लखनऊ दर्शन कराएंगी इलेक्ट्रिक बसें, जानें रूट और किराया

Electric
लखनऊ दर्शन कराएंगी इलेक्ट्रिक बसें, जानें रूट और किराया

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सिटी ट्रांसपोर्ट ने एक जुलाई से दुबग्गा से जनेश्वर मिश्र पार्क के बीच लखनऊ दर्शन इलेक्ट्रिक बस शुरू करने जा रहा है। इस रूट को मार्ग संख्या ई-03 नंबर दिया गया है। यह इलेक्ट्रिक बसें शहर में प्रमुख ऐतिहासिक धरोहरों से होकर गुजरेंगी। हर आधे घंटे के अंतराल पर यात्रियों को बस मिलेगी जिससे वे पर्यटन स्थलों का भ्रमण कर आसानी से वापसी में बस पकड़कर गंतव्य तक पहुंच सकेंगे।

Electric Buses Will Run On This Route :

दरअसल, इस पूरे रूट की दूरी 18.06 किमी. इसका न्यूनतम किराया दस और अधिकतम 30 रुपया निर्धारित किया गया है। जीरो से तीन किमी. दूरी का दस रुपया होगा। चूंकि दुबग्गा से बालागंज की दूरी 3.5 किमी. है लिहाजा पहले स्टॉप के लिए यात्री को न्यूनतम 15 रुपया देना होगा। एआरएम सतीश कुमार पॉल ने बताया कि अभी तक 14 इलेक्ट्रिक बस ई-01 रूट दुबग्गा से ग्रीनवुड अपार्टमेंट गोमतीनगर के बीच चल रही थीं। पहली से 28 इलेक्ट्रिक बसें ऑनरूट हो जाएंगी। शेष 12 बसों का संचालन भी जल्द शुरू कर दिया जाएगा।

वहीं, दुबग्गा से बालागंज, कोनेश्वर मंदिर, घंटाघर, रूमी गेट, छोटा इमामबाड़ा, बड़ा इमामबाड़ा, रेजीडेंसी, मोतीमहल, सहारागंज, दैनिक जागरण चौराहा, अंबेडकर पार्क चौराहा, सहारा इंडिया परिवार गेट, जनेश्वर मिश्र पार्क तक पर्यटक और आम यात्री आवागमन कर सकेंगे।

प्रमुख स्थलों का किराया (रुपया)

दुबग्गा से बालागंज-15

दुबग्गा से घंटाघर-20

दुबग्गा से बड़ा इमामबाड़ा-20

दुबग्गा से रेजीडेंसी-20

दुबग्गा से सहारागंज-20

दुबग्गा से दैनिक जागरण चौराहा-25

दुबग्गा से अंबेडकर पार्क-30

दुबग्गा से जनेश्वर मिश्र पार्क-30

बता दें, प्रबंध निदेशक नगर बस आरिफ सकलैन ने बताया क‍ि 1 जुलाई से 14 और इलेक्ट्रिक बसों की शुरुआत की जा रही है। यह बसें लखनऊ के पर्यटन स्थलों और विभिन्न पर्यटक स्थल होते हुए गुजरेंगी। रूट और किराया तय हो चुका है।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सिटी ट्रांसपोर्ट ने एक जुलाई से दुबग्गा से जनेश्वर मिश्र पार्क के बीच लखनऊ दर्शन इलेक्ट्रिक बस शुरू करने जा रहा है। इस रूट को मार्ग संख्या ई-03 नंबर दिया गया है। यह इलेक्ट्रिक बसें शहर में प्रमुख ऐतिहासिक धरोहरों से होकर गुजरेंगी। हर आधे घंटे के अंतराल पर यात्रियों को बस मिलेगी जिससे वे पर्यटन स्थलों का भ्रमण कर आसानी से वापसी में बस पकड़कर गंतव्य तक पहुंच सकेंगे। दरअसल, इस पूरे रूट की दूरी 18.06 किमी. इसका न्यूनतम किराया दस और अधिकतम 30 रुपया निर्धारित किया गया है। जीरो से तीन किमी. दूरी का दस रुपया होगा। चूंकि दुबग्गा से बालागंज की दूरी 3.5 किमी. है लिहाजा पहले स्टॉप के लिए यात्री को न्यूनतम 15 रुपया देना होगा। एआरएम सतीश कुमार पॉल ने बताया कि अभी तक 14 इलेक्ट्रिक बस ई-01 रूट दुबग्गा से ग्रीनवुड अपार्टमेंट गोमतीनगर के बीच चल रही थीं। पहली से 28 इलेक्ट्रिक बसें ऑनरूट हो जाएंगी। शेष 12 बसों का संचालन भी जल्द शुरू कर दिया जाएगा। वहीं, दुबग्गा से बालागंज, कोनेश्वर मंदिर, घंटाघर, रूमी गेट, छोटा इमामबाड़ा, बड़ा इमामबाड़ा, रेजीडेंसी, मोतीमहल, सहारागंज, दैनिक जागरण चौराहा, अंबेडकर पार्क चौराहा, सहारा इंडिया परिवार गेट, जनेश्वर मिश्र पार्क तक पर्यटक और आम यात्री आवागमन कर सकेंगे।

प्रमुख स्थलों का किराया (रुपया)

दुबग्गा से बालागंज-15 दुबग्गा से घंटाघर-20 दुबग्गा से बड़ा इमामबाड़ा-20 दुबग्गा से रेजीडेंसी-20 दुबग्गा से सहारागंज-20 दुबग्गा से दैनिक जागरण चौराहा-25 दुबग्गा से अंबेडकर पार्क-30 दुबग्गा से जनेश्वर मिश्र पार्क-30 बता दें, प्रबंध निदेशक नगर बस आरिफ सकलैन ने बताया क‍ि 1 जुलाई से 14 और इलेक्ट्रिक बसों की शुरुआत की जा रही है। यह बसें लखनऊ के पर्यटन स्थलों और विभिन्न पर्यटक स्थल होते हुए गुजरेंगी। रूट और किराया तय हो चुका है।