1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. बीजेपी के राज में पढ़े-लिखे युवा सड़क किनारे पकौड़े बेचने को मजबूर : मायावती

बीजेपी के राज में पढ़े-लिखे युवा सड़क किनारे पकौड़े बेचने को मजबूर : मायावती

यूपी में विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही बीएसपी आक्रामक बयानबाजी शुरू कर दी है। प्रदेश की राजनीति एक बार फिर से बीएसपी अध्यक्ष मायावती योगी सरकार पर काफी हमलावर हैं। वह किसी न किसी मुद्दे को लेकर सरकार के साथ साथ दूसरी पर्टियों को घेरने की कोशिश में लगी हुई हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

लखनऊ। यूपी में विधानसभा चुनाव नजदीक आते ही बीएसपी आक्रामक बयानबाजी शुरू कर दी है। प्रदेश की राजनीति एक बार फिर से बीएसपी अध्यक्ष मायावती योगी सरकार पर काफी हमलावर हैं। वह किसी न किसी मुद्दे को लेकर सरकार के साथ साथ दूसरी पर्टियों को घेरने की कोशिश में लगी हुई हैं। मायावती ने अब बेरोजगारी का मुद्दा उठाया है। उनका कहना है कि नौजवानों के पास नौकरी नहीं है। इसके लिए बीजेपी के साथ कांग्रेस भी इसके लिए जिम्मेदार है।

पढ़ें :- Madhya Pradesh: उपचुनावों को लेकर कांग्रेस ने शुरू की तैयारियां, कमलनाथ बोले-बूथ लेवल अपनी पकड़ बनाएं

मायावती ने ट्वीट कर कहा कि यूपी और पूरे देशभर में करोड़ों युवा और शिक्षित बेरोजगार लोग सड़क किनारे पकौड़े बेचने और अपने जीवन यापन के लिए मजदूरी करने को भी मजबूर हैं। मायावती ने कहा कि बेरोजगार नौजवानों के मां-बाप और परिवारों की व्यथा को वह आसानी से समझ सकती हैं। जो दुखद, दुर्भाग्यपूर्ण और अति-चिंताजनक है।

पढ़ें :- राहुल गांधी का मोदी सरकार पर हमला, कहा-महंगाई, किसान और पेगासस के मुद्दें पर करें चर्चा

मायावती ने ट्वीट कर कहा कि देश में नौजवानों के लिए ऐसी भयावह स्थिति पैदा करने के लिए बीएसपी केंद्र की बीजेपी सरकारके साथ ही कांग्रेस को भी बराबर जिम्मेदार मानती है। कांग्रेस ने राज्य में लंबे अरसे तक एकछत्र राज किया। मायावती ने कहा कि कांग्रेस अपने कार्यकलापों की वजह से ही केंद्र और यूपी की सत्ता से बाहर हो गई।

मायावती ने हमला बोलते हुए कहा कि अगर बीजेपी भी कांग्रेस पार्टी के नक्शेकदम पर ही चलती रही, तो फिर इस पार्टी की भी वही दुर्दशा होगी जो कांग्रेस की हो चुकी है। साथ ही उन्होंने इस मुद्दे को लेकर बीजेपी को गंभीरता से विचार करने की हिदायत दी। उन्होंने कहा कि बीजेपी को जरूर सोचना चाहिए कि उनकी ऐसी नीतियों और कार्यकलापों से न तो जनकल्याण और न ही देश की आत्मनिर्भरता संभव हो पा रही है।

पढ़ें :- प्रशांत किशोर के कांग्रेस में जल्द शामिल होेने की अटकलें, पार्टी में चल रही चर्चा!

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...