विवादित बयान पर साध्वी प्रज्ञा दिल्ली तलब, कहा था-हम नाली साफ करवाने के लिए नहीं बने सांसद

sadhvi
विवादित बयान पर साध्वी प्रज्ञा दिल्ली तलब, कहा था—हम नाली साफ करवाने के लिए नहीं बने सांसद

नई दिल्ली। भोपाल से सासंद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर एक बार फिर विवादों में हैं। लोकसभा चुनाव के दौरान से ही वह सुर्खियों में बनी हुई हैं। ताजा मामला मध्यप्रदेश के सीहोर में एक कार्यक्रम के दौरान का है, जब साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि हम नाली साफ करवाने के लिए सांसद नहीं बने हैं। साध्वी के इस बयान के बाद से बीजेपी नेतृत्व इससे बेहद नाराज है।

Disputed Statement Sadhvi Pragya :

इसको लेकर उन्हें दिल्ली मुख्यालय तलब किय गया है। चर्चा है कि, पार्टी उन पर कार्रवाई कर सकती है, जिसके कारण उन्हें दिल्ली बुलाया गया है। प्रज्ञा दिल्ली में भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और महासचिव (संगठन) बीएल संतोष से मुलाकात करेंगी। दोबारा सत्ता में आने के बाद भाजपा अपनी छवि को लेकर थोड़ा सजग है और वह विरोधियों को किसी भी तरह हमला करने का मौका नहीं देना चाहती है।

बता दें कि, मध्यप्रदेश के सीहोर में प्रज्ञा ने कहा, ‘हम नाली साफ करवाने के लिए सांसद नहीं बने हैं। आपका शौचालय साफ करवाने के लिए बिलकुल नहीं बने हैं। हम जिस काम के लिए बनाए दए हैं, वह काम ईमानदारी के साथ करेंगे।’

नई दिल्ली। भोपाल से सासंद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर एक बार फिर विवादों में हैं। लोकसभा चुनाव के दौरान से ही वह सुर्खियों में बनी हुई हैं। ताजा मामला मध्यप्रदेश के सीहोर में एक कार्यक्रम के दौरान का है, जब साध्वी प्रज्ञा ने कहा कि हम नाली साफ करवाने के लिए सांसद नहीं बने हैं। साध्वी के इस बयान के बाद से बीजेपी नेतृत्व इससे बेहद नाराज है। इसको लेकर उन्हें दिल्ली मुख्यालय तलब किय गया है। चर्चा है कि, पार्टी उन पर कार्रवाई कर सकती है, जिसके कारण उन्हें दिल्ली बुलाया गया है। प्रज्ञा दिल्ली में भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और महासचिव (संगठन) बीएल संतोष से मुलाकात करेंगी। दोबारा सत्ता में आने के बाद भाजपा अपनी छवि को लेकर थोड़ा सजग है और वह विरोधियों को किसी भी तरह हमला करने का मौका नहीं देना चाहती है। बता दें कि, मध्यप्रदेश के सीहोर में प्रज्ञा ने कहा, 'हम नाली साफ करवाने के लिए सांसद नहीं बने हैं। आपका शौचालय साफ करवाने के लिए बिलकुल नहीं बने हैं। हम जिस काम के लिए बनाए दए हैं, वह काम ईमानदारी के साथ करेंगे।'