इन कामों को करते ही शुरू हो जाता है इंसान का बुरा समय

इंसान का बुरा समय
इन कामों को करते ही शुरू हो जाता है इंसान का बुरा समय

लखनऊ। इंसान से एक बार हुई भूल कई बार लत बन जाती है। आपकी कुछ ऐसी आदतें जो आपको सामान्य लगती हैं लेकिन आप सोच भी नहीं सकते कि उन आदतों से आपका और आपके साथ-साथ परिवार का भी नाश हो सकता है। शुक्रनीति में ऐसे चार कामों के बारे में बताया गया है, जिनसे हर किसी को दूर ही रहना चाहिए। इन कामों को करते ही किसी भी इंसान का बुरा समय शुरू हो सकता है।

Dont Do These Things For Happy Life :

श्लोक
अनृतात् पारदार्याच्च तथाभक्ष्यस्य भक्षणात्।
अगोत्रधर्माचरणात् क्षिप्रं नश्यति वै कुलम्।।

अर्थ- पराई स्त्री से संबंध, परंपराओं के खिलाफ काम करना, मांसाहारी होना और झूठ बोलना। ये काम हमें विनाश की ओर ले जाते हैं।

पराई स्त्री से संबंध
जो मनुष्य किसी अन्य स्त्री से संबंध बनाता है, उसे राक्षस प्रवृत्ति का माना जाता है। यह आपके अच्छे कर्मों का फल आपको नहीं मिलने देता और बुरे समय का कारण बनता है।

परंपराएं न मानना
जो मनुष्य घर के नियम और परंपराओं का सम्मान नहीं करते, अंत में वही परिवार के विनाश का कारण बनते हैं। इसलिए घर की परंपराओं व नियम का पालन करते रहना चाहिए।

मांसाहारी होना
ग्रंथों में जीवों की हत्या करने की मनाही है। ऐसा करने वाले मनुष्य पर भगवान अप्रसन्न रहते हैं और उसे पूजा का फल भी नहीं मिलता।

झूठ बोलना
झूठ बोलने की आदत काफी सामान्य लगती है लेकिन यह आपकी बर्बादी का कारण भिबन सकती है।

लखनऊ। इंसान से एक बार हुई भूल कई बार लत बन जाती है। आपकी कुछ ऐसी आदतें जो आपको सामान्य लगती हैं लेकिन आप सोच भी नहीं सकते कि उन आदतों से आपका और आपके साथ-साथ परिवार का भी नाश हो सकता है। शुक्रनीति में ऐसे चार कामों के बारे में बताया गया है, जिनसे हर किसी को दूर ही रहना चाहिए। इन कामों को करते ही किसी भी इंसान का बुरा समय शुरू हो सकता है।श्लोक अनृतात् पारदार्याच्च तथाभक्ष्यस्य भक्षणात्। अगोत्रधर्माचरणात् क्षिप्रं नश्यति वै कुलम्।।अर्थ- पराई स्त्री से संबंध, परंपराओं के खिलाफ काम करना, मांसाहारी होना और झूठ बोलना। ये काम हमें विनाश की ओर ले जाते हैं।पराई स्त्री से संबंध जो मनुष्य किसी अन्य स्त्री से संबंध बनाता है, उसे राक्षस प्रवृत्ति का माना जाता है। यह आपके अच्छे कर्मों का फल आपको नहीं मिलने देता और बुरे समय का कारण बनता है।परंपराएं न मानना जो मनुष्य घर के नियम और परंपराओं का सम्मान नहीं करते, अंत में वही परिवार के विनाश का कारण बनते हैं। इसलिए घर की परंपराओं व नियम का पालन करते रहना चाहिए।मांसाहारी होना ग्रंथों में जीवों की हत्या करने की मनाही है। ऐसा करने वाले मनुष्य पर भगवान अप्रसन्न रहते हैं और उसे पूजा का फल भी नहीं मिलता।झूठ बोलना झूठ बोलने की आदत काफी सामान्य लगती है लेकिन यह आपकी बर्बादी का कारण भिबन सकती है।