लखनऊ: सगे भाईयों के हत्यारे ने पुलिस के डर से खुद को मारी गोली

lucknow double murder
लखनऊ: सगे भाईयों के हत्यारे ने पुलिस के डर से खुद को मारी गोली

लखनऊ। गोमतीनगर में वर्चस्व को लेकर हाल ही में हुई सगे भाईयों की हत्या के आरोपी ने बुधवार रात खुद को गोली मार ली। वो घटना के बाद ही फरार चल रहा था। आरोपी दोस्त के साथ गोमतीनगर में छिपा था। तभी पुलिस को मुखबिर से सूचना मिल गई। पुलिस देर रात उसे दबोचने के पहुंची तो उसे डर से मुख्य आरोपी ने तमंचे से खुद को गोली मार ली, जबकि उसके साथी को पुलिस ने दबोच लिया। बताया जा रहा है कि पुलिस टीम सादी वर्दी में थी। आरोपित ने खुद को घिरता देख अवैध तमंचे से गोली मार ली। शिवम के दूसरे साथी चीना को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

Double Murder Accused Shot Himself At Gomtinager One Arrested :

एसएसपी कलानिधि नैथानी के मुताबिक सगे भाई इमरान और अरमान की हत्या में वांछित 15 हजार के इनामी की तलाश के दौरान आरोपित की लोकेशन विराम खंड पांच में मिली। इसके बाद सीओ हजरतगंज साइबर सेल की टीम और एंटी डकैती सेल ने विराम खंड के एक मकान को घेरा।

दो मंजिला मकान में नीचे बिहार निवासी विक्की परिवार समेत बीते 10 वर्षो से रहते हैं। पुलिस टीम ने विक्की के दरवाजे पर दस्तक देकर दरवाजा खोलने को कहा। इसी बीच प्रथम तल से शिवम ने पुलिस को देख लिया और भागकर भीतर कमरे में दाखिल हो गया। पुलिस ने विक्की की पत्‍नी से पूछताछ की तो उन्होंने ऊपर की तरफ इशारा किया।

पुलिस टीम अभी पहले तल पर पहुंचती अचानक कमरे से गोली चलने की आवाज आई। तभी कमरे से शोर मचाता हुआ चीना बाहर की तरफ भागा। चीना ने बताया कि शिवम ने खुद को गोली मार ली है। पुलिस ने चीना को दबोच लिया और कमरे में गई जहां शिवम लहूलुहान पड़ा था। पास में तमंचा पड़ा हुआ था।

लखनऊ। गोमतीनगर में वर्चस्व को लेकर हाल ही में हुई सगे भाईयों की हत्या के आरोपी ने बुधवार रात खुद को गोली मार ली। वो घटना के बाद ही फरार चल रहा था। आरोपी दोस्त के साथ गोमतीनगर में छिपा था। तभी पुलिस को मुखबिर से सूचना मिल गई। पुलिस देर रात उसे दबोचने के पहुंची तो उसे डर से मुख्य आरोपी ने तमंचे से खुद को गोली मार ली, जबकि उसके साथी को पुलिस ने दबोच लिया। बताया जा रहा है कि पुलिस टीम सादी वर्दी में थी। आरोपित ने खुद को घिरता देख अवैध तमंचे से गोली मार ली। शिवम के दूसरे साथी चीना को पुलिस ने गिरफ्तार किया है।एसएसपी कलानिधि नैथानी के मुताबिक सगे भाई इमरान और अरमान की हत्या में वांछित 15 हजार के इनामी की तलाश के दौरान आरोपित की लोकेशन विराम खंड पांच में मिली। इसके बाद सीओ हजरतगंज साइबर सेल की टीम और एंटी डकैती सेल ने विराम खंड के एक मकान को घेरा।दो मंजिला मकान में नीचे बिहार निवासी विक्की परिवार समेत बीते 10 वर्षो से रहते हैं। पुलिस टीम ने विक्की के दरवाजे पर दस्तक देकर दरवाजा खोलने को कहा। इसी बीच प्रथम तल से शिवम ने पुलिस को देख लिया और भागकर भीतर कमरे में दाखिल हो गया। पुलिस ने विक्की की पत्‍नी से पूछताछ की तो उन्होंने ऊपर की तरफ इशारा किया।पुलिस टीम अभी पहले तल पर पहुंचती अचानक कमरे से गोली चलने की आवाज आई। तभी कमरे से शोर मचाता हुआ चीना बाहर की तरफ भागा। चीना ने बताया कि शिवम ने खुद को गोली मार ली है। पुलिस ने चीना को दबोच लिया और कमरे में गई जहां शिवम लहूलुहान पड़ा था। पास में तमंचा पड़ा हुआ था।