दुराचार और पाक्सो मामले में गायत्री के खिलाफ गवाह ने बदला बयान

gayatri prajapati
दुराचार और पाक्सो मामले में गायत्री के खिलाफ गवाह ने बदला बयान

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के खिलाफ दर्ज दुराचार और पाक्सो एक्ट के मामले में एक नया मोड़ आ गया है। दरअसल सरकारी पक्ष की एक प्रमुख गवाह अपने पुराने बयान से पलट गई। जिस पर कोर्ट ने उसका बयान और जिरह नोट करते हुए दूसरे गवाह को एक अगस्त को पेश करने का आदेश दिया।

Duraachaar Aur Paakso Maamale Mein Gaayatree Ke Khilaaph Gavaah Ne Badala Bayaan :

बता दें कि विशेष जज पवन कुमार तिवारी ने बयान और जिरह दर्ज करने के बाद दोनों पक्षों को आदेश दिया कि साक्षी तलब किए जाने पर पक्षकार वादिनी व साक्षी के द्वारा मुकदमे के शीघ्र निस्तारण में किसी भी प्रकार बाधा डाली जाती है, न्यायिक प्रक्रिया का दुरुपयोग किया जाता है, सहयोग नहीं किया जाता है तो साक्ष्य का अवसर समाप्त कर विधि संगत कार्यवाही की जाएगी।

फिलहाल कोर्ट ने कहा कि साक्षी संख्या चार और अभियुक्त को तलब किया जाए। जिसपर सरकारी वकील ने कहा कि अभियुक्त लखनऊ जेल में बंद हैं। वो काफी बीमार है व अस्पताल में भर्ती हैं, इसलिए पेश नहीं किए जा सके हैं।

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के पूर्व मंत्री गायत्री प्रजापति के खिलाफ दर्ज दुराचार और पाक्सो एक्ट के मामले में एक नया मोड़ आ गया है। दरअसल सरकारी पक्ष की एक प्रमुख गवाह अपने पुराने बयान से पलट गई। जिस पर कोर्ट ने उसका बयान और जिरह नोट करते हुए दूसरे गवाह को एक अगस्त को पेश करने का आदेश दिया। बता दें कि विशेष जज पवन कुमार तिवारी ने बयान और जिरह दर्ज करने के बाद दोनों पक्षों को आदेश दिया कि साक्षी तलब किए जाने पर पक्षकार वादिनी व साक्षी के द्वारा मुकदमे के शीघ्र निस्तारण में किसी भी प्रकार बाधा डाली जाती है, न्यायिक प्रक्रिया का दुरुपयोग किया जाता है, सहयोग नहीं किया जाता है तो साक्ष्य का अवसर समाप्त कर विधि संगत कार्यवाही की जाएगी। फिलहाल कोर्ट ने कहा कि साक्षी संख्या चार और अभियुक्त को तलब किया जाए। जिसपर सरकारी वकील ने कहा कि अभियुक्त लखनऊ जेल में बंद हैं। वो काफी बीमार है व अस्पताल में भर्ती हैं, इसलिए पेश नहीं किए जा सके हैं।