यस बैंक के फाउंडर राणा कपूर पर ईडी ने कसा शिकंजा, 20 घंटे की पूछताछ के बाद किया गिरफ्तार

rana kapoor
यस बैंक के फाउंडर राणा कपूर पर ईडी ने कसा शिकंजा, 20 घंटे की पूछताछ के बाद किया गिरफ्तार

नई दिल्ली। यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर पर प्रवर्तन​ निदेशालय (ईडी) ने पूछताछ के बाद शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। 20 घंटे की लंबी पूछताछ के बाद ईडी ने रविवार तड़के राणा कपूर को गिरफ्तार कर लिया है। ईडी राणा कपूर को मुंबई की एक अदालत में आज पेश करेगी। ईडी ने यह कार्रवाई मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों के तहत की है।

Ed Tightens Screws On Yes Bank Founder Rana Kapoor Arrested After 20 Hours Of Questioning :

अधिकारियों ने बताया कि बैंकर को तड़के करीब तीन बजे धन शोधन निवारण कानून (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि वह जांच में सहयोग नहीं कर रहे थे। केंद्रीय एजेंसी ने कपूर के आवास पर शुक्रवार रात को छापा मारा था जिसके बाद 20 घंटे से अधिक समय तक चली पूछताछ के बाद बेलार्ड एस्टेट में ईडी के कार्यालय में कपूर को गिरफ्तार कर लिया गया था।

यह गिरफ्तारी ऐसे समय में हुई है, जब इस निजी बैंक में वित्तीय अनियमितताओं और इसके संचालन में कुप्रबंधन के आरोप सामने आए हैं और आरबीआई एवं केंद्र सरकार ने इसके मामलों को नियंत्रित ​करने के लिए कार्रवाई शुरू की है। अधिकारियों ने बताया कि 62 वर्षीय कपूर को एक स्थानीय अदालत में पेश किया जाएगा ताकि उन्हें हिरासत में लिया जा सके।

मामले के जांच अधिकारी ने उस समय पीएमएलए के तहत कपूर का बयान दर्ज किया था जब उनसे यहां वर्ली इलाके में समुद्र महल में उनके आवास पर शुक्रवार रात को पहली बार पूछताछ की गई थी। उन्हें नए सिरे से पूछताछ के लिए शनिवार दोपहर को ईडी कार्यालय लाया गया था। एजेंसी ने शनिवार को मामले में अपनी जांच का दायरा बढ़ाते हुए और जानकारी एवं सबूत जुटाने के लिए दिल्ली एवं मुंबई में कपूर की तीन बेटियों के परिसरों की तलाशी ली थी।

नई दिल्ली। यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर पर प्रवर्तन​ निदेशालय (ईडी) ने पूछताछ के बाद शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। 20 घंटे की लंबी पूछताछ के बाद ईडी ने रविवार तड़के राणा कपूर को गिरफ्तार कर लिया है। ईडी राणा कपूर को मुंबई की एक अदालत में आज पेश करेगी। ईडी ने यह कार्रवाई मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों के तहत की है। अधिकारियों ने बताया कि बैंकर को तड़के करीब तीन बजे धन शोधन निवारण कानून (पीएमएलए) के प्रावधानों के तहत गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि वह जांच में सहयोग नहीं कर रहे थे। केंद्रीय एजेंसी ने कपूर के आवास पर शुक्रवार रात को छापा मारा था जिसके बाद 20 घंटे से अधिक समय तक चली पूछताछ के बाद बेलार्ड एस्टेट में ईडी के कार्यालय में कपूर को गिरफ्तार कर लिया गया था। यह गिरफ्तारी ऐसे समय में हुई है, जब इस निजी बैंक में वित्तीय अनियमितताओं और इसके संचालन में कुप्रबंधन के आरोप सामने आए हैं और आरबीआई एवं केंद्र सरकार ने इसके मामलों को नियंत्रित ​करने के लिए कार्रवाई शुरू की है। अधिकारियों ने बताया कि 62 वर्षीय कपूर को एक स्थानीय अदालत में पेश किया जाएगा ताकि उन्हें हिरासत में लिया जा सके। मामले के जांच अधिकारी ने उस समय पीएमएलए के तहत कपूर का बयान दर्ज किया था जब उनसे यहां वर्ली इलाके में समुद्र महल में उनके आवास पर शुक्रवार रात को पहली बार पूछताछ की गई थी। उन्हें नए सिरे से पूछताछ के लिए शनिवार दोपहर को ईडी कार्यालय लाया गया था। एजेंसी ने शनिवार को मामले में अपनी जांच का दायरा बढ़ाते हुए और जानकारी एवं सबूत जुटाने के लिए दिल्ली एवं मुंबई में कपूर की तीन बेटियों के परिसरों की तलाशी ली थी।