शराब पीकर गार्ड ने चलवाई ट्रेन, बाल-बाल बचे सैकड़ो यात्री

drunk guard in train
शराब पीकर गार्ड ने चलवाई ट्रेन, बाल-बाल बचे सैकड़ो यात्री

रांची। झारखंड में रेल कर्मियों की लापरवाही से सैकड़ों यात्रियों की जिंदगी खतरे में पड़ गई। यहां एक गार्ड ने पहले तो जमकर शराब पी और फिर सोमरा उरांव ने रांची-लोहरदगा रेल लाइन पर गुरुवार को पैसेंजर ट्रेन चलवा दी थी। गनीमत रही कि इस दौरान कोई बड़ी घटना नहीं हुई। इस मामले में गार्ड सोमरा उरांव समेत दो अन्य रेल कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है।

Drunk Guard Inrunning Train At Ranchi 3 Officials Suspended :

बताया जा रहा है कि सोमरा की जांच हटिया स्टेशन में क्रू लॉबी में हुई थी। वहां से सोमरा रांची स्टेशन से रांची-लोहरदगा ट्रेन में बतौर गार्ड रवाना हो गया। लेकिन लोहरदगा स्टेशन में सोमरा ने तबीयत खराब होने की बात कही। इस कारण ट्रेन कुछ देर के लिए रुक गई। ट्रेन रुकने से मंडल अधिकारियों तक मामला पहुंचा तो हरकत में आए। इसके बाद दूसरे रेलकर्मी की मदद से ट्रेन को रांची लाया गया।

घटना की पड़ताल की गई तो पता चला कि गार्ड ने शराब पी रखी है। जांच में हटिया के क्रू-कंट्रोलर और रोस्टर क्लर्क भी दोषी पाए गए। बताया जा रहा है कि क्रू-कंट्रोलर ने ब्रेथ एनालाइजर से जांच करने पर पाया था कि गार्ड नशे में है,फिर भी उसे ड्यूटी में जाने की अनुमति दे दी थी। फिलहाल अधिकारियों ने तत्काल प्रभाव से गार्ड समेत दो अन्य रेलकर्मी को निलंबित करते हुए पूरे मामले की जांच के आदेश दिए है।

रांची। झारखंड में रेल कर्मियों की लापरवाही से सैकड़ों यात्रियों की जिंदगी खतरे में पड़ गई। यहां एक गार्ड ने पहले तो जमकर शराब पी और फिर सोमरा उरांव ने रांची-लोहरदगा रेल लाइन पर गुरुवार को पैसेंजर ट्रेन चलवा दी थी। गनीमत रही कि इस दौरान कोई बड़ी घटना नहीं हुई। इस मामले में गार्ड सोमरा उरांव समेत दो अन्य रेल कर्मियों को निलंबित कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि सोमरा की जांच हटिया स्टेशन में क्रू लॉबी में हुई थी। वहां से सोमरा रांची स्टेशन से रांची-लोहरदगा ट्रेन में बतौर गार्ड रवाना हो गया। लेकिन लोहरदगा स्टेशन में सोमरा ने तबीयत खराब होने की बात कही। इस कारण ट्रेन कुछ देर के लिए रुक गई। ट्रेन रुकने से मंडल अधिकारियों तक मामला पहुंचा तो हरकत में आए। इसके बाद दूसरे रेलकर्मी की मदद से ट्रेन को रांची लाया गया। घटना की पड़ताल की गई तो पता चला कि गार्ड ने शराब पी रखी है। जांच में हटिया के क्रू-कंट्रोलर और रोस्टर क्लर्क भी दोषी पाए गए। बताया जा रहा है कि क्रू-कंट्रोलर ने ब्रेथ एनालाइजर से जांच करने पर पाया था कि गार्ड नशे में है,फिर भी उसे ड्यूटी में जाने की अनुमति दे दी थी। फिलहाल अधिकारियों ने तत्काल प्रभाव से गार्ड समेत दो अन्य रेलकर्मी को निलंबित करते हुए पूरे मामले की जांच के आदेश दिए है।