पाकिस्तान के इस काम से खुश होकर डोनाल्ड ट्रंप के मुंह से निकले मीठे बोल

वाशिंगटन: पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा एक अमेरिकी-कनाडाई दंपती को हक्कानी आतंकी नेटवर्क से सुरक्षित मुक्त कराने के एक दिन बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि उन्होंने पाकिस्तान के साथ बेहतर रिश्ते विकसित करने की शुरुआत कर दी है. अमेरिकी नागरिक कैटलान कोलमैन और उनके कनाडाई पति जोशुआ बॉयल को उनके तीन बच्चों के साथ हक्कानी नेटवर्क से गुरुवार को पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने सुरक्षित बचाकर बाहर निकाला. अमेरिकी अधिकारियों से मिली खुफिया सूचना के आधार पर पाकिस्तानी सुरक्षाबलों ने यह अभियान चलाया गया था.

Donald Trump On Pakistan :

इस दंपती का अपहरण साल 2015 में अफगानिस्तान में उनके बैकपैकिंग ट्रिप के दौरान हुआ था. कैद में रहने के दौरान ही दंपत्ति के तीन बच्चों का जन्म हुआ था. ट्रंप ने इससे पहले पाकिस्तान की आलोचना उसके द्वारा आतंकवादियों को लगातार दिए जा रहे समर्थन की वजह से करते हुए चेतावनी दी थी कि अगर इस्लामाबाद का यही रवैया रहा तो उसे इसके परिणाम भुगतने होंगे. ट्रंप की यह टिप्पणी अगस्त में अफगान और दक्षिण एशिया नीति की घोषणा करने के दौरान आई थी. कई मोर्चों पर अमेरिका के साथ सहयोग करने के लिए ट्रंप ने पाकिस्तान को शुक्रिया अदा किया.

डोनाल्ड ट्रंप ने एक ट्वीट में कहा, पाकिस्तान और इसके नेताओं के साथ एक बेहतर रिश्ते का विकास शुरू हो रहा है. मैं कई मोर्चों पर उनके सहयोग के लिए धन्यवाद कहना चाहता हूं.’ डेमोक्रेटिक सांसद टेड ल्यू ने कहा कि वह इस पर ट्रंप से सहमत हैं. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान महत्वपूर्ण सहयोगी है.’’ इससे पहले अमेरिका के उप राष्ट्रपति माइक पेंस ने अमेरिकी नागरिक को सुरक्षित मुक्त कराने के लिए पाकिस्तान की प्रशंसा की थी.

इसी बीच कनाडा की सरकार ने हक्कानी आतंकी नेटवर्स से सुरक्षित बाहर आने पर जोशुआ बॉयल, उनकी पत्नी कैटलन कोलमैन और तीनों बच्चों के कनाडा आने का स्वागत किया.

वाशिंगटन: पाकिस्तानी सुरक्षा बलों द्वारा एक अमेरिकी-कनाडाई दंपती को हक्कानी आतंकी नेटवर्क से सुरक्षित मुक्त कराने के एक दिन बाद अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि उन्होंने पाकिस्तान के साथ बेहतर रिश्ते विकसित करने की शुरुआत कर दी है. अमेरिकी नागरिक कैटलान कोलमैन और उनके कनाडाई पति जोशुआ बॉयल को उनके तीन बच्चों के साथ हक्कानी नेटवर्क से गुरुवार को पाकिस्तानी सुरक्षा बलों ने सुरक्षित बचाकर बाहर निकाला. अमेरिकी अधिकारियों से मिली खुफिया सूचना के आधार पर पाकिस्तानी सुरक्षाबलों ने यह अभियान चलाया गया था. इस दंपती का अपहरण साल 2015 में अफगानिस्तान में उनके बैकपैकिंग ट्रिप के दौरान हुआ था. कैद में रहने के दौरान ही दंपत्ति के तीन बच्चों का जन्म हुआ था. ट्रंप ने इससे पहले पाकिस्तान की आलोचना उसके द्वारा आतंकवादियों को लगातार दिए जा रहे समर्थन की वजह से करते हुए चेतावनी दी थी कि अगर इस्लामाबाद का यही रवैया रहा तो उसे इसके परिणाम भुगतने होंगे. ट्रंप की यह टिप्पणी अगस्त में अफगान और दक्षिण एशिया नीति की घोषणा करने के दौरान आई थी. कई मोर्चों पर अमेरिका के साथ सहयोग करने के लिए ट्रंप ने पाकिस्तान को शुक्रिया अदा किया. डोनाल्ड ट्रंप ने एक ट्वीट में कहा, पाकिस्तान और इसके नेताओं के साथ एक बेहतर रिश्ते का विकास शुरू हो रहा है. मैं कई मोर्चों पर उनके सहयोग के लिए धन्यवाद कहना चाहता हूं.' डेमोक्रेटिक सांसद टेड ल्यू ने कहा कि वह इस पर ट्रंप से सहमत हैं. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्तान महत्वपूर्ण सहयोगी है.’’ इससे पहले अमेरिका के उप राष्ट्रपति माइक पेंस ने अमेरिकी नागरिक को सुरक्षित मुक्त कराने के लिए पाकिस्तान की प्रशंसा की थी. इसी बीच कनाडा की सरकार ने हक्कानी आतंकी नेटवर्स से सुरक्षित बाहर आने पर जोशुआ बॉयल, उनकी पत्नी कैटलन कोलमैन और तीनों बच्चों के कनाडा आने का स्वागत किया.