भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ी अखिलेश सरकार की ज्यादातर योजनाएं: केशव प्रसाद मौर्य

लखनऊ। सपा मुख्यालय में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा प्रेसवार्ता कर भाजपा सरकार पर हमला बोलने के बाद डिप्टी सीएम केशव प्रसाद ने एनेक्सी स्थित मीडिया सेंटर में प्रेस कांन्फ्रेस की। प्रेसवार्ता के दौरान उन्होने अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि सपा सरकार में शुरू की गई ज्यादारत योजनाएं भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई और पूरी होने से पहले ही बंद हो गई। भाजपा के सरकार में आने के बाद उन योजनाओं को पूरा कराया गया। ऐसे में उनका उदघाटन करने का अधिकार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ही है।

Dy Cm Keshav Prasad Maurya Attack On Akhilesh Yadav :

पूर्व मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए केशव प्रसाद ने कहा, “अखिलेश जी अब आप उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं है, अब सपना देखना छोड़ दीजिए।” प्रेसवार्ता के दौरान उन्होने कहा कि उनको ऐसा लगता है कि यह सब उनका है। विपक्षी पार्टी के नेताओं को परेशान करने के अखिलेश यादव के बयान का खण्डन करते हुए उन्होने कहा कि भाजपा सरकार किसी को बचाने या फंसाने का काम नहीं कर रहे है।

​उपमुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र और प्रदेश सरकार की मंशा का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि बीते एक वर्ष में जिस तरह से उत्तर प्रदेश में विकास शुरू हुआ, वह रिकॉर्ड है। किसानों के खुदकुशी करने की बात का जुठलाते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों की मदद करने के लिए ही ऋण मोचन योजना चलाई थी। इसके साथ ही सरकार ने 9 लाख से अधिक लोगों को निशुल्क आवास की व्यवस्था कराई है।

सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का बखान करते हुए केशव प्रसाद ने कहा कि योगी सरकार गांव गांव में बिजली पहुंचा रही है। सरकार ने पर्यटन को बढ़ावा देेने के लिए तमाम योजनाएं चलाई, जिसके बाद रोजगार बढ़ रहा है। उन्होने कहा कि बीते 15 वर्षों में प्रदेश के अंदर उतना विकास नही हुआ, जितना भाजपा सरकार ने बीते वर्ष में कर दिया। उन्होने सपा और बसपा सरकार को घेरते हुए कहा कि इन दोनों पार्टियों की सरकार की वजह से राजनीति का अपराधीकरण हुआ है।

लखनऊ। सपा मुख्यालय में पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा प्रेसवार्ता कर भाजपा सरकार पर हमला बोलने के बाद डिप्टी सीएम केशव प्रसाद ने एनेक्सी स्थित मीडिया सेंटर में प्रेस कांन्फ्रेस की। प्रेसवार्ता के दौरान उन्होने अखिलेश यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि सपा सरकार में शुरू की गई ज्यादारत योजनाएं भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गई और पूरी होने से पहले ही बंद हो गई। भाजपा के सरकार में आने के बाद उन योजनाओं को पूरा कराया गया। ऐसे में उनका उदघाटन करने का अधिकार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को ही है। पूर्व मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए केशव प्रसाद ने कहा, "अखिलेश जी अब आप उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री नहीं है, अब सपना देखना छोड़ दीजिए।" प्रेसवार्ता के दौरान उन्होने कहा कि उनको ऐसा लगता है कि यह सब उनका है। विपक्षी पार्टी के नेताओं को परेशान करने के अखिलेश यादव के बयान का खण्डन करते हुए उन्होने कहा कि भाजपा सरकार किसी को बचाने या फंसाने का काम नहीं कर रहे है। ​उपमुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र और प्रदेश सरकार की मंशा का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि बीते एक वर्ष में जिस तरह से उत्तर प्रदेश में विकास शुरू हुआ, वह रिकॉर्ड है। किसानों के खुदकुशी करने की बात का जुठलाते हुए कहा कि भाजपा सरकार ने किसानों की मदद करने के लिए ही ऋण मोचन योजना चलाई थी। इसके साथ ही सरकार ने 9 लाख से अधिक लोगों को निशुल्क आवास की व्यवस्था कराई है। सरकार की कल्याणकारी योजनाओं का बखान करते हुए केशव प्रसाद ने कहा कि योगी सरकार गांव गांव में बिजली पहुंचा रही है। सरकार ने पर्यटन को बढ़ावा देेने के लिए तमाम योजनाएं चलाई, जिसके बाद रोजगार बढ़ रहा है। उन्होने कहा कि बीते 15 वर्षों में प्रदेश के अंदर उतना विकास नही हुआ, जितना भाजपा सरकार ने बीते वर्ष में कर दिया। उन्होने सपा और बसपा सरकार को घेरते हुए कहा कि इन दोनों पार्टियों की सरकार की वजह से राजनीति का अपराधीकरण हुआ है।