1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. क्या आजम खान और अखिलेश के बीच मिट गई दूरियां, जानिए कपिल सिब्बल में इसमें भूमिका?

क्या आजम खान और अखिलेश के बीच मिट गई दूरियां, जानिए कपिल सिब्बल में इसमें भूमिका?

Rajya Sabha Elections : कांग्रेस से बीते 16 मई को इस्तीफा देने का ऐलान करते हुए सुप्रीम कोर्ट के​ वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने बुधवार को नामांकन कर दिया है। समाजवादी पार्टी ने उन्हें राज्यसभा का प्रत्याशी बनाया है। इस बीच कपिल सिब्बल राज्यसभा पद के लिए नामांकन करने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान उनके साथ सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव और राम गोपाल यादव भी मौजूद रहे। वहीं, अभी तक दो नामों का अधिकारिक ऐलान सपा ने नहीं किया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Rajya Sabha Elections : कांग्रेस से बीते 16 मई को इस्तीफा देने का ऐलान करते हुए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) के​ वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल (Kapil Sibal)  ने बुधवार को नामांकन कर दिया है। समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party)  ने उन्हें राज्यसभा का प्रत्याशी बनाया है। इस बीच कपिल सिब्बल (Kapil Sibal) राज्यसभा पद के लिए नामांकन करने के लिए पहुंचे थे। इस दौरान उनके साथ सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav,)  और राम गोपाल यादव (Ram Gopal Yadav) भी मौजूद रहे। वहीं, अभी तक दो नामों का अधिकारिक ऐलान सपा ने नहीं किया है।

पढ़ें :- अग्निपथ योजना के विरोध में कांग्रेस  का सभी विधानसभा क्षेत्रों में ‘सत्याग्रह’ आज

राज्यसभा सीट से नामांकन करने के बाद कपिल सिब्बल ने कहा कि 2024 में लोकसभा चुनाव में मोदी सरकार (Modi Government)की हार सुनिश्चित करने के लिए विपक्ष को मजबूत करने की दिशा में काम करेंगे। हालांकि इस दौरान उन्होंने कांग्रेस पार्टी (Congress Party) पर कोई हमला नहीं बोला है।

समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के के कद्दावर नेता आजम खान ने बीते मंगलवार को मीडिया से बातचीत में कहा था कि यदि पार्टी सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता कपिल सिब्बल (Kapil Sibal)  को राज्यसभा भेजती है। तो अच्छी बात है। उन्होंने कहा था कि कपिल सिब्बल (Kapil Sibal)  को राज्यसभा भेजे जाने से मुझे सबसे ज्यादा खुशी होगी। इससे पहले भी वह कपिल सिब्बल (Kapil Sibal)  की तारीफ करते हुए उनके प्रति आभार जता चुके हैं।

आजम खान (Aazam Khan)ने यह भी कहा था कि रामपुर से वह उपचुनाव नहीं लड़ेंगे। कोई भाई उम्मीदवार हो उन्हें कोई दिक्कत नहीं होगी। सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव (SP Patron Mulayam Singh Yadav) से मुलाकात के सवाल पर आजम ने कहा कि वह बड़े नेता हैं और अपनी मर्जी के मालिक हैं। उनके बारे में कोई कमेंट नहीं किया जा सकता है।

पढ़ें :- राहुल का मोदी से बड़ा सवाल, कहा- क्या ‘नए भारत’ में सिर्फ़ ‘मित्रों’ की सुनवाई होगी, देश के वीरों की नहीं?
इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...