डोनाल्ड ट्रंप और CNN के पत्रकार के बीच तीखी बहस, सस्पेंड किया प्रेस पास

डोनाल्ड ट्रंप और CNN के पत्रकार के बीच तीखी बहस, सस्पेंड किया प्रेस पास
डोनाल्ड ट्रंप और CNN के पत्रकार के बीच तीखी बहस, सस्पेंड किया प्रेस पास

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रति डोनाल्ड ट्रंप और सीएनएन के पत्रकार जिम एकोस्टा के बीच एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान तीखी बहस हो गई दरअसल, प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के दौरान ट्रंप से सवाल पूछने की ‘सख्‍त मनाही’ है। लेकिन सीएनएन के रिपोर्टर ने इसके बावजूद एक तीखा सवाल ट्रंप पर दागा, जिसका उसे भुगतना पड़ा है। बहस के बाद व्हाइट हाउस ने सीएनएन के इस पत्रकार का पास कुछ दिनों के लिए रद्द कर दिया। पास रद्द होने के बाद सीएनएन के इस पत्रकार को अब व्हाइट हाउस में प्रवेश वर्जित कर दिया गया है।

Donald Trump White House Trump Slams Reporters Press Conference :

सीएनएन और डोनाल्ड ट्रंप के बीच हमेशा से ही विवाद रहा है। ट्रंप कई बार सीएनएन पर ‘फेक न्यूज’ का आरोप लगा चुके हैं। अकोस्टा और ट्रंप के बीच कहासुनी उस वक्त हुई जब अकोस्टा ने राष्ट्रपति से लातिन अमेरिका की दक्षिणी सीमा की तरफ बढ़ रहे प्रवासियों के कारवां के बारे में एक सवाल पूछा। जब अकोस्टा ने इस सवाल का जवाब मिलने के बाद फिर से एक सवाल किया तो ट्रंप ने कहा, ‘इतना काफी है।’ ट्रंप की इस टिप्पणी के बाद व्हाइट हाउस की एक कर्मी ने अकोस्टा के हाथ से माइक लेने की नाकाम कोशिश की।

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने एक बयान जारी कर अकोस्टा पर आरोप लगाया कि उन्होंने ”व्हाइट हाउस इंटर्न के तौर पर अपना काम करने की कोशिश कर रही एक युवती पर अपना हाथ रखा। सारा ने अपने बयान में इसे ”पूरी तरह अस्वीकार्य करार दिया।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और अमेरिकी मीडिया के बीच रिश्तों में तल्खी पहले भी रही है, लेकिन यह कड़वाहट बुधवार को उस वक्त और बढ़ गई जब उन्होंने कुछ संवाददाताओं को ”अशिष्ट करार दिया और पीबीएस की एक संवाददाता पर नस्लभेदी सवाल करने का आरोप लगाया। इस संवाददाता ने ट्रंप से श्वेत राष्ट्रवादियों के बारे में सवाल किया था।

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रति डोनाल्ड ट्रंप और सीएनएन के पत्रकार जिम एकोस्टा के बीच एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान तीखी बहस हो गई दरअसल, प्रेस कॉन्‍फ्रेंस के दौरान ट्रंप से सवाल पूछने की 'सख्‍त मनाही' है। लेकिन सीएनएन के रिपोर्टर ने इसके बावजूद एक तीखा सवाल ट्रंप पर दागा, जिसका उसे भुगतना पड़ा है। बहस के बाद व्हाइट हाउस ने सीएनएन के इस पत्रकार का पास कुछ दिनों के लिए रद्द कर दिया। पास रद्द होने के बाद सीएनएन के इस पत्रकार को अब व्हाइट हाउस में प्रवेश वर्जित कर दिया गया है। सीएनएन और डोनाल्ड ट्रंप के बीच हमेशा से ही विवाद रहा है। ट्रंप कई बार सीएनएन पर 'फेक न्यूज' का आरोप लगा चुके हैं। अकोस्टा और ट्रंप के बीच कहासुनी उस वक्त हुई जब अकोस्टा ने राष्ट्रपति से लातिन अमेरिका की दक्षिणी सीमा की तरफ बढ़ रहे प्रवासियों के कारवां के बारे में एक सवाल पूछा। जब अकोस्टा ने इस सवाल का जवाब मिलने के बाद फिर से एक सवाल किया तो ट्रंप ने कहा, ‘इतना काफी है।’ ट्रंप की इस टिप्पणी के बाद व्हाइट हाउस की एक कर्मी ने अकोस्टा के हाथ से माइक लेने की नाकाम कोशिश की। व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने एक बयान जारी कर अकोस्टा पर आरोप लगाया कि उन्होंने ''व्हाइट हाउस इंटर्न के तौर पर अपना काम करने की कोशिश कर रही एक युवती पर अपना हाथ रखा। सारा ने अपने बयान में इसे ''पूरी तरह अस्वीकार्य करार दिया। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और अमेरिकी मीडिया के बीच रिश्तों में तल्खी पहले भी रही है, लेकिन यह कड़वाहट बुधवार को उस वक्त और बढ़ गई जब उन्होंने कुछ संवाददाताओं को ''अशिष्ट करार दिया और पीबीएस की एक संवाददाता पर नस्लभेदी सवाल करने का आरोप लगाया। इस संवाददाता ने ट्रंप से श्वेत राष्ट्रवादियों के बारे में सवाल किया था।