1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर ज्‍वॉइन कर सकते हैं कांग्रेस

चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर ज्‍वॉइन कर सकते हैं कांग्रेस

चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर जल्द कांग्रेस ज्‍वॉइन कर सकते हैं। बता दें कि बीते मंगलवार को प्रशांत की कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी के अलावा राहुल गांधी व प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ मुलाकात की थी। इसके एक दिन बाद पार्टी के सूत्रों ने यह संकेत दिया है। इस मुलाकात को राज्‍यों में होने वाले आगामी विधानसभा चुनावों से 'कुछ बड़ा' और वर्ष 2024 के आम चुनाव के मद्देनज़र उठाया गया कदम बताया है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Election Strategist Prashant Kishor May Join Congress

नई दिल्ली। चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर जल्द कांग्रेस ज्‍वॉइन कर सकते हैं। बता दें कि बीते मंगलवार को प्रशांत की कांग्रेस प्रमुख सोनिया गांधी के अलावा राहुल गांधी व प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ मुलाकात की थी। इसके एक दिन बाद पार्टी के सूत्रों ने यह संकेत दिया है। इस मुलाकात को राज्‍यों में होने वाले आगामी विधानसभा चुनावों से ‘कुछ बड़ा’ और वर्ष 2024 के आम चुनाव के मद्देनज़र उठाया गया कदम बताया है।

पढ़ें :- आम के स्वाद को लेकर क्यों घिरे राहुल गांधी, सीएम योगी ने कहा-इनका टेस्ट ही विभाजनकारी है

सूत्रों ने बताया कि ये बैठक पंजाब या उत्‍तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों को लेकर नहीं थी। सूत्रों की मानें तो वर्ष 2024 के लोकसभा चुनावों में कांग्रेस पार्टी की रणनीति को तैयार करने में प्रशांत किशोर महत्‍वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। बीते दिनों में एक टीवी इंटरव्‍यू में प्रशांत किशोर कहा था कि ‘मैं जो करता हूं, अब उसे जारी नहीं रखना चाहता हूं। मैंने काफी कुछ किया है। मेरे लिए अब ब्रेक लेने और जीवन में कुछ और करने का समय है। मैं इस जगह को छोड़ना चाहता हूं। राजनीति में फिर से वापसी की बात पर उन्होंने कहा कि मैं एक विफल नेता हूं। मैं वापस जाऊंगा और देखूंगा कि मुझे क्या करना है?

उन्होंने बंगाल चुनाव के नतीजों पर कहा था कि भले ही चुनावी नतीजे अभी एकतरफा दिख रहे हों, लेकिन यह बेहद कड़ा मुकाबला था। हम बहुत अच्छा करने को लेकर आश्वस्त थे। बीजेपी क बड़े पैमाने पर दुष्प्रचार करने की कोशिश कर रही थी कि वे बंगाल जीत रहे हैं। बता दें कि प्रशांत किशोर कुछ समय तक जनता दल यूनाइटेड के साथ जुड़े थे, लेकिन सियासत का यह अनुभव उनके लिए अच्‍छा नहीं रहा था।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
X