बाढ़ पीड़ितों की मदद में लापरवाही बर्दाश्त नहीं : योगी आदित्यनाथ

बलरामपुर । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को कहा कि प्रदेश में कहीं पर भी बाढ़ पीड़ितों के प्रति थोड़ी सी भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। बाढ़ पीड़ितों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं होने दी जाएगी।

मुख्यमंत्री योगी शुक्रवार को बाढ़ग्रस्त बलरामपुर के दौरे पर आए थे। स्पोर्ट्स स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने बाढ़ पीड़ितों को राहत सामग्री वितरित की।

{ यह भी पढ़ें:- ट्रेनी IAS को भाजपा सांसद की धमकी- ऐसा नहीं किया तो जीना मुश्किल कर देंगे }

योगी ने कहा, मेरा यहां आने का उद्देश्य बाढ़ पीड़ितों के प्रति संवेदना व्यक्त करना है। मैं देखने आया हूं कि बाढ़ पीड़ितों को राहत कार्य का फायदा मिल रहा है या नहीं। बाढ़ पीड़ितों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं होने दी जाएगी। बाढ़ में फंसे मवेशियों के लिए चारे का भी इंतजाम किया गया है। जिन लोगों कच्चे पक्के मकान बाढ़ में ढह गए हैं, उन्हें सहायता उपलब्ध कराई जाएगी।

उन्होंने कहा, बाढ़ग्रस्त जिलों में पर्याप्त मात्रा में राहत सामग्री मुहैया करा दी गई है। उसे यथाशीघ्र बाढ़ पीड़ितों तक पहुंचाने की जिम्मेदारी अधिकारियों की है। बाढ़ पीड़ितों की मदद में लापरवाही बरतने वाले अफसरों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। हर जगह पर जनप्रतिनिधि प्रशासन के साथ मिलकर बाढ़ पीड़ितों की पूरी मदद करें।

{ यह भी पढ़ें:- योगी कैबिनेट ने 'यूपीकोका' को दी मंजूरी, कई अहम प्रस्ताओं पर लगी मुहर }

मुख्यमंत्री ने कहा, बाढ़ में फसल की काफी क्षति हुई है। अधिकारियों से कहा गया है कि वे अभी से क्षति का आकलन शुरू कर दें, जिससे जल्द से जल्द पीड़ितों को मुआवजा दिया जा सके।

योगी ने स्वयंसेवी संस्थाओं व व्यापारियों से भी बाढ़ पीड़ितों के मदद करने की अपील की।

उन्होंने कहा, हर साल उप्र के दर्जनभर जिलों में नेपाल की नदियों का छोड़ा गया पानी तबाही मचाता है। बाढ़ से बचाव के स्थाई प्रबंध करने होंगे। बाढ़ निकलने के बाद इस विषय पर व्यापक कार्ययोजना तैयार की जाएगी।

{ यह भी पढ़ें:- योगी दरबार में पहुंची डॉक्टर कफील की मां, 400 फरियादियों की सुनी समस्याएं }

Loading...