दिग्विजय सिंह की मांग, बाबा रामदेव को भी ढ़ोंगी घोषित करे अखाड़ा परिषद्

दिग्विजय सिंह की मांग, बाबा रामदेव को भी ढ़ोंगी घोषित करे अखाड़ा परिषद्

लखनऊ। कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और बयान वीर नेता दिग्विजय सिंह एक बार फिर सुर्खियों में हैं। सोमवार को दिग्विजय सिंह ने बाबा रामदेव पर निशाना साधा है। सिंह का कहना है कि अखाड़ा परिषद् 14 फर्जी सनातन सन्यासियों की लिस्ट में बाबा रामदेव के नाम को भी शामिल किया जाए।

दिग्विजय सिंह ने अपनी इस मांग को ट्विटर के जरिए उठाया है। उन्होंने कहा कि वह सम्मानीय अखाड़ा परिषद से विनम्र अनुरोध करते हैं कि फर्जी सतानत सन्यासियों की सूची में बा​बा रामदेव का नाम भी शामिल करें।

{ यह भी पढ़ें:- पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने मोदी समर्थकों को दी गाली, पीएम थे निशाना }

एक दूसरे ट्वीट में दिग्विजय सिंह ने अखाड़ा परिषद् के समक्ष तर्क रखते हुए पूछा है कि क्या मनु स्मृति में किसी भगवा वस्त्र पहनने वाले को व्यापार करने की स्वीकृति है?

दिग्विजय सिंह के ट्वीट बताते हैं कि वह निजी तौर पर बाबा रामदेव से अपनी दुश्मनी निभाना चाहते हैं। शायद उन्हें भी यह बात मालूम है कि आखाड़ा परिषद् उनके कहने से योगगुरु बाबा रामदेव के खिलाफ नहीं जाएगा।

आपको बता दें कि रविवार को अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद की ओर से देश के 14 फर्जी बाबाओं के नामों की लिस्ट जारी की थी। इस लिस्ट में बलात्कार के आरोपी आसाराम बापू, नारायण साईं, बाबा गुरमीत सिंह और ओम स्वामी समेंत 14 लोगों के नाम शामिल थे।

{ यह भी पढ़ें:- अखाड़ा परिषद ने जारी की फर्जी बाबाओं की सूची, सामूहिक बहिष्कार का एलान }