1. हिन्दी समाचार
  2. ऑटो
  3. Electric Racing Car : IIT मद्रास के छात्रों ने बनाई पहली इलेक्ट्रिक रेसिंग कार, जानें खासियत

Electric Racing Car : IIT मद्रास के छात्रों ने बनाई पहली इलेक्ट्रिक रेसिंग कार, जानें खासियत

Electric Racing Car : बीते कुछ सालों में दुनिया भर में इलेक्ट्रिक वाहनों (EV) की मांग बढ़ती जा रही है। इसकी सबसे बड़ी वजह है कि सभी देश पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel) पर निर्भरता को कम करते हुए प्रदूषण में कमी लाना चाहते हैं। इसी बीच भारत के छात्रों ने एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Electric Racing Car : बीते कुछ सालों में दुनिया भर में इलेक्ट्रिक वाहनों (EV) की मांग बढ़ती जा रही है। इसकी सबसे बड़ी वजह है कि सभी देश पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel) पर निर्भरता को कम करते हुए प्रदूषण में कमी लाना चाहते हैं। इसी बीच भारत के छात्रों ने एक बड़ी उपलब्धि हासिल की है।

पढ़ें :- यूपी देश के टॉप-4 राज्यों में शामिल, 75 लाख से अधिक नल कनेक्शन देने का आंकड़ा किया पार

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान मद्रास (IIT Madras) के छात्रों ने सोमवार को संस्थान की पहली इलेक्ट्रिक फॉर्मूला रेसिंग कार लॉन्च (First Electric Formula Racing Car Launched) की है। इसके साथ ही वे इंजीनियरिंग छात्रों को रियल वर्ल्ड टेक्निकल एक्सपर्टीज (Real World Technical Expertise) सिखाने का इरादा रखते हैं। आईआईटी मद्रास (IIT Madras)  ने बताया कि फॉर्मूला कार RF23 (आरएफ23) को पूरी तरह से ‘टीम रफ्तार’ के छात्रों ने बनाया है जिसमें एक साल का लंबा वक्त लगा है। इस दौरान टीम ने डिजाइन, मैन्युफेक्चरिंग और टेस्टिंग किया।

पढ़ें :- Shanti Bhushan Passes Away: पूर्व कानून मंत्री शांति भूषण नहीं रहे, 97 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

पेट्रोल-डीजल कार से है तेज

परफॉर्मेंस की बात करें तो, छात्रों को इलेक्ट्रिक ड्राइव (Electric Drive)के हाई पावर को देखते हुए स्पीड और लैप टाइम में अहम सुधार की उम्मीद है, जो पहले के इंटरनल कंब्शन इंजन (ICE) मॉडल की तुलना में बेहतर है। टीम रफ्तार में विभिन्न विषयों के 45 छात्र शामिल हैं और यह आईआईटी मद्रास (IIT Madras)  में सेंटर फॉर इनोवेशन (CFI) की प्रतियोगिता टीमों में से एक है। बयान में कहा कि टीम अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व करने, उद्योग-मानक इंजीनियरिंग प्रथाओं को बढ़ावा देने और इंजीनियरिंग छात्रों के बीच वास्तविक दुनिया की तकनीकी विशेषज्ञता का पोषण करने के लिए तत्पर है।”

टीम रफ्तार का लक्ष्य दुनिया में है सर्वश्रेष्ठ फॉर्मूला छात्र टीम बनना 

‘RF23’ को पेश करने के बाद, प्रोफेसर वी कामकोटि, निदेशक, IIT मद्रास ने कहा कि स्थायी परिवहन की ओर बढ़ने के वैश्विक रुझान के अनुरूप ICE से इलेक्ट्रिक वाहन में बदलाव उतना ही प्रबल था जितना जरूरी था। वैश्विक इलेक्ट्रिक वाहन उद्योग (The Global Electric Vehicle Industry)अभी भी अपनी प्रारंभिक अवस्था में है, इस क्षेत्र में विकास और तकनीकी उन्नति की संभावना बहुत बड़ी है। टीम रफ्तार का लक्ष्य दुनिया में सर्वश्रेष्ठ फॉर्मूला छात्र टीम बनना है। यह निरंतर नवाचार और सतत तकनीकी उन्नति के साथ देश में फॉर्मूला स्टूडेंट कल्चर को बढ़ावा देने का इरादा रखता है।

एक फॉर्मूला छात्र टीम के रूप में, रफ्तार दुनिया भर के शीर्ष इंजीनियरिंग संस्थानों के खिलाफ फॉर्मूला छात्र प्रतियोगिताओं में प्रतिस्पर्धा करने के लिए हर साल एक हाई परफॉर्मेंस वाली रेस कार की डिजाइनिंग, निर्माण और रेसिंग में माहिर है।

पढ़ें :- Budget 2023: लोगों को बजट से क्या हैं उम्मीदें? किसानों के लिए किए जा सकते हैं खास ऐलान

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...