दिग्विजय सिंह का विवादास्पद बयान, बोले- इस्लाम की तरह हिंदुओं की कट्टरता भी खतरनाक

digvijay singh
दिग्विजय सिंह का विवादास्पद बयान, बोले- इस्लाम की तरह हिंदुओं की कट्टरता भी खतरनाक

नई दिल्ली। कांग्रेस के दिग्गज नेता व मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा। दिग्विजय सिंह ने कहा कि जिस तरह से मुस्लिमों की कट्टरता खतरनाक है, उसी तरह हिंदुओं की भी कट्टरता खतरनाक है। उन्होंने कहा कि अगर बहुसंख्यक आबादी का संप्रदायीकरण होता है तो देश के लिए बड़ी मुश्किल होगी।  

Digvijay Singh Says Radicalisation Of Hindus As Dangerous As Of Muslims :

दिग्विजय सिंह ने बुधवार को इंदौर में ये विवादित बयान दिया। उन्होंने कहा कि इमरान खान का अतिवादी (रेडिकल) इस्लाम जितना खतरनाक है, उतना ही खतरनाक उग्र हिंदुत्व भी है। उन्होंने इमरान को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री जी कहकर भी संबोधित किया।  

दिग्विजय सिंह ने कहा, ‘नफरत की एक बात हर घर में पहुंचा दी है। जब नारा लगता था हर-हर मोदी, घर-घर मोदी तो वाकई में नफरत की आग नरेंद्र मोदी जी और उस विचारधारा ने हर घर में पहुंचा दी है। मैं इस बात को मानता हूं कि सांप्रदायिक्ता का भूत बोतल में जब तक बंद है तब तक बंद है। एक बार निकल गया तो इसको वापस बोतल में डालना आसान नहीं है।’  

उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तान में हमने देखा, इमरान खान जो रेडिकल मुस्लिम की बात कर रहे हैं उसका जो काउंटर है वो है रेडिकलाइजेशन ऑफ हिन्दू। रेडिकलाइजेशन ऑफ हिन्दू उतना ही खतरनाक है जितना कि रेडिकलाइजेशन ऑफ मुस्लिम्स। पंडित नेहरू ने कहा था कि बहुसंख्यकों का सांप्रदायिकरण अल्पसंख्यकों के सांप्रदायिकरण से ज्यादा खतरनाक होती है।’

उन्होंने कहा, ‘आज जो हालात आप पाकिस्तान में देख रहे हैं जहां बहुसंख्यकों का सांप्रदायिकरण हुआ है, वही हालात अगर भारत में हो जाए, बहुसंख्यकों का सांप्रदायिकरण हो जाए तो इससे देश को बचाना आसान नहीं होगा।’

नई दिल्ली। कांग्रेस के दिग्गज नेता व मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम दिग्विजय सिंह ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा। दिग्विजय सिंह ने कहा कि जिस तरह से मुस्लिमों की कट्टरता खतरनाक है, उसी तरह हिंदुओं की भी कट्टरता खतरनाक है। उन्होंने कहा कि अगर बहुसंख्यक आबादी का संप्रदायीकरण होता है तो देश के लिए बड़ी मुश्किल होगी।   दिग्विजय सिंह ने बुधवार को इंदौर में ये विवादित बयान दिया। उन्होंने कहा कि इमरान खान का अतिवादी (रेडिकल) इस्लाम जितना खतरनाक है, उतना ही खतरनाक उग्र हिंदुत्व भी है। उन्होंने इमरान को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री जी कहकर भी संबोधित किया।   दिग्विजय सिंह ने कहा, 'नफरत की एक बात हर घर में पहुंचा दी है। जब नारा लगता था हर-हर मोदी, घर-घर मोदी तो वाकई में नफरत की आग नरेंद्र मोदी जी और उस विचारधारा ने हर घर में पहुंचा दी है। मैं इस बात को मानता हूं कि सांप्रदायिक्ता का भूत बोतल में जब तक बंद है तब तक बंद है। एक बार निकल गया तो इसको वापस बोतल में डालना आसान नहीं है।'   उन्होंने कहा, 'पाकिस्तान में हमने देखा, इमरान खान जो रेडिकल मुस्लिम की बात कर रहे हैं उसका जो काउंटर है वो है रेडिकलाइजेशन ऑफ हिन्दू। रेडिकलाइजेशन ऑफ हिन्दू उतना ही खतरनाक है जितना कि रेडिकलाइजेशन ऑफ मुस्लिम्स। पंडित नेहरू ने कहा था कि बहुसंख्यकों का सांप्रदायिकरण अल्पसंख्यकों के सांप्रदायिकरण से ज्यादा खतरनाक होती है।' उन्होंने कहा, 'आज जो हालात आप पाकिस्तान में देख रहे हैं जहां बहुसंख्यकों का सांप्रदायिकरण हुआ है, वही हालात अगर भारत में हो जाए, बहुसंख्यकों का सांप्रदायिकरण हो जाए तो इससे देश को बचाना आसान नहीं होगा।'