गौरक्षा की आड़ में हत्या स्वीकार नहीं, कानून पर भरोसा रखें: पीएम मोदी

Do Not Accept Murder Under Guwahati Trust The Law Pm Modi

गुजरात। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को गुजरात स्थित सावरमती आश्रम के 100वी सालगिरह पर आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे। जहां उन्होने देश की हालिया स्थिति पर चिंता जाहीर की। जनता के सम्बोधन के शुरुआती दौर में ही पीएम ने नाराजगी जाहीर करते हुए कहा कि समाज में कुछ लोग गौ हत्या के नाम पर अहिंसा फैला रहे है जिसकी समाज में कोई जगह नहीं है।

इस कार्यक्रम में जनता के सम्बोधन के दौरान मोदी थोड़े भावुक नज़र आए। जनता के समक्ष महात्मा गांधी और विनोबा भावे का उढहरण पेश करते हुए पीएम ने कहा कि आज के समय में गांधी और विनोबा जैसा गौभक्त कौन है, ऐसे लोगों ने भी गौ मटा की सेवा की थी लेकिन गौभक्ति की आड़ में अपनी गलत मंशा पूरा करना बिलकुल जायज नहीं है। अपनी बात करते हुए मोदी ने कहा ‘मैंने गौरक्षा करने को कहा था इसकी आड़ में अहिंसा और हत्या करने को नहीं।’ मोदी ने चेतावनी के रूप में कहा कि गौ-भक्ति के नाम पर लोगों की हत्या स्वीकार नहीं की जा सकती।’

मोदी ने कहा कि हम हम अहिंसा का देश हैं। हम महात्मा गांधी की भूमि हैं हम यह क्यों भूल जाते हैं? पीएम ने कहा कि गाय के नाम पर लोगों को मारना गलत है। कानून अपना काम करेगा, किसी को कानन में हाथ लेने का अधिकार नहीं है।उन्होंने कहा कि गांधी जी के विचारों में विश्व की आज की समस्याओं से निपटने की शक्ति है।इस दौरान पीएम मोदी ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के गुरु माने जाने वाले श्रीमद राजचंद्र पर स्मारक डाक टिकट और सिक्का जारी किया। मोदी ने कहा कि मैं लोगों से अपील करता हूं कि वे साबरमती आश्रम आएं।

गुजरात। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गुरुवार को गुजरात स्थित सावरमती आश्रम के 100वी सालगिरह पर आयोजित एक कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंचे। जहां उन्होने देश की हालिया स्थिति पर चिंता जाहीर की। जनता के सम्बोधन के शुरुआती दौर में ही पीएम ने नाराजगी जाहीर करते हुए कहा कि समाज में कुछ लोग गौ हत्या के नाम पर अहिंसा फैला रहे है जिसकी समाज में कोई जगह नहीं है। इस कार्यक्रम में जनता के सम्बोधन के दौरान मोदी थोड़े भावुक नज़र आए।…