़ हासिल कर लिया। इससे पहले बल्लेबाजी करने उतरी सनराइजर्स ने धीमी शुरुआत के बाद अंत में मोएजिज हेनरिक्स की 28 गेंदों में 55 रन और दीपक हुड्डा की 10 गेंदों में 19 रनों की तेज तर्रार पारियों के दम पर 176 का चुनौती पूर्ण स्कोर खड़ा करने में सफल रही थी।

Loading...