सावधान! कहीं आप भी इस लत के शिकार तो नहीं

नई दिल्ली। रोज़मर्रा के जीवन में कुछ ऐसे काम जरूर होते हैं, जिनके कुछ लोग आदी हो जाते हैं। ऐसी ही एक आदत है बाथरूम में फोन यूज करने की। एक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है कि 95 फ़ीसदी हेल्थ केयर वर्क्स के मोबाइल फोन पर बैक्टीरिया के जमा होने के प्रमाण पाए गए हैं। ऐसे बैक्टीरिया से गंभीर इंफेक्शन हो सकता है।

कई लोगों दिन भर के बिज़ी शेड्यूल में अक्सर न्यूज़ या मैसेजेस नहीं पढ़ पाते हैं। ऐसे में घर जाकर आराम से बाथरूम में बैठकर फोन चेक करते हैं। पर ऐसा करके वो जाने अनजाने में कई बीमारियों को दावत दे बैठते हैं।

{ यह भी पढ़ें:- सबसे महंगी फीस है इस भोजपुरी हॉट एक्ट्रेस की, गाने को मिले 10 करोड़ व्यूज }

ऐसी जगहों पर मौजूद बैक्टीरिया और वायरस फोन पर चिपक जाते हैं, जो हर उस जगह फैलते हैं, जहां-जहां आप फोन को रखते हैं। इसके अलावा जितनी बार आप अपना फोन मैसेज टाइप करने के लिए इस्तेमाल करते हैं, उतनी बार ये बैक्टीरिया आपके कीपैड पर चिपक जाते हैं। एक रिसर्च के मुताबिक़ मोबाइल इस्तेमाल करने वाला हर व्यक्ति अपने फोन को एक दिन में कम से कम 2600 बार टच करता है यानी ढेर सारा इंफेक्शन।

इन बातों का रखें खयाल

फोन टॉयलेट में न ले जाएं।
बाथरूम यूज़ करने के बाद या टॉयलेट से आने का बाद हाथ अच्छी तरह से हैंड वॉश से धो लें।
बाथरूम की सफ़ाई के बाद भी सीधे फोन को टच न करें।
हाथों को अच्छी तरह से धोकर ही फोन यूज़ करें।
फोन और स्क्रीन का फोन के बनाए गए स्पेशल क्लींज़र से ही क्लीन करें।

{ यह भी पढ़ें:- VIRAL: जब अम्पायर ने पांड्या को सरेआम दिखाया थप्पड़, जानें क्यों... }

Loading...