1. हिन्दी समाचार
  2. दिल्ली
  3. Electric vehicle day 2021 : इलेक्ट्रिक वाहनों को भविष्य की माना जा रहा है मोबिलिटी और ऑटो कंपनियां बेहतर बनाने में हैं जुटी

Electric vehicle day 2021 : इलेक्ट्रिक वाहनों को भविष्य की माना जा रहा है मोबिलिटी और ऑटो कंपनियां बेहतर बनाने में हैं जुटी

Electric vehicle day 2021: दुनियाभर में इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric Vehicles) को बढ़ावा देने के लिए आज यानी 9 सितंबर को विश्व इलेक्ट्रिक वाहन दिवस (Electric vehicle Day) मनाया जा रहा है। बता दें कि वाहनों से बढ़ते प्रदूषण के कारण आज दुनिया कंबशन इंजन से इलेक्ट्रिक मोटर (Electric Vehicles) पर शिफ्ट हो रही है। इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric Vehicles) को भविष्य की मोबिलिटी माना जा रहा है और ऑटो कंपनियां इन्हें बेहतर बनाने में जुटी हुई हैं।

By संतोष सिंह 
Updated Date

Electric vehicle day 2021: दुनियाभर में इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric Vehicles) को बढ़ावा देने के लिए आज यानी 9 सितंबर को विश्व इलेक्ट्रिक वाहन दिवस (Electric vehicle Day) मनाया जा रहा है। बता दें कि वाहनों से बढ़ते प्रदूषण के कारण आज दुनिया कंबशन इंजन से इलेक्ट्रिक मोटर (Electric Vehicles) पर शिफ्ट हो रही है। इलेक्ट्रिक वाहनों (Electric Vehicles) को भविष्य की मोबिलिटी माना जा रहा है और ऑटो कंपनियां इन्हें बेहतर बनाने में जुटी हुई हैं।

पढ़ें :- अब तक की सबसे बड़ी हेरोइन की खेप हुई बरामद, जिस पोर्ट पर मिली उसका स्वामित्व अडानी ग्रुप के पास
Jai Ho India App Panchang

ceew.in के मुताबिक पिछले कुछ सालों में वैश्विक बाजार के साथ घरेलू बाजार में भी इलेक्ट्रिक वाहनों की मांग बढ़ी है। इलेक्ट्रिक व्हीकल इंडस्ट्री (Electric Vehicle Industry) को आगे बढ़ाने में दोपहिया इलेक्ट्रिक वाहनों का अहम योगदान है। बता दें कि भारत पहले ही 2021 में पिछले साल की तुलना में अधिक इलेक्ट्रिक मोटर व्हीकल बेच चुका है। जनवरी और सितंबर 2021 के बीच 1,53,445 यूनिट्स की बिक्री हुई है, जिसमें 63,740 और 5,631 शामिल हैं। वित्त वर्ष 2021 —2022 में अब तक यूपी, कर्नाटक और तमिलनाडु शीर्ष 3 राज्य हैं। इसमें अकेले यूपी ने बिक्री का 23 फीसदी योगदान किया है।

भारत में 2020 तक इलेक्ट्रिक व्हीकल (Electric Vehicles) लगभग पांच बिलियन डॉलर का था। 2026 तक इसके 47 फीसदी डॉलर तक पहुंचने की संभावना है। 2021-2026 तक इसमें सालाना तौर पर लगभग 44 फीसदी तक वृद्धि देखी जाएगी।

ये शहर ज्यादा प्रदूषित

रिपोर्ट के मुताबिक 30 सबसे प्रदूषित शहरों में मेरठ, आगरा, मुजफ्फरनगर, फरीदाबाद, जींद, हिसार, फतेहाबाद, बंधवारी, गुरुग्राम, यमुना नगर, रोहतक, और धारूहेड़ा और मुजफ्फरपुर शामिल हैं। ग्रीनपीस साउथ ईस्ट एशिया (Greenpeace South East Asia) की ओर से आईक्यू एयर डाटा (IQ Air Data)के आधार पर बताया गया कि हवा में पीएम 2.5 की वजह से दिल्ली में 2020 में 54,000 लोगों की जान गई।

पढ़ें :- Breakingnews- Mahant Narendra Giri Death : महंत नरेंद्र गिरि ने सुसाइड नोट में लिखा उत्तराधिकारी का नाम,बताया कौन है गुनहगार

