1. हिन्दी समाचार
  2. महोबा में गरीब और जरुरतमंद लोगों को रिक्शा चलाकर राशन पहुंचा रहे हैं डीएसपी

महोबा में गरीब और जरुरतमंद लोगों को रिक्शा चलाकर राशन पहुंचा रहे हैं डीएसपी

Dsp Is Providing Ration To Poor And Needy People By Driving A Rickshaw In Mahoba

By टीम पर्दाफाश 
Updated Date

महोबा: कोरोना संकट के कारण देश व्यापी लाकडाउन के बीच गरीब और जरूरतमंदों की मदद के लिये बुंदेलखंड में महोबा जिले के एक पुलिस अधिकारी की कार्यशैली यहां चर्चा का विषय बनी हुई है। पुलिस अफसर के रूआब को दरकिनार कर अपने सर्किल के नगरीय एवं ग्रामीण इलाकों की तंग गलियों में सीओ साहब खुद बैटरी रिक्शा चलाकर एक एक घर मे भूखों को भोजन उपलब्ध करा रहे हैं। पुलिस के चिरपरिचित अंदाज से जुदा उनका यह काज न सिर्फ जनता को रिझा रहा है बल्कि कोरोना संक्रमण के रूप में देश पर छाये संकट के समय अन्य अफसरों के सामने नजीर पेश कर रहा है।

पढ़ें :- नेपाल के पीएम केपी शर्मा ओली को कम्युनिस्ट पार्टी से किया गया बाहर

जिले के कुलपहाड़ सर्किल में तैनात पुलिस क्षेत्राधिकारी अवध सिंह के सेवा कार्य ने खाकी की शान में चार चांद लगाए है। बेसहारा और जरूरत मंद लोगों की मदद करने के लिए वे स्वयं गलियों में ई रिक्शा चलाकर लोगो को भोजन व खाद्यान्न सामग्री बाँट रहे है। सरकारी गाड़ी,रुतबा और शान को छोड़ बेसहारा एवं मजलूम लोगो की मदद को गाँव गाँव गली गली बैटरी रिक्शा लेकर घूम रहे पुलिस उप अधीक्षक आपदा के इस काल को पुलिस के लिए चुनौती मानते है। सीओ के मुताबिक यह ऐसा मौका है जब पुलिस जवानो को अपनी ड्यूटी का निर्वहन करते हुए मानवता की सेवा कर पाने का महत्वपूर्ण अवसर मिला है।

उन्होंने कहा कि नगरीय क्षेत्रों के अलावा गांव की तंग गलियों में उनकी सरकारी कार न घुस पाने के कारण अक्सर परेशानियों का सामना करना पड़ता था और लोगो तक भोजन व रसद पहुचाने में कठिनाई होती थी। बैटरी रिक्शा से प्रत्येक जरूरतमंद के दरवाजे पहुंचकर उसे सहायता पहुचाने में सुविधा होती है। लाकडाउन में काम काज पूरी तरह ठप पड़ जाने से महोबा जिले में रोज कमाने खाने वाले सैकड़ो की संख्या में परिवार संकटग्रस्त हो गए है। उनके समक्ष भोजन की समस्या विकराल हो गई है। इस मौके पर जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए विभिन्न स्वयंसेवी सामाजिक संस्थाएं आगे आई है।

जिले में कोई भूखा न रहे को अपना ध्येय वाक्य बनाकर जिले की पुलिस आमजनों के घर घर जाकर भोजन और खाद्यान्न सामग्री बांट रही है। लाकडाउन का अक्षरश: पालन कराने के लिये पुलिस महकमा दिन रात मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी कर रहा है। पुलिस जवान कानून व्यवस्था को बनाये रखने के अलावा आपदा के इस कठिन मौके पर मानवीय सेवा का कार्य करते हुए गरीबो असहायों की हर सम्भव मदद भी कर रहे है।

पुलिस ने कोरोना आपदा के दौरान यहां जिस प्रकार अपना मानवीय चेहरा दिखाया है, उसकी चहुंओर प्रशंसा हो रही है। इस कार्य मे पुलिस क्षेत्राधिकारी अवध सिंह के निराले एवं प्रत्येक गरीब को गले लगा उसके दुख दर्द को हर लेने वाले उदारता भरे अंदाज पर तो लोग न्योछावर है और पुलिस महकमे को बार बार सेल्यूट कर रहे है।

पढ़ें :- उत्तर प्रदेश स्थापना दिवसः पीएम मोदी, रक्षामंत्री राजनाथ से लेकर कई नेताओं ने दी बधाई

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करे...