इस हीरा कारोबारी ने अपने कर्मचारियों को गिफ्ट की मर्सिडीज कार

mercedes car , हीरा कारोबारी , मर्सिडीज कार
इस हीरा कारोबारी ने अपने कर्मचारियों को गिफ्ट की मर्सिडीज कार

सूरत। सूरत में एक हीरा करोबारी सावजी भाई ढोलकिया ने अपनी कंपनी में ईमानदारी से 20 साल से ज्यादा समय से काम करने वाले तीन कर्मचारियों को मर्सिडीज कार गिफ्ट की है। बता दें कि हीरा कारोबारी सावजी भाई ढोलकिया ने कर्मचारियों को GLS 350d मर्सिडीज कार दी है, जिसकी कीमत एक करोड़ तीन लाख रुपये के आसपास की है। ऐसा कहा जा रहा है कि हीरा कारोबारी पहले भी दिवाली बोनस में अपने कर्मचारियों को कार, मकान और ज्वैलरी जैसी चीजें गिफ्ट कर चुके हैं।

Diamond Merchant Gifted Three Mercedes Cars To Employees :

सूरत समेत देश-विदेश में हरे कृष्णा डायमंड एक्सपोर्ट कंपनी के नाम से हीरे का कारोबार करने वाले सावजी भाई ढोलकिया ने अपनी कंपनी के मुख्य मैनेजमेंट ऑफिस में 22 साल से काम कर रहे मुकेश भाई चांदपरा, 25 साल से काम कर रहे नीलेश भाई जाडा और 27 साल से काम कर रहे महेश भाई को मर्सिडीज कार गिफ्ट की है। यही नहीं इन कर्मचारियों की तनख्वाह भी तीन लाख रुपये प्रति महीने है।

खबर है कि सड़क दुर्घटना में मृत एक कर्मचारी के परिवार को भी कंपनी की तरफ से एक करोड़ रुपये का चेक भी दिया गया। अपने कर्मचारियों के बारे में बताते हुए सावजी भाई ढोलकिया ने कहा कि वो आज जो कुछ है अपने कर्मचारियों की मेहनत और लगन की वजह से हैं। उनकी कंपनी को जीरो से हीरो तक पहुंचाने में कर्मचारियों का बहुत बड़ा योगदान है। ऐसे में भला उन्हें कैसे भुलाया जा सकता है। कर्मचारियों के लिए कुछ करने से जो खुशी मिलती है उसकी कोई सीमा नहीं है।

आपको बता दें कि सावजी भाई ढोलकिया की हरे कृष्णा डायमंड एक्सपोर्ट कंपनी में करीब आठ हजार कमर्चारी कार्यरत हैं, उनकी कंपनी का वार्षिक टर्नओवर 6 हजार करोड़ रुपये है। इससे पहले सावजी भाई ढोलकिया करीब 1200 कर्मचारियों को कार, फ्लैट और ज्वैलरी गिफ्ट कर पहली बार चर्चा में आए थे।

सूरत। सूरत में एक हीरा करोबारी सावजी भाई ढोलकिया ने अपनी कंपनी में ईमानदारी से 20 साल से ज्यादा समय से काम करने वाले तीन कर्मचारियों को मर्सिडीज कार गिफ्ट की है। बता दें कि हीरा कारोबारी सावजी भाई ढोलकिया ने कर्मचारियों को GLS 350d मर्सिडीज कार दी है, जिसकी कीमत एक करोड़ तीन लाख रुपये के आसपास की है। ऐसा कहा जा रहा है कि हीरा कारोबारी पहले भी दिवाली बोनस में अपने कर्मचारियों को कार, मकान और ज्वैलरी जैसी चीजें गिफ्ट कर चुके हैं। सूरत समेत देश-विदेश में हरे कृष्णा डायमंड एक्सपोर्ट कंपनी के नाम से हीरे का कारोबार करने वाले सावजी भाई ढोलकिया ने अपनी कंपनी के मुख्य मैनेजमेंट ऑफिस में 22 साल से काम कर रहे मुकेश भाई चांदपरा, 25 साल से काम कर रहे नीलेश भाई जाडा और 27 साल से काम कर रहे महेश भाई को मर्सिडीज कार गिफ्ट की है। यही नहीं इन कर्मचारियों की तनख्वाह भी तीन लाख रुपये प्रति महीने है। खबर है कि सड़क दुर्घटना में मृत एक कर्मचारी के परिवार को भी कंपनी की तरफ से एक करोड़ रुपये का चेक भी दिया गया। अपने कर्मचारियों के बारे में बताते हुए सावजी भाई ढोलकिया ने कहा कि वो आज जो कुछ है अपने कर्मचारियों की मेहनत और लगन की वजह से हैं। उनकी कंपनी को जीरो से हीरो तक पहुंचाने में कर्मचारियों का बहुत बड़ा योगदान है। ऐसे में भला उन्हें कैसे भुलाया जा सकता है। कर्मचारियों के लिए कुछ करने से जो खुशी मिलती है उसकी कोई सीमा नहीं है। आपको बता दें कि सावजी भाई ढोलकिया की हरे कृष्णा डायमंड एक्सपोर्ट कंपनी में करीब आठ हजार कमर्चारी कार्यरत हैं, उनकी कंपनी का वार्षिक टर्नओवर 6 हजार करोड़ रुपये है। इससे पहले सावजी भाई ढोलकिया करीब 1200 कर्मचारियों को कार, फ्लैट और ज्वैलरी गिफ्ट कर पहली बार चर्चा में आए थे।