भारत में प्रदूषण की स्थिति भयानक

अब भारत में प्रदूषण और इलेक्ट्रिक गाड़ियों की जरूरत संबंधी आंकड़ों को देखते हैं। भारत में लगातार बढ़ रहे वायु प्रदूषण (Air Pollution ) के चलते 2019 में 16 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हुई। मरने वालों में बड़ी संख्या नवजात बच्चों की रही। इनमें से अधिकतर बच्चे एक महीने की उम्र के थे।

स्विस संस्था आईक्यूएयर की वर्ल्ड एयर क्वालिटी रिपोर्ट 2020 के मुताबिक दुनिया के 30 सबसे प्रदूषण शहरों में से 22 शहर भारत के हैं। इस रिपोर्ट को को दुनिया के 106 देशों के डेटा के आधार पर तैयार किया गया है। इसे पूरे साल हवा में पीएम 2.5 के औसत के आधार पर तैयार किया गया है। पीएम 2.5 को कैंसर और हार्ट अटैक जैसी बीमारियों के लिए भी जिम्मेदार माना गया है।

ceew.in के मुताबिक  पूरी दुनिया में मौजूदा समय में इलेक्ट्रिक व्हीकल सेक्टर (Electric Vehicle Sector) काफी बढ़ावा दिया जा रहा है। अब पेट्रोल-डीजल की कार बनाने वाली कंपनियां इलेक्ट्रिक व्हीकल की ओर रुख कर रही है। हालांकि ईवी इकोसिस्टम (EV Ecosystem) में अभी काफी काम बाकी है। इलेक्ट्रिक कार को चलाने के लिए चार्जिंग स्टेशन का होना बहुत जरूरी है।

मोटे तौर पर देखा जाए तो हर इलेक्ट्रिक व्हीकल (Electric Vehicle) एक डेडिकेटेड मोबाइल ऐप (Dedicated Mobile App) के साथ आता है, जो आपको नजदीकी चार्जिंग स्टेशन की जानकारी देता है। लेकिन ईवी प्लग्स एक ऐसा ऐप लेकर आया है, जो कारचालकों को आसपास के सभी चार्जिंग स्टेशन की जानकारी सेकेंड्स में देगा।

पढ़ें :- Haji Ikram Qureshi jeevan Parichay : हाजी इकराम कुरैशी ने मोदी लहर को साबित किया झूठा, पहली बार बने विधायक

एंड्रॉयड और iOS दोनों के लिए किया पेश

बता दें कि ईवी प्लग्स (EV Plugs) ने हाल ही में इस ऐप को लॉन्च किया है। यहां आपको 1000 वेरिफाइड लिस्टिंग के साथ टिप्स भी मिलते हैं। यानी अब आप इस ऐप का इस्तेमाल करके दूसरे फीचर्स का मजा ले सकते हैं। इस ऐप को आप www.evplugs.co.in से डाउनलोड कर सकते हैं, नहीं तो आप इसे गूगल प्ले स्टोर (Google Play Store) या एप्पल स्टोर से भी डाउनलोड कर सकते हैं। ईवी प्लग्स की स्थापना इसी साल मनीष नारंग, कपिल नारंग और अश्विनी अरोड़ा ने की थी।

कैसे करता है काम?

इस ऐप को पहले डाउनलोड करें और इंस्टॉल करने के बाद इसे GS एक्सेस दे दें।

इसके बाद ऐप को बताएं कि आप कार या बाइक के लिए EV चार्जर ढूंढ रहे हैं।

आप उस ब्रैंड या वाहन को भी चुन सकते हैं, जिसके लिए EV चार्जर ढूंढ रहे हैं।

पढ़ें :- Upendra Nath Paswan jeevan Parichay : शिक्षक उपेंद्रनाथ पासवान विरोधियों का चक्रव्यूह तोड़ बने गुरु, पहुंचे सूबे की सबसे बड़ी पंचायत

इसके बाद ऐप आपको सभी नजदीकी ईवी चार्जिंग स्टेशन (EV Charging Station)  की पूरी लिस्ट दिखा देगा।

आप इस ऐप की मदद से उन स्टेशन तक नेविगेट भी कर सकते हैं।

नए वेंचर के लॉन्च पर मनीष नारंग ने कहा कि बाजार सभी कैटेगरी (2 व्हीलर, 3 व्हीलर और 4 व्हीलर या एचएमवी) और डिफॉल्ट (Default) रूप से ईवी चार्जिंग स्टेशन (EV Charging Station) से भर जाएगा। नारंग ने बताया कि ईवी प्लग्स ऐप मूल रूप से ईवी चलाने वाले लोगों को संबोधित करती है। इसके अलावा कंपनी रीयल टाइम में लिस्टिंग (Listing in real time) को अपडेट करती रहेगी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...