1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. बीजेपी सरकार की जुल्म ज्यादतियों की वजह से कोरोना जैसी आसमानी आफ़त आईं : सांसद शफीकुर्रहमान बर्क

बीजेपी सरकार की जुल्म ज्यादतियों की वजह से कोरोना जैसी आसमानी आफ़त आईं : सांसद शफीकुर्रहमान बर्क

यूपी में संभल लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क का अब विवादित बयान सामने आया है। डॉ. बर्क ने कहा कोरोना कोई बीमारी ही नहीं है। कोरोना अगर बीमारी होती तो दुनिया में इसका इलाज होता। यह बीमारी सरकार की गलतियों की वजह से अजादे इलाही है, जो की अल्लाह के सामने रोकर गिड़गिड़ाकर माफी मांगने से ही खत्म होगी।

By संतोष सिंह 
Updated Date

संभल। यूपी में संभल लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क का अब विवादित बयान सामने आया है। डॉ. बर्क ने कहा कोरोना कोई बीमारी ही नहीं है। कोरोना अगर बीमारी होती तो दुनिया में इसका इलाज होता। यह बीमारी सरकार की गलतियों की वजह से अजादे इलाही है, जो की अल्लाह के सामने रोकर गिड़गिड़ाकर माफी मांगने से ही खत्म होगी।

पढ़ें :- Mulayam Singh Yadav jeevan parichay : पिता की ख्वाहिश थी बेटा करे पहलवानी, पर मुलायम सिंह यादव बने सियासत के पक्के​​ खिलाड़ी

सांसद ने बीजेपी सरकार पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि मौजूदा सरकार ने शरीयत से ही छेड़छाड़ नहीं की है। बल्कि अपनी सरकार में लड़कियों को पकड़वाकर बलात्कार करवाने, मॉब लिंचिंग और तमाम जुल्म ज्यादतियां की हैं, जिसकी वजह से कोरोना जैसी आसमानी आफ़त सामने है। बर्क ने यह विवादित बयान मुरादाबाद में समाजवादी पार्टी के सांसद एसटी हसन के विवादित बयान के बाद दिया है।

मुरादाबाद में एसपी सांसद एसटी हसन ने बयान देकर यह कहा था कि बीजेपी सरकार ने अपने 7 साल के कार्यकाल में शरीयत से इतनी छेड़छाड़ की है। जिसकी वजह से कोरोना बीमारी और आंधी-तूफ़ान जैसे तमाम आसमानी आफ़तें सामने आ रही हैं। अब सम्भल के सांसद डॉ. शफीकुर्रहमान बर्क बयानबाजी में अपनी पार्टी के सांसद एसटी हसन से भी आगे निकल गए हैं। बर्क ने कहा कि उन्होंने तो पिछले साल ही यह कह दिया था की कोरोना कोई बीमारी नहीं है। करोना बीमारी होती तो दुनिया में इसका इलाज भी होता। यह तो सरकार की गलतियों की वजह से अजादे इलाही है, जिसका खात्मा अल्लाह के सामने रोकर गिड़गिड़ाकर अपनी गलतियों की माफी मांगने और दुआ करने से ही हो सकता है।

बीजेपी सरकार ने शरीयत से ही छेड़छाड़ की गलती की

उन्होंने कहा कि हमने मुस्लिमों के लिए मस्जिदों और ईदगाहों में नमाज पढ़ने और दुआ करने के लिए सरकार से मांग भी की थी, लेकिन सरकार ने हमारी मांग नहीं मानी। इन गलतियों की वजह से आज तमाम आसमानी आफ़तें सामने हैं। सांसद ने बीजेपी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि मौजूदा सरकार ने शरीयत से ही छेड़छाड़ की गलती ही नहीं की है, बल्कि लड़कियों को पकड़वाकर पकड़वाकर बलात्कार करवाए, मॉब लिंचिंग और तमाम जुल्म ज्यादतियां करने की गलती की है।

पढ़ें :- सपा का 30 साल का ऐसा रहा स‍ियासी सफर , 4 अक्टूबर 1992 को लखनऊ के बेगम हजरत महल पार्क में हुआ था पहला सम्मेलन

इसी वजह से आज तमाम आसमानी आफतें आ रही हैं। वैक्सीन के विरोध को लेकर कहा कि वह और तमाम उलेमा और मौलवी पहले ही फतवा देकर वैक्सीन के टेस्ट को लेकर सवाल उठा चुके हैं। अगर वैक्सीन टेस्टेड है तो लगवाने में कोई गुरेज नहीं है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...