1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. पहले अपराधी व बलात्कारी की सिफ़ारिश में थाने में आता था फोन, अब योगीजी ने गुंडों को सही जगह पहुंचाया : पीएम मोदी

पहले अपराधी व बलात्कारी की सिफ़ारिश में थाने में आता था फोन, अब योगीजी ने गुंडों को सही जगह पहुंचाया : पीएम मोदी

PM Modi in Prayagraj: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) आज प्रयागराज (Prayagraj) में हैं। इस दौरान उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए विपक्ष पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि पांच साल पहले यूपी की सड़कों पर माफियाराज था, यूपी की सत्ता में गुंडों की हनक हुआ करती थी, इसका सबसे बड़ा भुक्तभोगी कौन था? मेरे यूपी की बहन बेटियां थीं।

By शिव मौर्या 
Updated Date

PM Modi in Prayagraj: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) आज प्रयागराज (Prayagraj) में हैं। इस दौरान उन्होंने जनसभा को संबोधित करते हुए विपक्ष पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि पांच साल पहले यूपी की सड़कों पर माफियाराज था, यूपी की सत्ता में गुंडों की हनक हुआ करती थी, इसका सबसे बड़ा भुक्तभोगी कौन था? मेरे यूपी की बहन बेटियां थीं।

पढ़ें :- ADR Report: जीत की हैट्रिक लगाने वाले सांसदों की संपत्ति में खूब हुआ इजाफा, वरुण गांधी की दौलत भी बढ़ी

उन्हें सड़क पर निकलना मुश्किल हुआ करता था। स्कूल, कॉलेज जाना मुश्किल होता था। आप कुछ कह नहीं सकती थीं, बोल नहीं सकती थीं। क्योंकि थाने गईं तो अपराधी, बलात्कारी की सिफ़ारिश में किसी का फोन आ जाता था। योगी जी ने इन गुंडों को उनकी सही जगह पहुंचाया है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि, आज यूपी में सुरक्षा भी है, अधिकार भी हैं।

आज यूपी में संभावनाएं भी हैं, व्यापार भी है। मुझे पूरा विश्वास है, जब हमारी माताओं बहनों का आशीर्वाद है, इस नई यूपी को कोई वापस अंधेरे में नहीं धकेल सकता। इसके साथ ही पीएम ने कहा कि, बिना किसी भेदभाव, बिना किसी पक्षपात, डबल इंजन की सरकार, बेटियों के भविष्य को सशक्त करने के लिए निरंतर काम कर रही है।

पढ़ें :- Maharashtra Assembly By-Election 2023: महाराष्ट्र उपचुनाव को लेकर भाजपा ने घोषित किए उम्मीदवार, देखिए लिस्ट

अभी कुछ दिन पहले ही केंद्र सरकार ने एक और फैसला किया है। पहले बेटों के लिए शादी की उम्र कानूनन 21 साल थी, लेकिन बेटियों के लिए ये उम्र 18 साल ही थी। बेटियां भी चाहती थीं कि उन्हें उनकी पढ़ाई लिखाई के लिए, आगे बढ़ने के लिए समय मिले, बराबर अवसर मिलें। इसलिए, बेटियों के लिए शादी की उम्र को 21 साल करने का प्रयास किया जा रहा है। देश ये फैसला बेटियों के लिए कर रहा है, लेकिन किसको इससे तकलीफ हो रही है, ये सब देख रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...