ऑफिस ट्रिप पर शारीरिक संबंध बनाते वक्त शख्स की मौत, कोर्ट ने कंपनी को माना जिम्मेदार

court
ऑफिस ट्रिप पर शारीरिक संबंध बनाते वक्त शख्स की मौत, कोर्ट ने कंपनी को माना जिम्मेदार

नई दिल्ली। पेरिस (Paris) में ऐसी घटना हुई, जिसने हर किसी को सन्न कर दिया। फ्रांस की कोर्ट ने एक कर्मचारी की सेक्स के दौरान हुई मौत के लिए उसकी कंपनी की जिम्मेदारी तय की है। शख्स की मौत को “कार्यस्थल दुर्घटना” करार देते हुए पेरिस की अदालत ने फैसला सुनाया कि कंपनी को उस कर्मचारी के परिवार को मुआवजा देना होगा। मृतक कर्मचारी रेलवे कंपनी के लिए बिजनेस ट्रिप पर गया था, जहां सेक्स के दौरान हार्ट अटैक से उसकी मौत हो गई।  

Employer Liable For Workers Death After Intimate Act On Business Trip Court Rules :

सूत्रों के मुताबिक, मृतक शख्स की पहचान एम जेवियर के रूप में हुई है। जेवियर को रेलवे कंसंट्रक्शन कंपनी ने 2013 में सेंट्रल फ्रांस के एक होटल में बिजनेस मीटिंग के लिए भेजा था। जहां उसने एक अजनबी के साथ सेक्स किया और उसकी मौत हो गई। बता दें कि घटना के 6 साल बाद मामले पर कोर्ट का फैसला आया है।  

कंपनी ने अदालत में तर्क दिया कि एम जेवियर की यौन गतिविधि काम का हिस्सा नहीं थीं। इसके अलावा, चूंकि उस आदमी की मौत एक अलग होटल में हुई थी, जो उसे सौंपा नहीं गया था। कंपनी ने कर्मचारी की मौत पर कहा- ‘उन्होंने काम को बाधित कर व्यक्तिगत रुचि दिखाई। इस वजह से, वह बिजनेस ट्रिप पर नहीं हुआ।’

कंपनी ने यह भी कहा कि उसके कर्मचारी की मौत का काम से कोई लेना देना नहीं है। बल्कि उन्होंने अंजान महिला के साथ संबंध बनाए। अदालत ने कहा कि यौन क्रिया “रोज़मर्रा की जिंदगी का मामला है, जैसे शॉवर या भोजन लेना।” कोर्ट ने कंपनी को कर्मचारी के परिवार को मुआवजा देने के निर्देश दिए हैं।  

नई दिल्ली। पेरिस (Paris) में ऐसी घटना हुई, जिसने हर किसी को सन्न कर दिया। फ्रांस की कोर्ट ने एक कर्मचारी की सेक्स के दौरान हुई मौत के लिए उसकी कंपनी की जिम्मेदारी तय की है। शख्स की मौत को "कार्यस्थल दुर्घटना" करार देते हुए पेरिस की अदालत ने फैसला सुनाया कि कंपनी को उस कर्मचारी के परिवार को मुआवजा देना होगा। मृतक कर्मचारी रेलवे कंपनी के लिए बिजनेस ट्रिप पर गया था, जहां सेक्स के दौरान हार्ट अटैक से उसकी मौत हो गई।   सूत्रों के मुताबिक, मृतक शख्स की पहचान एम जेवियर के रूप में हुई है। जेवियर को रेलवे कंसंट्रक्शन कंपनी ने 2013 में सेंट्रल फ्रांस के एक होटल में बिजनेस मीटिंग के लिए भेजा था। जहां उसने एक अजनबी के साथ सेक्स किया और उसकी मौत हो गई। बता दें कि घटना के 6 साल बाद मामले पर कोर्ट का फैसला आया है।   कंपनी ने अदालत में तर्क दिया कि एम जेवियर की यौन गतिविधि काम का हिस्सा नहीं थीं। इसके अलावा, चूंकि उस आदमी की मौत एक अलग होटल में हुई थी, जो उसे सौंपा नहीं गया था। कंपनी ने कर्मचारी की मौत पर कहा- 'उन्होंने काम को बाधित कर व्यक्तिगत रुचि दिखाई। इस वजह से, वह बिजनेस ट्रिप पर नहीं हुआ।' कंपनी ने यह भी कहा कि उसके कर्मचारी की मौत का काम से कोई लेना देना नहीं है। बल्कि उन्होंने अंजान महिला के साथ संबंध बनाए। अदालत ने कहा कि यौन क्रिया "रोज़मर्रा की जिंदगी का मामला है, जैसे शॉवर या भोजन लेना।" कोर्ट ने कंपनी को कर्मचारी के परिवार को मुआवजा देने के निर्देश दिए हैं।