पेशाब का रंग देख कर अनदेखा ना करें, ये रंग खोलता है आपके शरीर के कईं सारे राज़

Urethritis-Peshab-Me-Jalan

नई दिल्ली: भागदौड़ भरी इस जिदंगी में बीमारियों का पता लगा पाना बड़ा ही मुश्किल होता है। आपने बुजुर्गों को अक्सर ये बोलते सुना होगा कि हमारे जमाने में तो इतनी बीमारियां नहीं हुआ करती थीं। ना जाने अब कहां से ये नई- नई बीमारियां आ रही हैं। तो उनका कहना बिल्कुल सही है। इस बदलते वातावरण में बीमारियां ने भी अपना दायरा बढ़ा लिया है। और लोगों को तरह- तरह की बीमारियां हो रही हैं। आपके शरीर में कब कौन सी बीमारी प्रवेश कर जाए, इसका पता आपको भी नहीं चल पाता।

Do Not Ignore The Color Of Urine This Color Opens Many Secrets Of Your Body :

शरीर में होने वाली बीमारियां का पता तो हम बहुत से तरीके से लगा सकते हैं। लेकिन एक तरीका ऐसा है, जिसमें ज्यादा मेहनत भी नहीं है और ना ही कोर्ई खर्च। इसके जरिए आप अपने शरीर में होने वाले बीमारियां का पता आसानी से लगा सकते हैं। जी हां, अगर आप अपने पेशाब पर ध्यान देंगे तो ये आपके शरीर के बहुत सारे राज बताती है। आपके पेशाब का रंग बताता है कि आपके शरीर के किस अंग में दिक्कत है। वैसे तो मानव शरीर का हर अंग महत्वपूर्ण है लेकिन हमारे शरीर में सबसे ज्यादा महत्व गुर्दे का है क्योंकि गुर्दा हमारे शरीर से गंदगी को साफ करने में अहम भूमिका निभाता है, और अगर जरा सी भी गड़बड़ होती है तो हमें पेशाब के रंग के जरिए पता चल जाता है क्योंकि पेशाब का रंग बदलना आपके शरीर के अंदर रोग के जन्म लेने के संकेत होते हैं।

हल्का पीला रंग-

अगर आपके पेशाब का रंग हल्का पीला या फिर पानी की तरह है, तो आपको घबराने की कोई जरुरत नहीं है। क्योंकि ये आपके बिल्कुल स्वस्थ होने का संकेत है।

पीला रंग-

आपने कई बार देखा होगा कि पेशाब का रंग पीला होने लगता है। ऐसा तभी होता है जब आपके शरीर में पानी की कमी हो गई है। उसके बाद अगर आप पानी अच्छे से पीते हैं तो ये परेशानी भी दूर हो जाएगी।

गाढ़ा पीला रंग-

अगर किसी को गाढ़ा पीला रंग का पेशाब होता है, तो ये चिंता वाली बात है और ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए। क्योंकि गाढ़ा पीले रंग का पेशाब ये बताता है कि आपके लिवर में कोई ना कोई दिक्कत तो जरुर है या फिर आपको हेपेटाइटिस बीमारी ने घेर लिया है।

दूधिया सफेद रंग –

अगर आप का पेशाब दूधिया सफेद रंग का है तो इसका मतलब है कि आप के पेशाब में बैक्टीरिया बन चुके हैं। क्योंकि ऐसा तब होता है जब आपके मूत्र मार्ग के रास्ते में संक्रमण पैदा हो जाए। या फिर आपकी किडनी में पथरी बनने लगी है। इस तरह के संकेत आने पर आप डॉक्टर से एक बार जरूर जांच करवाएं।

लाल या हल्का गुलाबी रंग-

अगर आपका पेशाब लाल या फिर हल्के गुलाबी रंग का है, तो ये बहुत ही चिंता वाली बात हो सकती है, क्योंकि ऐसा तभी होता है जब आपके शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं टूटने लगती हैं और उसके बाद आपके पेशाब में मिल जाती हैं। इससे किसी की जान भी जा सकती है, इसलिए ऐसे संकेत लगने पर तुरंत डॉक्टर के पास जाएं। लेकिन ये भी ध्यान रखें कि अगर आपने गाजर या चुकंदर खाया है तब भी ऐसा हो सकता है। लेकिन हमेशा ऐसे रंग का पेशाब आना अच्छे संकेत तो बिल्कुल भी नहीं हैं।

नारंगी रंग-

अक्सर जब हम ज्यादा दवाईयों का सेवन करते हैं तो हमारा पेशाब नारंगी रंग का होता है। ऐसे में घबराने वाली कोई बात नहीं होती है। बाद में सब ठीक हो जाता है।

