Karva Chauth 2019: सुहागिन महिलाएं भूल से भी इस दिन न करें ये काम

तो इसलिए करवा चौथ के दिन छलनी से चांद देखती हैं सुहागिन महिलाएं
तो इसलिए करवा चौथ के दिन छलनी से चांद देखती हैं सुहागिन महिलाएं

लखनऊ। इस बार सुहागिनों का त्योहार करवा चौथ 17 अक्टूबर को पड़ रहा है। बता दें कि कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को करवा चौथ का पर्व मनाया जाता है इस दिन महिलाएं अपने अखंड सुहाग और पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं और पूजा करती हैं। व्रत के दौरान महिलाएं पूरे दिन निर्जला व्रत रखती हैं और रात में सोलह श्रृंगार कर चंद्रमा की पूजा करती हैं और चांद को छन्नी में देखने के बाद पति के दर्शन करती हैं और अपने व्रत को खोलती हैं। आपको बता दें कि इस दिन महिलाओं के लिए कुछ काम वर्जित माने जाते हैं। ऐसे में अगर आप इन कामों को भूल से भी न करें अन्यथा पूजा का फल नहीं मिलेगा।

Do Not Do These Things On Karva Chauth 2019 :

इन बातों का रखें ध्यान

न पहने काले कपड़े

  • इस दिन महिलाओं को भूलकर भी काले वस्त्र धारण करने की गलती नहीं करनी चाहिए।
  • इसके अलावा सफेद साड़ी पहनने से भी बचना चाहिए।
  • काला रंग सुहागिन महिलाओं के लिए अशुभ फलदायी माना जाता है।
  • कैंची और चाकू का इस्तेमाल करने से बचेइस दिन कैंची का प्रयोग भूल से भी न करें।
  • इतना ही नहीं बल्कि उसे कहीं छुपा दें ताकि वो दिखे भी नहीं।
  • इस खास दिन महिलाओं को चाकू का इस्तेमाल करने की भी मनाही होती है।

किसी की बुराई न करें

  • खाली बैठकर इस दिन आप किसी की निंदा मत करें।
  • किसी की चुगली या बुराई करने से व्रत का फल नहीं मिलता है।
  • इसके अलावा अपने बड़ों का निरादर भी न करें।

मधुर भाषा में करें बात

  • पति-पत्नी को हमेशा कोशिश करनी चाहिए कि वो एक दूसरे से प्यार से बाते करें, आपस में कोई विवाद न करें।
  • कोई विवाहित महिला सारा दिन निराजल व्रत रखने के बाद भी अपने पति को डांटती है या उसका अपमान करती है तो उसका सारा व्रत बेकार हो जाता है।

श्रृंगार में इन चीजों का रखें ध्यान

  • श्रृंगार करते समय जो चूड़ियां टूट जाये उनको बहते जल में प्रवाहित करें न कि घर में रखें।
  • सुहाग सामग्री जैसे, चूड़ी, लहठी, बिंदी, सिंदूर को कचड़े में नहीं फेंके।
  • श्रृंगार करते समय अपने सुहाग की लंबी उम्र के लिए कामना करें।
  • इसके अलावा पति के अलावा किसी का चिंतन किसी भी स्थिति में मत करें।
लखनऊ। इस बार सुहागिनों का त्योहार करवा चौथ 17 अक्टूबर को पड़ रहा है। बता दें कि कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को करवा चौथ का पर्व मनाया जाता है इस दिन महिलाएं अपने अखंड सुहाग और पति की लंबी उम्र के लिए व्रत रखती हैं और पूजा करती हैं। व्रत के दौरान महिलाएं पूरे दिन निर्जला व्रत रखती हैं और रात में सोलह श्रृंगार कर चंद्रमा की पूजा करती हैं और चांद को छन्नी में देखने के बाद पति के दर्शन करती हैं और अपने व्रत को खोलती हैं। आपको बता दें कि इस दिन महिलाओं के लिए कुछ काम वर्जित माने जाते हैं। ऐसे में अगर आप इन कामों को भूल से भी न करें अन्यथा पूजा का फल नहीं मिलेगा। इन बातों का रखें ध्यान न पहने काले कपड़े
  • इस दिन महिलाओं को भूलकर भी काले वस्त्र धारण करने की गलती नहीं करनी चाहिए।
  • इसके अलावा सफेद साड़ी पहनने से भी बचना चाहिए।
  • काला रंग सुहागिन महिलाओं के लिए अशुभ फलदायी माना जाता है।
  • कैंची और चाकू का इस्तेमाल करने से बचेइस दिन कैंची का प्रयोग भूल से भी न करें।
  • इतना ही नहीं बल्कि उसे कहीं छुपा दें ताकि वो दिखे भी नहीं।
  • इस खास दिन महिलाओं को चाकू का इस्तेमाल करने की भी मनाही होती है।
किसी की बुराई न करें
  • खाली बैठकर इस दिन आप किसी की निंदा मत करें।
  • किसी की चुगली या बुराई करने से व्रत का फल नहीं मिलता है।
  • इसके अलावा अपने बड़ों का निरादर भी न करें।
मधुर भाषा में करें बात
  • पति-पत्नी को हमेशा कोशिश करनी चाहिए कि वो एक दूसरे से प्यार से बाते करें, आपस में कोई विवाद न करें।
  • कोई विवाहित महिला सारा दिन निराजल व्रत रखने के बाद भी अपने पति को डांटती है या उसका अपमान करती है तो उसका सारा व्रत बेकार हो जाता है।
श्रृंगार में इन चीजों का रखें ध्यान
  • श्रृंगार करते समय जो चूड़ियां टूट जाये उनको बहते जल में प्रवाहित करें न कि घर में रखें।
  • सुहाग सामग्री जैसे, चूड़ी, लहठी, बिंदी, सिंदूर को कचड़े में नहीं फेंके।
  • श्रृंगार करते समय अपने सुहाग की लंबी उम्र के लिए कामना करें।
  • इसके अलावा पति के अलावा किसी का चिंतन किसी भी स्थिति में मत करें।