इस वजह से मनाई जाती है विश्वकर्मा जयंती, ऐसे दें शुभकामनाएं

vishwakarma pooja
इस वजह से मनाई जाती है विश्वकर्मा जयंती, ऐसे दें शुभकामनाएं

लखनऊ। आज 17 सिंतबर को पूरे देशभर में विश्वकर्मा जयंती मनाई जा रही है। इस दिन भगवान विश्वकर्मा का जन्म हुआ था, इसलिए इसे विश्वकर्मा जयंती भी कहते हैं। भगवान विश्वकर्मा को दुनिया का सबसे पहला इंजीनियर और वास्तुकार माना जाता है। इसलिए इस दिन उद्योगों, फैक्ट्र‍ियों और हर तरह के मशीन की पूजा की जाती है। यह दिन विश्वकर्मा पूजा का कारोबारियों के लिए विशेष महत्व होता है।

Due To This Vishwakarma Jayanti Is Celebrated Wish Us Well :

माना जाता है कि प्राचीन काल में जितनी राजधानियां थी, प्राय: सभी विश्वकर्मा की ही बनाई कही जाती हैं। यहां तक कि सतयुग का ‘स्वर्ग लोक’, त्रेता युग की ‘लंका’, द्वापर की ‘द्वारिका’ और कलयुग का ‘हस्तिनापुर’ आदि विश्वकर्मा द्वारा ही बनाई गई हैं। ‘सुदामापुरी’ की तत्क्षण रचना के बारे में भी यह कहा जाता है कि उसके निर्माता विश्वकर्मा ही थे। इससे यह आशय लगाया जाता है कि धन-धान्य और सुख-समृद्धि की अभिलाषा रखने वाले पुरुषों को बाबा विश्वकर्मा की पूजा करना आवश्यक और मंगलदायी होता है।

आज के दिन लोग अपने दोस्‍तों और रिश्‍तेदारों को शुभकामना संदेश भी भेजते हैं। अगर आप भी इस दिन को मानते हैं तो इन शुभकामनाओं को अपने दोस्तों और रिशतेदारों में भेज सकते हैं…..

ले सहारा आपका जब हमें
हर गम जिन्दगी से हो जाये दूर
हमेशा रहें हम आपके भक्त
चमके आपके चेहरे पर नूर
Happy Vishwakarma puja

करते पूजा हम प्रभु विश्वकर्मा की
सदा हम पर इनायत रहे मेरे खुदा की
जन्म-जन्म से हम उनको करते हैं याद
दिल से हरदम करते विश्वकर्मा की फरियाद
Happy Vishwakarma puja

विश्वकर्मा की ज्योति से नूर मिलता है
सबके दिलों को सुरूर मिलता है,
जो भी नाम लेता है विश्वकर्मा का
उसे कुछ न कुछ ज़रूर मिलता है
Happy Vishwakarma Jayanti

जय जय श्री भुवना विश्वकर्मा
कृपा करे श्री गुरुदेव सुधर्मा
श्रीव अरु विश्वकर्मा माहि
विज्ञानी कहे अंतर नाहि
Happy Vishwakarma Jayanti

तुम हो सकल सृष्टि करता
ज्ञान सत्य जग हित धर्ता
तुम्हारी दृष्टि से नूर है बरसे
आपके दर्शन को हम भक्त तरसे
Happy Vishwakarma Jayanti

तुम हो विश्व के पालन करता
हमारे हो तुम दुख हरता
हर पल नाम तुम्हारा जपते हम
हर मुश्किल को दूर करते तुम
Happy Vishwakarma puja

लखनऊ। आज 17 सिंतबर को पूरे देशभर में विश्वकर्मा जयंती मनाई जा रही है। इस दिन भगवान विश्वकर्मा का जन्म हुआ था, इसलिए इसे विश्वकर्मा जयंती भी कहते हैं। भगवान विश्वकर्मा को दुनिया का सबसे पहला इंजीनियर और वास्तुकार माना जाता है। इसलिए इस दिन उद्योगों, फैक्ट्र‍ियों और हर तरह के मशीन की पूजा की जाती है। यह दिन विश्वकर्मा पूजा का कारोबारियों के लिए विशेष महत्व होता है। माना जाता है कि प्राचीन काल में जितनी राजधानियां थी, प्राय: सभी विश्वकर्मा की ही बनाई कही जाती हैं। यहां तक कि सतयुग का 'स्वर्ग लोक', त्रेता युग की 'लंका', द्वापर की 'द्वारिका' और कलयुग का 'हस्तिनापुर' आदि विश्वकर्मा द्वारा ही बनाई गई हैं। 'सुदामापुरी' की तत्क्षण रचना के बारे में भी यह कहा जाता है कि उसके निर्माता विश्वकर्मा ही थे। इससे यह आशय लगाया जाता है कि धन-धान्य और सुख-समृद्धि की अभिलाषा रखने वाले पुरुषों को बाबा विश्वकर्मा की पूजा करना आवश्यक और मंगलदायी होता है। आज के दिन लोग अपने दोस्‍तों और रिश्‍तेदारों को शुभकामना संदेश भी भेजते हैं। अगर आप भी इस दिन को मानते हैं तो इन शुभकामनाओं को अपने दोस्तों और रिशतेदारों में भेज सकते हैं..... ले सहारा आपका जब हमें हर गम जिन्दगी से हो जाये दूर हमेशा रहें हम आपके भक्त चमके आपके चेहरे पर नूर Happy Vishwakarma puja करते पूजा हम प्रभु विश्वकर्मा की सदा हम पर इनायत रहे मेरे खुदा की जन्म-जन्म से हम उनको करते हैं याद दिल से हरदम करते विश्वकर्मा की फरियाद Happy Vishwakarma puja विश्वकर्मा की ज्योति से नूर मिलता है सबके दिलों को सुरूर मिलता है, जो भी नाम लेता है विश्वकर्मा का उसे कुछ न कुछ ज़रूर मिलता है Happy Vishwakarma Jayanti जय जय श्री भुवना विश्वकर्मा कृपा करे श्री गुरुदेव सुधर्मा श्रीव अरु विश्वकर्मा माहि विज्ञानी कहे अंतर नाहि Happy Vishwakarma Jayanti तुम हो सकल सृष्टि करता ज्ञान सत्य जग हित धर्ता तुम्हारी दृष्टि से नूर है बरसे आपके दर्शन को हम भक्त तरसे Happy Vishwakarma Jayanti तुम हो विश्व के पालन करता हमारे हो तुम दुख हरता हर पल नाम तुम्हारा जपते हम हर मुश्किल को दूर करते तुम Happy Vishwakarma puja