1. हिन्दी समाचार
  2. दुनिया
  3. Dollar Vs Rupees : रुपया पहली बार 81 के पार , डॉलर के मुकाबले अब तक का सबसे निचला स्तर

Dollar Vs Rupees : रुपया पहली बार 81 के पार , डॉलर के मुकाबले अब तक का सबसे निचला स्तर

Dollar Vs Rupees : डॉलर (Dollar) के मुकाबले रुपये (Rupees) में लगातार दूसरे दिन गिरावट देखने को मिली है। रुपया अब तक के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया है। रुपया शुक्रवार को 41 पैसे की गिरावट के साथ डॉलर के मुकाबले 81.20 के ऑल-टाइम लो (All-Time Low) पर पहुंच गया है। यूएस ट्रेजरी यील्ड्स (US Treasury Yields) के कई साल के हाई पर पहुंचने और इंपोर्टर्स की तरफ से डॉलर (Dollar)  की ऊंची डिमांड के कारण रुपये में यह गिरावट आई है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Dollar Vs Rupees : डॉलर (Dollar) के मुकाबले रुपये (Rupees) में लगातार दूसरे दिन गिरावट देखने को मिली है। रुपया अब तक के सबसे निचले स्तर पर पहुंच गया है। रुपया शुक्रवार को 41 पैसे की गिरावट के साथ डॉलर के मुकाबले 81.20 के ऑल-टाइम लो (All-Time Low) पर पहुंच गया है। यूएस ट्रेजरी यील्ड्स (US Treasury Yields) के कई साल के हाई पर पहुंचने और इंपोर्टर्स की तरफ से डॉलर (Dollar)  की ऊंची डिमांड के कारण रुपये में यह गिरावट आई है। रुपये में गुरुवार को फरवरी के बाद से सबसे बड़ी सिंगल सेशन पर्सेंटेज (Single Session Percentage) गिरावट आई थी। डॉलर (Dollar)  के मुकाबले गुरुवार को रुपये में 99 पैसे की गिरावट आई थी।

पढ़ें :- Dollar Vs Rupees : शुरुआती ट्रेंड में 80.47 के रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंचा, 20 साल के हाई पर डॉलर

यूएस बॉन्ड यील्ड्स में 4.1 पर्सेंट का उछाल

यूएस डॉलर इंडेक्स (US Dollar Index) 111 की रेंज के ऊपर बना हुआ है। वहीं, यूएस बॉन्ड यील्ड्स (US Federal Reserve)  में 4.1 पर्सेंट का उछाल आया है। ट्रेडर्स का कहना है कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) की तरफ से आक्रामक तरीके से दखल न दिए जाने और यूएस फेडरल रिजर्व (US Federal Reserve) के रेट आउटलुक के कारण रुपये में गिरावट देखने को मिली है। 10 साल की अवधि वाले यूएस ट्रेजरी यील्ड (US Treasury Yields)  में 3.70 पर्सेंट और दो साल वाले ट्रेजरी यील्ड में 4.16 पर्सेंट का उछाल आया है।

 आने वाले समय में रुपया 81.80 से 82 रुपये तक जा सकता है

यूएस डॉलर (US Dollar)के मुकाबले रुपया गुरुवार को 80.86 रुपये के रिकॉर्ड लो पर बंद हुआ था। वहीं, बुधवार को रुपया 79.97 के स्तर पर था। डॉलर इंडेक्स (Dollar Index) शुक्रवार को 111.35 के स्तर पर लगभग फ्लैट रहा, यह दो दशक के अपने हाई 111.81 के करीब रहा। डॉलर इंडेक्स (Dollar Index)  गुरुवार को इस स्तर पर पहुंचा था। एशियन करेंसीज (Asian Currencies) में गुरुवार को रुपया सबसे ज्यादा गिरावट वाली करेंसीज में रहा। एनालिस्ट्स का कहना है कि रुपये में और गिरावट देखने को मिल सकती है। CR फॉरेक्स ए़डवायजर्स ने एक नोट में कहा है कि शॉर्ट टर्म में रुपया नए लो को टेस्ट कर सकता है। हमारा मानना है कि आने वाले समय में रुपया 81.80 से 82 रुपये तक जा सकता है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...