गिरिराज सिंह के खिलाफ आचार संहिता उल्लंघन का मामला दर्ज

e

बेगूसराय। बिहार के बेगूसराय से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन यानि एनडीए के उम्मीदवार गिरिराज सिंह द्वारा दिए गए एक बयान को धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने वाला बताते हुए उनके खिलाफ आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन करने का मामला दर्ज किया गया है।

Election Commission File Case Against Giriraj Singh For His Controversial Statement :

सिंह पर आरोप है कि बुधवार को एक चुनावी जनसभा के दौरान उन्होंने अल्पसंख्यकों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला बयान दिया है जो आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के दायरे में आता है। बेगूसराय के जिला निर्वाचन पदाधिकारी राहुल कुमार ने मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए गुरुवार को गिरिराज के खिलाफ बेगूसराय के नगर थाना में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज कराया।

अपने बयानों से चर्चा में रहने वाले गिरिराज ने बुधवार को जनसभा में कहा थाए जो वंदेमातरम् नहीं कहेगा, उसे कब्र के लिए तीन हाथ जगह भी नहीं मिलेगी। जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि गिरिराज का यह बयान अल्पसंख्यकों की धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने वाला हैए जो आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने गिरिराज के खिलाफ जनप्रतिनिधित्व कानून 1951 की धारा 125 एवं 123ए भादवि की धारा 153 ए, 153 बी, 295 ए, 171 सी, 188, 298 तथा 505 दो के तहत गुरुवार को नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है।

बेगूसराय। बिहार के बेगूसराय से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन यानि एनडीए के उम्मीदवार गिरिराज सिंह द्वारा दिए गए एक बयान को धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने वाला बताते हुए उनके खिलाफ आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन करने का मामला दर्ज किया गया है। सिंह पर आरोप है कि बुधवार को एक चुनावी जनसभा के दौरान उन्होंने अल्पसंख्यकों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वाला बयान दिया है जो आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन के दायरे में आता है। बेगूसराय के जिला निर्वाचन पदाधिकारी राहुल कुमार ने मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए गुरुवार को गिरिराज के खिलाफ बेगूसराय के नगर थाना में आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन का मामला दर्ज कराया। अपने बयानों से चर्चा में रहने वाले गिरिराज ने बुधवार को जनसभा में कहा थाए जो वंदेमातरम् नहीं कहेगा, उसे कब्र के लिए तीन हाथ जगह भी नहीं मिलेगी। जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा कि गिरिराज का यह बयान अल्पसंख्यकों की धार्मिक भावना को ठेस पहुंचाने वाला हैए जो आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन है। जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने गिरिराज के खिलाफ जनप्रतिनिधित्व कानून 1951 की धारा 125 एवं 123ए भादवि की धारा 153 ए, 153 बी, 295 ए, 171 सी, 188, 298 तथा 505 दो के तहत गुरुवार को नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई है।