1. हिन्दी समाचार
  2. तानाशाह किम जोंग जिंदा है या मर गया… दक्षिण कोरिया का बड़ा बयान आया सामने

तानाशाह किम जोंग जिंदा है या मर गया… दक्षिण कोरिया का बड़ा बयान आया सामने

Dictator Kim Jong Is Alive Or Died Big Statement From South Korea Came Out

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

नई दिल्ली: उत्तर कोरिया के तानाशह किम जोंग उन के स्वास्थ्य को लेकर किए जा रहे दावों और सस्पेंस के बीच दक्षिण कोरिया का बड़ा बयान सामने आया है। दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन के विदेश नीतियों के सलाहकार ने किम के सेहत को लेकर की की जारी अटकलों को सिरे से खारिज किया है। रविवार को सीएनएन चैनल से बात करते हुए उन्होंने बताया कि किम जोंग जिंदा है और बिल्कुल स्वस्थ है। चैनल से बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि किम 13 अप्रैल के बाद से ही उत्तर कोरिया के वोन्सान इलाके में रह रहा है। इससे एक दिन पहले यानी 12 अप्रैल को उसकी कार्डियोवेस्कुलर सर्जरी हुई थी। इस सर्जरी के बाद से किम के स्वास्थ्य को लेकर कई तरह की बातें सामने आ रही हैं। कई दावों में उसकी हालात बेहद खराब और मरने वाली बताई जा रही है।

पढ़ें :- 21 हजार से कम सैलरी पाने वालों के लिए खुशखबरी! अप्रैल से देशभर में मिलेंगी ये सुविधाएं

‘किम जिंदा है और स्वस्थ है’

हालांकि, दक्षिण कोरिया का कहना है कि वो बिल्कुल स्वस्थ्य है। फिलहाल किम को लेकर सस्पेंस का बाजार अब भी गर्म हैं, क्योंकि उसकी सेहत को लेकर दो अलग-अलग दावे किए जा रहे हैं। हॉन्गकॉन्ग के एक चैनल ने शनिवार देर रात दिखाई अपनी एक रिपोर्ट में उसकी मौत की बात कही। जबकि, दक्षिण कोरिया की एक मीडिया रिपोर्ट में किम के ठीक होने और एक रिजॉर्ट में रुके होने का दावा किया गया। वहीं, चीन में भी किम की मौत को लेकर मैसेज वायरस हुए थे।

बीजिंग से संचालित हॉन्गकॉन्ग के एचकेएसटीवी चैनल की रिपोर्ट में भी उसकी मौत होने की बात कही गई। उधर, इंटरनेशन बिजनेस टाइम्स की रिपोर्ट में भी कहा गया कि चीन के मैसेजिंग ऐप वीबो पर किम की मौत हो जाने के पोस्ट वायरस हो रहे हैं। बीजिंग के सूत्रों ने एक अन्य रिपोर्ट के माध्यम से बताया कि किम के हार्ट में स्टेंट डालने का ऑपरेशन गलत हो गया, क्योंकि ऑपरेशन के दौरान एक सर्जन के हाथ कांप रहे थे।

12 अप्रैल को हुई थी कार्डियोवेस्कुलर सर्जरी

पढ़ें :- कोरोना महामारी से जूझती दुनिया का सहारा बना भारत, 150 देशों को भेजी कोविड वैक्सीन की खेप

वहीं, उत्तर कोरिया के मामलों पर नजर रखने वाले दक्षिण कोरिया के अखबार डेली एनके का कहना है कि किम की 12 अप्रैल को कार्डियोवेस्कुलर सर्जरी हुई थी। इस रिपोर्ट में बताया गया कि किम की ये हालत उनके ज्यादा सिगरेट पीने की लत व मोटापे की समस्या की वजह से हुई है। साथ ही, वो बहुत ज्यादा काम रहते हैं। रिपोर्ट के अनुसार, उनका हायंगसन काउंटी स्थित विला में इलाज चल रहा था। डेली एनके ने अब बताया कि उनकी स्थिति में सुधार हैं। जिसके बाद उनकी मेडिकल टीम के ज्यादातर सदस्य 19 अप्रैल को ही राजधानी प्योंगयांग लौट आए। हालांकि, कुछ मेडिकल टीम उनकी देखभाल के लिए वहीं रुकी हुई है।

15 अप्रैल को दादा के समारोह में नहीं हुआ था शामिल

किम के सेहत को लेकर अटकलों लगनी तेज हुईं, जब वो अपने दादा के समारोह में शामिल नहीं हुआ है। 15 अप्रैल को उसके दावा और उत्तर कोरिया के संस्थापक किम इल सुंग के कार्यक्रम में उसने शिरकत नहीं की थी और ऐसा पहली बार हुआ था। इसके बाद से किम की स्वास्थ्य को लेकर कई कयास लगाए जाने शुरू हो गए।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...