शिवसेना-एनसीपी में तकरार, सीएम उद्धव ने कहा-मुस्लिम आरक्षण पर अभी कोई प्रस्ताव नहीं

thakare
शिवसेना-एनसीपी में तकरार, सीएम उद्धव ने कहा-मुस्लिम आरक्षण पर अभी कोई प्रस्ताव नहीं

मुंबई। महाराष्ट्र के शिक्षा में मुसलमानों को पांच प्रतिशत आरक्षण को लेकर शिवसेना और एनसीपी आमने—सामने हैं। सीएम उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को कहा है कि अभी ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं आया है। सीएम का यह बयान एनसीपी नेता नवाब मलिक के बयान के बाद आया है।

Dispute In Shiv Sena Ncp Cm Uddhav Said No Proposal On Muslim Reservation Yet :

महाराष्ट्र के अल्पसंख्यक के मंत्री नवाब मलिक ने शनिवार को कहा था कि राज्य सरकार मुस्लिमों को शैक्षणिक संस्थानों में पांच प्रतिशत आरक्षण देना सुनिश्चित करेगी और इसे कानूनी प्रतिक्रिया के जरिए पूरी की जायेगी।

मलिक ने कहा था कि मुस्ल्मि समुदाय को आरक्षण देने के विषय पर पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में महाराष्ट्र भाजपा के नेता लोगों के बीच भ्रम पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन महा विकास आघाडी सभी आशंकाओं को दूर कर देगी।

नवाब मलिक के इसी बयान पर उद्धव ठाकरे ने कहा कि, ‘मुसलमानों को पांच प्रतिशत आरक्षण देने का मुद्दा अभी आधिकारिक रूप से मेरे सामने नहीं आया है। हमें अभी इसपर अपना रुख तय करना है।’

मुंबई। महाराष्ट्र के शिक्षा में मुसलमानों को पांच प्रतिशत आरक्षण को लेकर शिवसेना और एनसीपी आमने—सामने हैं। सीएम उद्धव ठाकरे ने मंगलवार को कहा है कि अभी ऐसा कोई प्रस्ताव नहीं आया है। सीएम का यह बयान एनसीपी नेता नवाब मलिक के बयान के बाद आया है। महाराष्ट्र के अल्पसंख्यक के मंत्री नवाब मलिक ने शनिवार को कहा था कि राज्य सरकार मुस्लिमों को शैक्षणिक संस्थानों में पांच प्रतिशत आरक्षण देना सुनिश्चित करेगी और इसे कानूनी प्रतिक्रिया के जरिए पूरी की जायेगी। मलिक ने कहा था कि मुस्ल्मि समुदाय को आरक्षण देने के विषय पर पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व में महाराष्ट्र भाजपा के नेता लोगों के बीच भ्रम पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं लेकिन महा विकास आघाडी सभी आशंकाओं को दूर कर देगी। नवाब मलिक के इसी बयान पर उद्धव ठाकरे ने कहा कि, 'मुसलमानों को पांच प्रतिशत आरक्षण देने का मुद्दा अभी आधिकारिक रूप से मेरे सामने नहीं आया है। हमें अभी इसपर अपना रुख तय करना है।'