हे भगवान! बुजुर्ग महिला के पित्ताशय से निकालीं 838 पथरियां

Doctors Discover 838 Gallbladder Stones In 60 Year Old Woman

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के फोर्टिस अस्पताल में डॉक्टरों की टीम ने एक बुजुर्ग महिला के पित्ताशय का सफल ऑपरेशन कर 838 पथरियां निकाली हैं। अस्पताल का दावा है कि पित्ताशय से इतनी अधिक संख्या में पथरियां निकाला जाना अब तक का एक रिकार्ड है। इस ऑपरेशन को शालीमार बाग स्थित फोर्टिस अस्पताल के गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल सर्जरी विभाग के डाक्टर अमित जावेद के नेतृत्व में विशेषज्ञों की एक टीम ने अंजाम दिया।




ऑपरेशन के लिए लैप्रोस्कापिक सर्जरी की विधि अपनाई गई। डॉक्टर जावेद ने ऑपरेशन की जटिलताओं और मरीज के स्वास्य की स्थिति का हवाला देते हुए बताया कि पित्ताशय में पथरी का ऑपरेशन कोई नई बात नहीं है, लेकिन यह मामला अपने आप में काफी अलग था। उन्होंने बताया कि महिला मरीज की आयु 60 वर्ष, उसे उच्च रक्तचाप और दिल की बीमारी होने के कारण आपेरशन करना काफी कठिन काम था। मरीज को पेट में दर्द ,जी मिचलाने और बुखार की शिकायत बार-बार होने पर ऐसा संदेह किया गया कि उसे पित्ताशय का कैंसर हो सकता है।




उन्होंने बताया कि इस आधार पर पित्ताशय का सीटी स्कैन और अल्ट्रासाउंड कराया गया। अल्ट्रासाउंड में रोगी के पित्ताशय में असामान्य सूजन थी। पित्ताशय की दीवारें भी अपेक्षाकृत काफी मोटी हो गई थीं। इस पर लैप्रोस्कोपिक तकनीक से पित्ताशय का ऑपरेशन किया गया। पित्ताशय को साथ लगे लीवर के हिस्से के साथ हटाया गया और किसी तरह के संक्रमण से बचाव के लिए एक पाउच में रखा गया। पित्ताशय को खोलने पर उसमें छोटी बड़ी 838 पथरियां पायी गयीं।

नई दिल्ली: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के फोर्टिस अस्पताल में डॉक्टरों की टीम ने एक बुजुर्ग महिला के पित्ताशय का सफल ऑपरेशन कर 838 पथरियां निकाली हैं। अस्पताल का दावा है कि पित्ताशय से इतनी अधिक संख्या में पथरियां निकाला जाना अब तक का एक रिकार्ड है। इस ऑपरेशन को शालीमार बाग स्थित फोर्टिस अस्पताल के गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल सर्जरी विभाग के डाक्टर अमित जावेद के नेतृत्व में विशेषज्ञों की एक टीम ने अंजाम दिया। ऑपरेशन के लिए लैप्रोस्कापिक सर्जरी की विधि अपनाई…