1. हिन्दी समाचार
  2. क्षेत्रीय
  3. औचक निरीक्षण पर निकले डीआईजी को नशे में धुत मिला एएसआई, सहरसा जिले का मामला

औचक निरीक्षण पर निकले डीआईजी को नशे में धुत मिला एएसआई, सहरसा जिले का मामला

By शिव मौर्या 
Updated Date

सहरसा। बिहार में पिछले ​कई सालों से शराब बंदी लागू है। शराब पर पाबंदी नीतीश सरकार की सबसे बड़ी उपलब्धि के रुप में गिनाई जाती है। इस बार के विधानसभा के चुनाव में अपनी सरकार बनने की प्रमुख वजह भी सरकार ने शराब के पूर्ण पाबंदी को बताया था। लेकिन आये दिन बिहार में शराब से जुड़े रोचक मामले सामने आते रहते हैं। इस बार मामला सामने आया है बिहार के सहरसा जिले से जहां एक एएसआई को शराब के नशे में धुत पाया गया है।

पढ़ें :- बीजेपी सरकार से हट जाए, तीन महीने में जातीय जनगणना करके दिखाएं समाजवादी लोग : अखिलेश यादव

औचक निरीक्षण पर निकले कोसी डीआईजी ने औचक निरीक्षण के दौरान सौरबाजार थाने में तैनात एएसआई ओमप्रकाश राम को शराब के नशे में पाया। ब्रेथ इनेलाइजर से जांच में पुष्टि होने के बाद एएसआई के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई है। कुछ दिन पहले ही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पदाधिकारियों को सख्त निर्देश दिया था कि विशेष अभियान चलाकर शराब की आपूर्ति और वितरण चेन को ध्वस्त करें। शराब के धंधे में लिप्त बड़े लोगों की गिरफ्तारी करें।

असली धंधेबाज को पकड़ने में सख्ती दिखाएं। मुख्यमंत्री ने कहा कि शराबबंदी के पूर्व जो शराब के व्यवसाय से जुड़े थे, अब वे किस कार्य में लगे हैं, उन पर विशेष नजर रखें। कहा कि राज्य की अधिकतर जनता शराबबंदी के पक्ष में है। कोरोना काल में भी चिकित्सकों ने शराब न पीने की सलाह दी है। एक रिपोर्ट में बताया गया है कि शराब पीने वालों पर कोरोना वैक्सीन का असर कम हो जाता है।

 

पढ़ें :- सपा ने राष्ट्रीय कार्यकारिणी की संशोधित सूची जारी की,सवर्णों को भी मिली जगह
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...