जम्मू-कश्मीर में फिर हुई आतंकियो व सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़, ISJK के 2 आतंकी मारे गये

Terrorist organization
जम्मू-कश्मीर में फिर हुई आतंकियो व सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़, ISJK के 2 आतंकी मारे गये

जम्मू। जहां एक तरफ पूरी दुनिया में कोरोना का कहर चल रहा है वहीं जम्मू-कश्मीर में आये दिन आतंकियों और हमारे भारतीय जवानो के बीच मुठभेड़ जारी है। एकबार फिर जम्मू कश्मीर के कुलगाम में हुई एक मुठभेड़ में सुरक्षकर्मियों ने इस्लामिक स्टेट से प्रेरित आतंकवादी संगठन आईएसजेके (इस्लामिक स्टेट ऑफ जम्मू एंड कश्मीर) के दो आतंकवादियों को मार गिराया है।

Encounter Between Terrorists And Security Forces In Jammu And Kashmir Again 2 Isjk Terrorists Killed :

आतंकियों की पहचान आदिल अहमद वानी उर्भ अबु इब्राहिम और शाहहीन बाशिर थोकेर के रूप में हुई है। सूत्रों ने बाताया कि दोनों आतंकवादी आईएसजेके से जुड़े हुए थे। दोनों आतंकी कश्मीर के शोपियां जिले के रहने वाले थे। वानी 12 सितंबर 2017 से एक्टिव था तो थोकेर पिछले साल 15 अगस्त को आतंकी संगठन में शामिल हुआ था। सूत्रों ने बताया कि थोके लश्कर ए तैयबा को छोड़कर आईएसजेके में शामिल हुआ था।

आधिकरिक सूत्रों के मुताबिक जिले के खुर हाजीपोरा गांव में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना के आधार पर राष्ट्रीय राइफल्स, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और जम्मू कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह ने सुबह अभियान शुरू किया।

इसी दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई में गोलियां चलाईं। दोनों पक्षों के बीच चली इस मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए।

उन्होंने बताया कि किसी प्रकार के प्रदर्शन को रोकने के लिए अतिरिक्त सुरक्षा बलों को आसपास के इलाकों में तैनात किया गया है। इस बीच गलियों में उतर आए बहुत से ग्रामीण, विशेषकर युवकों की उस समय सुरक्षा बलों से झड़प हो गई। सुरक्षा बल के जवानों ने उन्हें मुठभेड़ स्थल की ओर बढ़ने से रोक दिया।

जम्मू। जहां एक तरफ पूरी दुनिया में कोरोना का कहर चल रहा है वहीं जम्मू-कश्मीर में आये दिन आतंकियों और हमारे भारतीय जवानो के बीच मुठभेड़ जारी है। एकबार फिर जम्मू कश्मीर के कुलगाम में हुई एक मुठभेड़ में सुरक्षकर्मियों ने इस्लामिक स्टेट से प्रेरित आतंकवादी संगठन आईएसजेके (इस्लामिक स्टेट ऑफ जम्मू एंड कश्मीर) के दो आतंकवादियों को मार गिराया है। आतंकियों की पहचान आदिल अहमद वानी उर्भ अबु इब्राहिम और शाहहीन बाशिर थोकेर के रूप में हुई है। सूत्रों ने बाताया कि दोनों आतंकवादी आईएसजेके से जुड़े हुए थे। दोनों आतंकी कश्मीर के शोपियां जिले के रहने वाले थे। वानी 12 सितंबर 2017 से एक्टिव था तो थोकेर पिछले साल 15 अगस्त को आतंकी संगठन में शामिल हुआ था। सूत्रों ने बताया कि थोके लश्कर ए तैयबा को छोड़कर आईएसजेके में शामिल हुआ था। आधिकरिक सूत्रों के मुताबिक जिले के खुर हाजीपोरा गांव में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना के आधार पर राष्ट्रीय राइफल्स, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और जम्मू कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह ने सुबह अभियान शुरू किया। इसी दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी शुरू कर दी। सुरक्षा बलों ने भी जवाबी कार्रवाई में गोलियां चलाईं। दोनों पक्षों के बीच चली इस मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए। उन्होंने बताया कि किसी प्रकार के प्रदर्शन को रोकने के लिए अतिरिक्त सुरक्षा बलों को आसपास के इलाकों में तैनात किया गया है। इस बीच गलियों में उतर आए बहुत से ग्रामीण, विशेषकर युवकों की उस समय सुरक्षा बलों से झड़प हो गई। सुरक्षा बल के जवानों ने उन्हें मुठभेड़ स्थल की ओर बढ़ने से रोक दिया।