जम्मू-कश्मीर : मुठभेढ़ में एक जवान शहीद, आतंकियों के दो मददगार गिरफ्तार

j&k encounter
जम्मू-कश्मीर : मुठभेढ़ में एक जवान शहीद, आतंकियों के दो मददगार गिरफ्तार

नई दिल्ली। जम्मू- कश्मीर में सेना और आतंकियो के बीच मुठभेढ़ का सिलसिला रूकने का नाम नही ले रहा है। रविवार सुबह भी हुई मुठभेढ़ में एक जवान शहीद हो गया। जिसके बाद आतंकी एनकाउंटर साइट से फरार हो गए। फिलहाल सेना ने उनके दो मददगारों को दबोच लिया, जिनसे पूछताछ की जा रही है। वही सेना के जवान लगातार सर्च आपरेशन चला रहे है। शहीद जवान परवेज अहमद को जवानों ने सलामी दी।

Encounter At Jammu Kashmir Early Morning Sog Jawan Martyred :

बताया जा रहा है कि सेना को आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद बटमालू के दियारवानी में घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू किया था। इसी दौरान आतंकियों ने सेना के जवानों पर फायरिंग शुरू कर दी, जिसके जवाब में सुरक्षाबलों ने भी फायरिंग की। हालांकि, इस दौरान स्पेशल ग्रुप ऑपरेशन का एक जवान आतंकियों की गोली का निशाना बन गया और शहीद हो गया।

डीजीपी एसपी वैद ने बताया कि आतंकियों के बारे सूचना मिलने के बाद श्रीनगर के बटमालू में सर्च ऑपरेशन चलाया गया। जब जवान आतंकियों के करीब पहुंचे तो उन लोगों ने फायरिंग शुरु कर दी। दोनों तरफ से हो रही फायरिंग के दौरान स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) का एक जवान शहीद हो गया।

डीजीपी ने ट्वीट कर बताया कि मुठभेड़ के दौरान जम्मू कश्मीर पुलिस का एक जवान घायल भी हुआ है। साथ ही 2 सीआरपीएफ जवान भी जख्मी हुए हैं। शहीद जवान एसओजी एसपी के पीएसओ की जिम्मेदारी संभाल रहा था। फिलहाल फायरिंग रुक गई है और सुरक्षाबलों ने आतंकी के दो साथियों को गिरफ्तार कर लिया है।

बता दें कि जिस घर में आतंकी छिपे थे, वहां खून के निशान मिले है। सुरक्षाबलों के मुताबिक इस गोलीबारी में आतंकी भी घायल हुए है। जिसके चलते आसपास के इलाकों में आतंकियों की तलाश की जा रही है। सेना सूत्रों के मुताबिक लश्कर कमांडर नवीद के छिपे होने की खबर मिली थी। लेकिन ऑपरेशन के दौरान ही वह भागने में कामयाब हो गया। अब आतंकियों के दो मददगारों से पूछताछ की जा रही है।

नई दिल्ली। जम्मू- कश्मीर में सेना और आतंकियो के बीच मुठभेढ़ का सिलसिला रूकने का नाम नही ले रहा है। रविवार सुबह भी हुई मुठभेढ़ में एक जवान शहीद हो गया। जिसके बाद आतंकी एनकाउंटर साइट से फरार हो गए। फिलहाल सेना ने उनके दो मददगारों को दबोच लिया, जिनसे पूछताछ की जा रही है। वही सेना के जवान लगातार सर्च आपरेशन चला रहे है। शहीद जवान परवेज अहमद को जवानों ने सलामी दी।बताया जा रहा है कि सेना को आतंकवादियों की मौजूदगी की जानकारी मिलने के बाद बटमालू के दियारवानी में घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू किया था। इसी दौरान आतंकियों ने सेना के जवानों पर फायरिंग शुरू कर दी, जिसके जवाब में सुरक्षाबलों ने भी फायरिंग की। हालांकि, इस दौरान स्पेशल ग्रुप ऑपरेशन का एक जवान आतंकियों की गोली का निशाना बन गया और शहीद हो गया।डीजीपी एसपी वैद ने बताया कि आतंकियों के बारे सूचना मिलने के बाद श्रीनगर के बटमालू में सर्च ऑपरेशन चलाया गया। जब जवान आतंकियों के करीब पहुंचे तो उन लोगों ने फायरिंग शुरु कर दी। दोनों तरफ से हो रही फायरिंग के दौरान स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) का एक जवान शहीद हो गया।डीजीपी ने ट्वीट कर बताया कि मुठभेड़ के दौरान जम्मू कश्मीर पुलिस का एक जवान घायल भी हुआ है। साथ ही 2 सीआरपीएफ जवान भी जख्मी हुए हैं। शहीद जवान एसओजी एसपी के पीएसओ की जिम्मेदारी संभाल रहा था। फिलहाल फायरिंग रुक गई है और सुरक्षाबलों ने आतंकी के दो साथियों को गिरफ्तार कर लिया है।बता दें कि जिस घर में आतंकी छिपे थे, वहां खून के निशान मिले है। सुरक्षाबलों के मुताबिक इस गोलीबारी में आतंकी भी घायल हुए है। जिसके चलते आसपास के इलाकों में आतंकियों की तलाश की जा रही है। सेना सूत्रों के मुताबिक लश्कर कमांडर नवीद के छिपे होने की खबर मिली थी। लेकिन ऑपरेशन के दौरान ही वह भागने में कामयाब हो गया। अब आतंकियों के दो मददगारों से पूछताछ की जा रही है।