नई दिल्ली: भागदौड़ भरी इस जिदंगी में बीमारियों का पता लगा पाना बड़ा ही मुश्किल होता है। आपने बुजुर्गों को अक्सर ये बोलते सुना होगा कि हमारे जमाने में तो इतनी बीमारियां नहीं हुआ करती थीं। ना जाने अब कहां से ये नई- नई बीमारियां आ रही हैं। तो उनका कहना बिल्कुल सही है। इस बदलते वातावरण में बीमारियां ने भी अपना दायरा बढ़ा लिया है। और लोगों को तरह- तरह की बीमारियां हो रही हैं। आपके शरीर में कब कौन सी बीमारी प्रवेश कर जाए, इसका पता आपको भी नहीं चल पाता। शरीर में होने वाली बीमारियां का पता तो हम बहुत से तरीके से लगा सकते हैं। लेकिन एक तरीका ऐसा है, जिसमें ज्यादा मेहनत भी नहीं है और ना ही कोर्ई खर्च। इसके जरिए आप अपने शरीर में होने वाले बीमारियां का पता आसानी से लगा सकते हैं। जी हां, अगर आप अपने पेशाब पर ध्यान देंगे तो ये आपके शरीर के बहुत सारे राज बताती है। आपके पेशाब का रंग बताता है कि आपके शरीर के किस अंग में दिक्कत है। वैसे तो मानव शरीर का हर अंग महत्वपूर्ण है लेकिन हमारे शरीर में सबसे ज्यादा महत्व गुर्दे का है क्योंकि गुर्दा हमारे शरीर से गंदगी को साफ करने में अहम भूमिका निभाता है, और अगर जरा सी भी गड़बड़ होती है तो हमें पेशाब के रंग के जरिए पता चल जाता है क्योंकि पेशाब का रंग बदलना आपके शरीर के अंदर रोग के जन्म लेने के संकेत होते हैं। हल्का पीला रंग- अगर आपके पेशाब का रंग हल्का पीला या फिर पानी की तरह है, तो आपको घबराने की कोई जरुरत नहीं है। क्योंकि ये आपके बिल्कुल स्वस्थ होने का संकेत है। पीला रंग- आपने कई बार देखा होगा कि पेशाब का रंग पीला होने लगता है। ऐसा तभी होता है जब आपके शरीर में पानी की कमी हो गई है। उसके बाद अगर आप पानी अच्छे से पीते हैं तो ये परेशानी भी दूर हो जाएगी। गाढ़ा पीला रंग- अगर किसी को गाढ़ा पीला रंग का पेशाब होता है, तो ये चिंता वाली बात है और ऐसे में आपको तुरंत डॉक्टर के पास जाना चाहिए। क्योंकि गाढ़ा पीले रंग का पेशाब ये बताता है कि आपके लिवर में कोई ना कोई दिक्कत तो जरुर है या फिर आपको हेपेटाइटिस बीमारी ने घेर लिया है। दूधिया सफेद रंग – अगर आप का पेशाब दूधिया सफेद रंग का है तो इसका मतलब है कि आप के पेशाब में बैक्टीरिया बन चुके हैं। क्योंकि ऐसा तब होता है जब आपके मूत्र मार्ग के रास्ते में संक्रमण पैदा हो जाए। या फिर आपकी किडनी में पथरी बनने लगी है। इस तरह के संकेत आने पर आप डॉक्टर से एक बार जरूर जांच करवाएं। लाल या हल्का गुलाबी रंग- अगर आपका पेशाब लाल या फिर हल्के गुलाबी रंग का है, तो ये बहुत ही चिंता वाली बात हो सकती है, क्योंकि ऐसा तभी होता है जब आपके शरीर में लाल रक्त कोशिकाएं टूटने लगती हैं और उसके बाद आपके पेशाब में मिल जाती हैं। इससे किसी की जान भी जा सकती है, इसलिए ऐसे संकेत लगने पर तुरंत डॉक्टर के पास जाएं। लेकिन ये भी ध्यान रखें कि अगर आपने गाजर या चुकंदर खाया है तब भी ऐसा हो सकता है। लेकिन हमेशा ऐसे रंग का पेशाब आना अच्छे संकेत तो बिल्कुल भी नहीं हैं। नारंगी रंग- अक्सर जब हम ज्यादा दवाईयों का सेवन करते हैं तो हमारा पेशाब नारंगी रंग का होता है। ऐसे में घबराने वाली कोई बात नहीं होती है। बाद में सब ठीक हो जाता है।