क्या आपने यूज किया है Amazon का Internet ब्राउजर

Amazon Internet
क्या आपने यूज किया है Amazon का Internet ब्राउजर

ई कॉमर्स कंपनी अमेजन (Amazon) ने इंटरनेट (Internet) नाम से अपना नया एंड्रायड वेब ब्राउजर लांच किया है। कंपनी का दावा है कि यह वेब ब्राउजर स्मार्टफोन में इंस्टाल करना आसान और पूरी तरह से सुरक्षित होगा। 2 एमबी स्पेस लेने वाला यह बेव ब्राउजर यूजर के प्राइवेट डाटा को पूरी सुरक्षा प्रदान करेगा। अगर यूजर चाहे तो वह प्राइवेट मोड पर जाकर किसी भी वेबसाइट अपने प्राइवेट डेटा का सुरक्षित रखते हुए सर्फ कर सकता है।

Did You Used Amazon Web Browser Internet Android App :

इंटरनेट नाम के इस बेव ब्राउजर को अभी तक केवल एंड्रायड यूजर्स के लिए लांच किया गया है। इस ब्राउजर का लाइट, सिक्योर और फास्ट होना इसे अन्य वेब ब्राउजर्स से अलग करता है।

कंपनी का दावा है कि इंटरनेट को इंस्टाल करते समय यूजर से उसके प्राइवेट डेटा तक पहुंचने के लिए कोई परमीशन नहीं मांगी जाएगी। यूजर अपना डेटा किस वेबसर्विस के लिए शेयर करना चाहता है या नहीं यह पूरी तरह से यूजर की ईच्छा पर निर्भर करेगा। वेब ब्राउजर किसी तरह की परमीशन नहीं मांगता है।

प्राइवेट मोड जोखिम वाली वेबसाइट्स से देगा सुरक्षा —

इस वेब ब्राउजर में एप्पल के वेब ब्राउजर सफारी की तर्ज पर प्राइवेट मोड भी होगा। प्राइवेट मोड पर जाकर यूजर किसी भी ऐसी वेबसाइट पर सर्फ कर सकता है, जिन्हें लेकर उसे अपने निजिता को लेकर जोखिम का अहसास होता है।

होम पेज पर मिलेंगी खबरें —

इंटरनेट ब्राउजर बनाने वाली कंपनी अमेजन के मुताबिक यूजर के इंटरेस्ट को ध्यान में रखते हुए, होमपेज पर खबरें नजर आएंगी। जिन्हें यूजर अपनी प्राथमिकता के हिसाब से सेटिंग में जाकर कैटेगरी स्लैक्ट कर सकेगा।

क्या कहते हैं रिव्यू —

गूगल ऐप स्टोर पर इंटरनेट को लेकर आ रहे रिव्यूज पर ध्यान दें, तो इसे अब तक सकारत्मक प्रतिक्रियाएं ही मिलीं हैं। हालांकि लोगों ने इस ब्राउजर पर लगातार आने वाले विज्ञापनों को लेकर नकारात्मक प्रतिक्रिया दी है। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि यह यूसी ब्राउजर जैसा ही है। जिसमें प्राइवेट डेटा की सिक्योरिटी का दावा किया है, हालांकि यह आने वाला समय ही बताएगा कि यह कितना सिक्योर है।

ई कॉमर्स कंपनी अमेजन (Amazon) ने इंटरनेट (Internet) नाम से अपना नया एंड्रायड वेब ब्राउजर लांच किया है। कंपनी का दावा है कि यह वेब ब्राउजर स्मार्टफोन में इंस्टाल करना आसान और पूरी तरह से सुरक्षित होगा। 2 एमबी स्पेस लेने वाला यह बेव ब्राउजर यूजर के प्राइवेट डाटा को पूरी सुरक्षा प्रदान करेगा। अगर यूजर चाहे तो वह प्राइवेट मोड पर जाकर किसी भी वेबसाइट अपने प्राइवेट डेटा का सुरक्षित रखते हुए सर्फ कर सकता है।इंटरनेट नाम के इस बेव ब्राउजर को अभी तक केवल एंड्रायड यूजर्स के लिए लांच किया गया है। इस ब्राउजर का लाइट, सिक्योर और फास्ट होना इसे अन्य वेब ब्राउजर्स से अलग करता है।कंपनी का दावा है कि इंटरनेट को इंस्टाल करते समय यूजर से उसके प्राइवेट डेटा तक पहुंचने के लिए कोई परमीशन नहीं मांगी जाएगी। यूजर अपना डेटा किस वेबसर्विस के लिए शेयर करना चाहता है या नहीं यह पूरी तरह से यूजर की ईच्छा पर निर्भर करेगा। वेब ब्राउजर किसी तरह की परमीशन नहीं मांगता है।

प्राइवेट मोड जोखिम वाली वेबसाइट्स से देगा सुरक्षा —

इस वेब ब्राउजर में एप्पल के वेब ब्राउजर सफारी की तर्ज पर प्राइवेट मोड भी होगा। प्राइवेट मोड पर जाकर यूजर किसी भी ऐसी वेबसाइट पर सर्फ कर सकता है, जिन्हें लेकर उसे अपने निजिता को लेकर जोखिम का अहसास होता है।

होम पेज पर मिलेंगी खबरें —

इंटरनेट ब्राउजर बनाने वाली कंपनी अमेजन के मुताबिक यूजर के इंटरेस्ट को ध्यान में रखते हुए, होमपेज पर खबरें नजर आएंगी। जिन्हें यूजर अपनी प्राथमिकता के हिसाब से सेटिंग में जाकर कैटेगरी स्लैक्ट कर सकेगा।

क्या कहते हैं रिव्यू —

गूगल ऐप स्टोर पर इंटरनेट को लेकर आ रहे रिव्यूज पर ध्यान दें, तो इसे अब तक सकारत्मक प्रतिक्रियाएं ही मिलीं हैं। हालांकि लोगों ने इस ब्राउजर पर लगातार आने वाले विज्ञापनों को लेकर नकारात्मक प्रतिक्रिया दी है। वहीं कुछ लोगों का कहना है कि यह यूसी ब्राउजर जैसा ही है। जिसमें प्राइवेट डेटा की सिक्योरिटी का दावा किया है, हालांकि यह आने वाला समय ही बताएगा कि यह कितना सिक्योर है।