FEMA केस में शाहरुख को ED ने भेजा नोटिस, 23 जुलाई को होंगे पेश

मुंबई। फॉरेन एक्सचेंज मैनेजमेंट एक्ट—1999 (FEMA) के तहत जांच का सामना कर रहे शाहरुख खान को प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने गुरूवार को समन भेजकर 23 जुलाई को पेश होने को कहा है। आईपीएल टी—20 की कोलकाता नाइटराइडर फ्रेंचाइजी के मालिक शाहरुख खान व अन्य पर आरोप है कि उन्होने नाइटराइडर्स स्पोर्टस प्राइवे​ट लिमिटेड के कुछ शेयर मॉरीशस बेस्ड एक फर्म को बाजार से कम कीमत पर बेंचे थे। इसी मामले में 24 मार्च 2017 को शाहरुख खान, जूही चावला समेंत कोलकाता नाइटराइडर के अन्य मालिकों को शो कॉज नोटिस जारी किया गया था।

मिली जानकारी के मुताबिक फेमा एक्ट के तहत 73.6 करोड़ रुपए के नुकसान के मामले में पूछ ताछ के सिलसिले में 23 जुलाई को शाहरुख खान को ईडी के समक्ष पेश होना पड़ेगा।

{ यह भी पढ़ें:- शाहरुख ने अपनी टीम में खरीदा पाकिस्तानी क्रिकेटर, फिर दिखाया पाक प्रेम }

क्या है पूरा मामला —

शाहरुख खान की बताई जाने वाली कंपनी रेड चिलीज इंटरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड का स्वामित्व इंग्लैण्ड के बरमूडा से संचालित गौरी खान के सह स्वामित्व वाली कंपनी रेड चिलीज इंटरनेशनल लिमिटेड के पास है। रेड चिलीज इंटरप्राइजेज प्राइवेट लिमिटेड ने ही 2006 में केकेआर आईपीएल फ्रेंचाइजी खरीदी थी।

{ यह भी पढ़ें:- मीसा भारती के फार्म हाउस को ईडी ने किया अटैच, बढ़ सकतीं हैं मुश्किलें }

आईपीएल की दो साल की सफलता के बाद रेड चिलीज ने नाइट राइडर्स स्पोर्टस प्राइवेट लिमिटेड (KRSPL) के रूप में एक नई कंपनी बनाकर केकेआर को इसके अंतर्गत कर दिया। इसके साथ ही कंपनी ने 2 करोड़ नए शेयर जारी किए जिनमें से 50 लाख शेयर मॉरीशस बेस्ड कंपनी द सी आइसलैंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड (TSIIL) को और 40 लाख शेयर जूही चावला के नाम पर ट्रांसफर किए गए। प्रत्येक शेयर की फेस वैल्यू 10 रुपए थी।

कुछ समय बाद जूही चावला ने भी अपने शेयर टीएसआईआईएल को बेंच दिए। जूही ने भी अपने शेयर 10 रुपए फेस बैल्यू के साथ ही ट्रांसफर किए। इस लिहाज से टीएसआईआईएल को केआरएसपीएल के 90 लाख शेयर 10 रुपए प्रति शेयर की कीमत पर ट्रांसफर कर दिए गए।

ईडी की जांच में पाया गया कि जो शेयर टीएसआईआईएल के 10 रुपए की कीमत पर दिया गया उसकी तत्कालीन बाजार में कीमत करीब 86 से 99 रुपए प्रति शेयर थी। इस लिहाज से टीएसआईआईएल ने 73.60 करोड़ का घाटा उठाया।

{ यह भी पढ़ें:- राजद विधायकों की महत्वपूर्ण बैठक, तेजस्वी नहीं देंगे इस्तीफा }

विदेशी कंपनी से संदिग्ध लेन देन के इस मामले में शाहरुख खान की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रहीं हैं। सबसे बड़ी बात ये है​ कि इस मामले में उनके साथ उनकी पत्नी गौरी खान और जूही चावला भी ईडी की जांच के घेरे में हैं। इस मामले में ईडी अब तक शाहरुख खान से कई बार पूछ ताछ कर चुकी है।