क्या आप जानते हैं राष्ट्रपति होने के साथ हजारों वेबसाइट्स के मालिक भी हैं ट्रंप

trump-750x400

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पॉवर से हर कोई वाकिफ है। उनके पास पैसे की कमी नहीं है। वे एक आलीशान जिंदगी जीते हैं। उनके बारे में ये सभी बातें तो हर कोई जानता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि डोनाल्ड ट्रंप कई वेबसाइट्स के मालिक भी हैं। वे एक, दो या तीन नहीं बल्कि 3,643 वेबसाइट्स के मालिक हैं। उनके नाम का गलत इस्तेमाल न किया जाए, इसके लिए उन्होंने ट्रंपफ्रॉड और ट्रंपस्कैम जैसी वेबसाइट्स भी खरीद लीं। हालांकि ज्यादातर वेबसाइट्स तो बेकार और खाली पड़ी हैं। सिर्फ 50 ऐसी साइट्स हैं जो ट्रंप के काम आती हैं।

Do You Know There Are Also Thousands Of Websites With The President Being Trump :

आपको शयद न पता हो आज ट्रंप के नाम पर 3643 वेबसाइट्स चल रही हैं। इनके नाम भी बड़े अजीब हैं। जैसे ट्रंपएंपायर.कॉम, ट्रंपनेटवर्कपोंजीस्कीम, ट्रंपफ्रॉड आदि। इनमें से 93 वेबसाइट्स उन्होंने राष्ट्रपति बनने के बाद खरीदी हैं। उन्होंने पहली वेबसाइट डोनाल्डजेट्रंप 20 जनवरी 1997 को खरीदी थी।

ट्रंपएम्पायरडॉटकॉम मेक्सिको के इंजीनियर की वेबसाइट थी। ट्रंप ने इसे मात्र 10 डॉलर में खरीदा था। उनका सोचना था कि ये साइट उनके प्रॉपर्टी बिजनेस में बहुत काम आएगी, लेकिन सालों तक इस साइट पर कोई डील नहीं हुई तो ये अब तक बेकार और फालतू पड़ी हुई है। उन्होंने अब तक इसे रिन्यू भी नहीं कराया है।

वैसे ट्रंप को अगर वेबसाइट की जरूरत हो या ना हो, वो बेमतलब में भी वेबसाइट्स खरीदते हैं। ट्रंपऑर्गेनाइजेशन और ट्रंपबिल्डिंग तो उन्होंने अपना बिजनेस बढ़ाने की मकसद से खरीदी थी, लेकिन ट्रंप स्कैम और ट्रंप फ्रॉड तो ऐसी वेबसाइट्स हैं, जिसे उन्होंने सिर्फ इसलिए खरीदा ताकि कोई उनके नाम का गलत इस्तेमाल न कर पाए। सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार ट्रंप ने ट्रंपनेटवर्क.कॉम को 2007 में खरीदा था और ट्रंपमल्टीलेवलमार्केटिंग, ट्रंपफ्रॉड और ट्रंपनेटवर्कपॉजीस्कीम जैसी करीब 15 वेबसाइट्स खरीद ली थीं।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पॉवर से हर कोई वाकिफ है। उनके पास पैसे की कमी नहीं है। वे एक आलीशान जिंदगी जीते हैं। उनके बारे में ये सभी बातें तो हर कोई जानता है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि डोनाल्ड ट्रंप कई वेबसाइट्स के मालिक भी हैं। वे एक, दो या तीन नहीं बल्कि 3,643 वेबसाइट्स के मालिक हैं। उनके नाम का गलत इस्तेमाल न किया जाए, इसके लिए उन्होंने ट्रंपफ्रॉड और ट्रंपस्कैम जैसी वेबसाइट्स भी खरीद लीं। हालांकि ज्यादातर वेबसाइट्स तो बेकार और खाली पड़ी हैं। सिर्फ 50 ऐसी साइट्स हैं जो ट्रंप के काम आती हैं।आपको शयद न पता हो आज ट्रंप के नाम पर 3643 वेबसाइट्स चल रही हैं। इनके नाम भी बड़े अजीब हैं। जैसे ट्रंपएंपायर.कॉम, ट्रंपनेटवर्कपोंजीस्कीम, ट्रंपफ्रॉड आदि। इनमें से 93 वेबसाइट्स उन्होंने राष्ट्रपति बनने के बाद खरीदी हैं। उन्होंने पहली वेबसाइट डोनाल्डजेट्रंप 20 जनवरी 1997 को खरीदी थी।ट्रंपएम्पायरडॉटकॉम मेक्सिको के इंजीनियर की वेबसाइट थी। ट्रंप ने इसे मात्र 10 डॉलर में खरीदा था। उनका सोचना था कि ये साइट उनके प्रॉपर्टी बिजनेस में बहुत काम आएगी, लेकिन सालों तक इस साइट पर कोई डील नहीं हुई तो ये अब तक बेकार और फालतू पड़ी हुई है। उन्होंने अब तक इसे रिन्यू भी नहीं कराया है।वैसे ट्रंप को अगर वेबसाइट की जरूरत हो या ना हो, वो बेमतलब में भी वेबसाइट्स खरीदते हैं। ट्रंपऑर्गेनाइजेशन और ट्रंपबिल्डिंग तो उन्होंने अपना बिजनेस बढ़ाने की मकसद से खरीदी थी, लेकिन ट्रंप स्कैम और ट्रंप फ्रॉड तो ऐसी वेबसाइट्स हैं, जिसे उन्होंने सिर्फ इसलिए खरीदा ताकि कोई उनके नाम का गलत इस्तेमाल न कर पाए। सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार ट्रंप ने ट्रंपनेटवर्क.कॉम को 2007 में खरीदा था और ट्रंपमल्टीलेवलमार्केटिंग, ट्रंपफ्रॉड और ट्रंपनेटवर्कपॉजीस्कीम जैसी करीब 15 वेबसाइट्स खरीद ली थीं।